SACHIN WAZE

एंटीलिया मामला में 12 घंटे की पूछताछ के बाद सचिन वाजे गिरफ्तार

228 0

मुंबई । उद्योगपति मुकेश अंबानी के दक्षिण मुंबई स्थित आवास के पास विस्फोटकों से लदी एक एसयूवी मिलने के मामले (Antilia case) की जांच कर रही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने मुंबई पुलिस के अधिकारी सचिन वाजे को 12 घंटे से अधिक समय तक पूछताछ करने के बाद शनिवार रात गिरफ्तार कर लिया। एनआईए उसे आज कोर्ट में पेश करेगी।

पंजाब के जेल मंत्री ने मुख्तार अंसारी के परिवार से की गुपचुप बात, वीडियो वायरल

सचिन वाजे दक्षिण मुंबई में कंबाला हिल स्थित एजेंसी के दफ्तर में पूर्वाह्न करीब साढ़े 11 बजे अपना बयान दर्ज कराने के लिए पहुंचे थे।

एनआईए (NIA) के प्रवक्ता ने कहा कि सचिन वाजे को रात 11 बजकर 50 मिनट पर एनआईए मामला आरसी/1/2021/एनआईए/एमयूएम में गिरफ्तार कर लिया गया।

कार्माइकल रोड स्थित अंबानी के आवास(Antilia case) के पास खड़ी एक एसयूवी (स्कॉर्पियो) में 25 फरवरी को जिलेटिन की कुछ छड़ें और एक धमकी भरा पत्र मिला था।

एनआईए (NIA) ने कहा कि वाजे को 25 फरवरी को विस्फोटकों से भरा वाहन खड़ा करने में भूमिका निभाने और इसमें संलिप्त रहने को लेकर गिरफ्तार किया गया।

एनकाउंटर स्पेशलिस्ट वाजे, ठाणे निवासी व्यवसायी मनसुख हिरेन की मौत मामले में भी सवालों के घेरे में हैं. उक्त स्कॉर्पियो हिरानी के पास ही थी। हिरेन पांच मार्च को ठाणे जिले में क्रीक में मृत पाये गए थे।

आतंकवाद रोधी दस्ता(ATS) हिरेन मामले की जांच कर रहा है। हिरेन का शव मिलने के कुछ दिनों बाद एटीएस ने अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी।

शनिवार को वाजे का बयान दर्ज करते हुए एनआईए  (NIA) ने एसयूवी मिलने और हिरन की कथित हत्या के मामलों में अब तक की गई जांच के बारे में जानकारी साझा करने के लिए अपराध शाखा के एसीपी नितिन अलकनुरे और एटीएस एसीपी श्रीपद काले को बुलाया था।

अलकनुरे और काले करीब चार घंटे बाद एनआईए (NIA) कार्यालय से चले गए। इस मामले में मुंबई पुलिस के कुछ और अधिकारियों से पूछताछ किए जाने की संभावना है।

जानें क्या है मामला

उद्योगपति मुकेश अंबानी के दक्षिण मुंबई स्थित घर के बाहर 25 फरवरी को एक वाहन में विस्फोटक पदार्थ मिला था। वह वाहन हिरेन का था।

ठाणे में हिरेन का शव मिलने के बाद मामले में रहस्य और गहरा गया था। हिरेन की पत्नी ने दावा किया था कि उनके पति ने नवंबर में वाजे को अपनी कार दी थी, जिसे मुंबई अपराध शाखा में तैनात रहे अधिकारी ने फरवरी के पहले सप्ताह में लौटाया था।

Loading...
loading...

Related Post

Supreame Court

SC ने कहा- सरकार से जुड़े लोग, अधिकारी राज्य निर्वाचन आयुक्त के तौर पर काम नहीं कर सकते

Posted by - March 12, 2021 0
नई दिल्ली । उच्चतम न्यायालय ने शुक्रवार को कहा कि केंद्र या राज्य सरकार की नौकरी करने वाला (State Election…