governor

बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन ने राज्यपाल से की शिष्टाचार भेंट

122 0

देहरादून। राज्यपाल (Governor) लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से.नि.) से बुधवार को राजभवन में बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन (Lakshya Sen) और उनके परिवार जनों ने मुलाकात की। राज्यपाल (Governor) ने लक्ष्य को थॉमस कप के विजेता बनने पर बधाई दी और उन्हें स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया।

इस मौके पर राज्यपाल (Governor) ने लक्ष्य (Lakshya Sen) की इस शानदार सफलता को उत्तराखंड के लिए एक प्रेरणा बताया। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड के युवाओं में वह क्षमता है कि वे किसी भी सफलता को प्राप्त कर सकते हैं।

उन्होंने (Governor)  कहा कि थॉमस कप (Thomas Cup) में लक्ष्य की ऐतिहासिक जीत यह साबित करती है कि उत्तराखंड के युवाओं की प्रतिभा की कोई कमी नहीं है। उत्तराखंड के युवा भी बड़ी से बड़ी उपलब्धि हासिल कर सकते हैं, इस बात को लक्ष्य ने साबित कर दिया है।

 

उन्होंने कहा कि हमारे युवाओं को यह ध्यान में रखना होगा कि सफलता का कोई शॉर्ट कट नहीं होता, लक्ष्य के दादा, पिता की लगन और मेहनत के बाद लक्ष्य ने बैडमिंटन के क्षेत्र में बड़ी उपलब्धियां हासिल की हैं। उन्होंने लक्ष्य को उत्तराखंड के युवाओं का आईकॉन बताया है। राज्यपाल ने लक्ष्य के माता-पिता को भी लक्ष्य की उपलब्धि के लिए बधाई दी और कहा कि उनके योगदान के कारण ही यह उपलब्धि प्राप्त हुई है।

प्रधानमंत्री को अल्मोडा की प्रसिद्ध बाल मिठाई भेंट कर राज्य को दी पहचान : धामी

लक्ष्य सेन (Lakshya Sen) ने अपने विचार साझा करते हुए कहा कि बैडमिंटन के क्षेत्र में यह उपलब्धि प्रेरणा देने वाली है। उन्होंने बताया कि बचपन से यही सोचता था कि जब दूसरे लोग जीत हासिल कर सकते हैं तो हम क्यों नहीं, इस विचार पर एकाग्र रहकर मैंने बडे़ से बड़े खिलाड़ियों के साथ बैटमिंटन खेला और इसी का परिणाम है कि मैं थामस कप का विजेता बन सका।

governor

उन्होंने राज्यपाल से साथी खिलाड़ियों और सहयोगियों का भी जिक्र किया और बताया कि हमारी टीम की यही भावना और विश्वास था कि अपने देश को जीत दिलानी है। उन्होंने उत्तराखंड के युवाओं के लिए संदेश देते हुए बताया कि यदि एक लक्ष्य निर्धारित कर निरंतर प्रयास किया जाए तो असंभव कुछ भी नहीं है। राज्यपाल ने लक्ष्य सेन को आगामी ओलंपिक खेलों के लिए भी शुभकामनाएं दी।

मुख्य सचिव ने सेंटर ऑफ एक्सीलेंस की तर्ज पर कार्य करने की दिए निर्देश

लक्ष्य (Lakshya Sen) के पिता डी.के.सेन ने अल्मोड़ा बैडमिंटन कोर्ट का नाम लक्ष्य के दादा के नाम पर रखने, उत्तराखंड में एक बैडमिंटन अकादमी की स्थापना की इच्छा जताई। साथ ही यह भी बताया कि देहरादून में नवनिर्मित बैडमिंटन हाल अभी किसी को भी आवंटित नहीं हुआ है, उस कोर्ट को उत्तराखंड बैडमिंटन एसोसिएशन को ट्रेनिंग प्रोग्राम संचालित करने के लिए आवंटित कर दिया जाए ताकि उत्तराखंड के बच्चों को बैडमिंटन की कोचिंग सुलभ हो सके।

governor

इस अवसर पर उत्तरांचल बैडमिंटन एसोसिएशन की अध्यक्ष अलकनंदा अशोक,उनके पिता डी.के.सेन व माता निर्मला सेन भी उपस्थित रहीं।

Related Post

‘पुलिस अफसरों का सत्ताधारी दलों के साथ गठजोड़ परेशान करने वाला’- SC की कड़ी टिप्‍पणी

Posted by - August 27, 2021 0
पुलिस अफसरों के सत्ताधारी दलों के साथ गठजोड़ पर सुप्रीम कोर्ट ने चिंता जताई है, CJI एनवी रमना ने कहा…