नितिन गडकरी

पेट्रोल और डीजल के अलावा इन ईंधनों पर चलेगी गाड़ियां : नितिन गडकरी

147 0

नई दिल्ली। भारत में जल्द एथेनॉल, मेथेनॉल, बायोडीजल, सीएनजी, एलएनजी और हाइड्रोजन का प्रयोग ईंधन के रूप में होगा। इससे पेट्रोल और डीजल पर निर्भरता कम होगी। इसका लाभ यह होगा कि ऑटोमोबाइल सेक्टर में बूम आएगा और हमारी अर्थव्यवस्था 50 खरब की होगी।

देश के विकास और मैन्यूफैक्चरिंग में सबसे बड़ी भूमिका ऑटोमोबाइल सेक्टर की

यह बात Auto Expo 2020 (ऑटो एक्सपो 2020) का औपचारिक शुभारंभ करने पहुंचे सड़क परिवहन एवं राजमार्ग केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कही।  उन्होंने कहा कि देश के विकास और मैन्यूफैक्चरिंग में सबसे बड़ी भूमिका ऑटोमोबाइल सेक्टर की है। इससे सरकार को सर्वाधिक राजस्व मिलता है। ऑटोमोबाइल सेक्टर की मदद के लिए सरकार पूरी तरह कटिबद्ध है। उन्होंने बताया कि जब छह साल पहले मैं मंत्री बना था, तभी मैंने वैकल्पिक ईंधन की बात कही थी। कुछ लोगों को यह बात अटपटी लगी थी, लेकिन ई-व्हीकल विकल्प के तौर पर सामने आए हैं।

कोरोना वायरस से सबसे पहले आगाह करने वाले डॉक्टर की मौत, अस्पताल ने की पुष्टि 

बता दें कि कुछ दिन पहले ही मैंने दो इलेक्ट्रिक बाइक लांच की थी। उन्होंने बताया कि 15 प्रतिशत एथेनॉल पेट्रोल और डीजल में भी डाला जाएगा। नीति आयोग का नोट कैबिनेट के सामने आया है। इस पर जल्द ही निर्णय लिया जाएगा। केंद्रीय मंत्री ने अधिक समय तक ऑटो एक्सपो में इनोवेशन देखने की इच्छा जताई। उन्होंने बताया कि देश में 1.40 लाख किमी तक हाईवे बन चुका है। शीघ्र ही 40 हजार किमी तक का निर्माण और होगा।

1.80 लाख किमी हाईवे हो जाएगा

पहले देश में हाईवे 96 हजार किमी था। अब वह एक लाख 40 हजार किमी हो गया है। 40 हजार किमी हाईवे और बढ़ाया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस पर तेजी से कम चल रहा है। दिल्ली-मुंबई हाईवे के लिए जमीन का 100 प्रतिशत अधिग्रहण कर लिया गया है। तीन साल में इसका काम पूरा हो जाएगा। इसकी 1.3 लाख करोड़ रुपये लागत आएगी। इसके बनने के बाद मुंबई से दिल्ली की दूरी 280 किमी कम हो जाएगी।

कार से केवल 12 घंटे में दोनों शहरों के बीच दूरी तय की जा सकेगी। दिल्ली-मेरठ हाईवे बन चुका है। दिल्ली से मुंबई, चेन्नई से बंग्लौर, दिल्ली से कटरा, अमृतसर से जामनगर हाईवे पर काम चल रहा है। बताया कि दिल्ली से मुंबई के लिए 16 हजार करोड़ रुपये की बचत की है। दिल्ली, महाराष्ट्र, राजस्थान, मध्यप्रदेश में भूमि सस्ती मिली है। दिल्ली-मुंबई कॉरिडोर देश के विकास में अहम साबित होगा।

गडकरी ने कहा कि ई-व्हीकल पर जीएसटी काफी कम की

गडकरी ने कहा कि उद्यमियों की अपील पर वित्त मंत्री ने ई-व्हीकल पर जीएसटी काफी कम की है। वित्त मंत्री से अपील की गई है कि वैकल्पिक ईंधन के क्षेत्र में व्यापक शोध किए जाएं। हम पूरा सहयोग करेंगे। उन्होंने बताया कि भारत स्क्रैप से ही काफी मात्रा में कॉपर और एल्मूनियम एकत्र कर लेता है। जल्द ही दूसरे देशों से भी लिया जाएगा।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि औद्योगिक हब, मेडिकल यूनिवर्सिटी और स्मार्ट टाउनशिप को शीघ्र विकसित होगा

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि औद्योगिक हब, मेडिकल यूनिवर्सिटी और स्मार्ट टाउनशिप को शीघ्र विकसित किया जाएगा। इंडस्ट्रियल हब विकसित करने में उद्यमी सरकार की मदद करें। उन्होंने कहा कि हमारे मंत्रालय की आय फिलहाल 40 हजार करोड़ रुपये सालाना है। इसे एक लाख रुपये सालाना करना है। आय बढ़ाने के लिए 2000 पेट्रोल पंप देश में लगाए जाएंगे। इसमें भूमि हमारी और पंप कंपनी का होगा। इससे हमें राजस्व मिलेगा। उन्होंने कहा कि एमएसएमई की 1984 से जो परिभाषा थी, जल्द ही संसद में इसकी घोषणा कर बदला जाएगा।

Loading...
loading...

Related Post

1984 सिख विरोधी दंगे :उम्रकैद की सजा मिलने के बाद सज्जन ने छोड़ी कांग्रेस

Posted by - December 18, 2018 0
नई दिल्ली। मंगलवार को सज्जन कुमार ने राहुल गांधी को पत्र लिखकर कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया।…

उत्तराखंड: टिहरी पहुंचे सीएम योगी , पुराने दिनों को याद कर हुए खुश

Posted by - November 3, 2019 0
टिहरी। उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ उत्तराखंड के टिहरी में आयोजित रैबार सम्मेलन में पहुंचे जहां उन्होंने अपने पुराने…

महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर पीएम, सोनिया सहित कई नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

Posted by - October 2, 2019 0
नई दिल्ली। महात्मा गांधी की आज देशभर में 150वीं जयंती मनाई जा रही है। इस मौके पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया…