AK Sharma

नगर विकास मंत्री ने शहरों में जलनिकासी के लिए सम्बन्धित विभागों से समन्वय बनाकर कार्यवाही करने के दिए निर्देश

84 0

लखनऊ। नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री ए.के.शर्मा (AK Sharma) ने मानसून के दौरान एवं वर्षा ऋतु में शहरों में जलभराव एवं जलनिकासी की समस्याओं पर संबंधित विभागों से समन्वय स्थापित करके निराकरण के निर्देश दिए। उन्होंने नगरों की नाले व नालियों की सफाई के लिए माइक्रोप्लान बनाकर जलनिकासी हेतु समुचित प्रबंध करने को कहा तथा सभी नालों का ब्यौरा जुटाने के भी निर्देश दिए।

नगर विकास मंत्री ए.के.शर्मा (AK Sharma) ने आज फील्ड हास्टल संगम में विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक कर शहरी जलनिकासी, नाले-नालियों की सफाई, जलभराव आदि समस्याओं को लेकर बैठक की। उन्होंने कहा कि प्रत्येक वर्ष लखनऊ नगर के नागरिकों को बरसात में जलभराव की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। जल भराव से सम्बन्धित कई समस्याओं का समाधान विभिन्न विभाग के समन्वय एवं समेकित प्रयास से ही हो सकता है अतः सभी को मिलकर इस समस्या का समाधान करना होगा।

बैठक में नगर आयुक्त लखनऊ द्वारा नगर में जलनिकासी की विभिन्न विभागों से सम्बन्धित समस्याओं का बिन्दुवार प्रस्तुतीकरण किया गया है। नगर विकास मंत्री (AK Sharma) ने प्रस्तुतिकरण में आयी समस्याओं के त्वरित निदान के लिए अहम निर्देश दिए।

लखनऊ में 1090 चौराहे के पास हैदर कैनाल के गोमती नदी के मिलान बिन्दु पर निर्मित आर0सी0सी0 वॉल के कारण हैदर कैनाल में बहाव बाधित होने के सम्बन्ध में नगर आयुक्त द्वारा अवगत कराया गया एवं इसको तोड़े जाने का अनुरोध किया गया। इस पर मुख्य अभियन्ता सिंचाई विभाग को नगर निगम के साथ संयुक्त निरीक्षण कर तकनीकी परीक्षणोपरान्त समस्या के समाधान हेतु निर्देशित किया गया। इसके साथ ही इस स्थल के निकट जल निगम द्वारा निर्माणाधीन एस.टी.पी. के कारण हैदर कैनाल का बहाव बाधित होने के दृष्टिगत 15 जून तक बहाव खोले जाने हेतु प्रतिबद्धता दी गयी।

विद्युत उपभोक्ताओं को बड़ी राहत, आंशिक भुगतान कर जुड़वा सकते हैं कनेक्शन

इसी प्रकार सीतापुर रोड पर हाथी बाबा मंदिर के पास बनी कल्वर्ट के क्षतिग्रस्त होने के दृष्टिगत जलनिकासी न होने के कारण उक्त पुलिया के पुर्ननिर्माण हेतु लोक निर्माण विभाग को निर्देशित किया गया। सहायक अभियन्ता, लोक निर्माण विभाग द्वारा शीघ्र कार्य कराये जाने हेतु प्रतिबद्धता दी गयी। कठौता चौराहे से एलपीएस मोड़ तक नाला निर्माण कार्य लखनऊ विकास प्राधिकरण द्वारा प्रगतिधीन है जिसे अधीक्षण अभियन्ता, लखनऊ विकास प्राधिकरण द्वारा 15 जून से पूर्व पूर्ण करने हेतु प्रतिबद्धता दी गयी।

नगर विकास मंत्री (AK Sharma) द्वारा केसरी खेड़ा में रेलवे ट्रैक के किनारे नाला सफाई की समस्या तथा क़िला मोहम्मदी नाले को रेलवे ट्रैक क्रासिंग की समस्याओं के समाधान हेतु सिंचाई विभाग के अधिकारियों की पृथक से बैठक कराने हेतु निर्देशित किया गया।

गुरुनानक नगर, बाबू कुंज बिहारी व गीतापल्ली वार्ड में जल निगम द्वारा बिछाई जा रही सीवर लाइन के कारण यहां नाला सफाई न होने से जलभराव की समस्या है। जल निगम द्वारा इस क्षेत्र के समस्त कार्य अग्रिम 15 जून, 2023 तक पूर्ण करने की प्रतिबद्धता दी गयी।

क़िला मोहम्मदी नाले के शहीद पथ के क्रासिंग स्थल पर कल्वर्ट का सेक्शन पर्याप्त न होने तथा लेवेल ऊॅचा होने की समस्या के समाधान हेतु नगर विकास मंत्री द्वारा एन.एच.ए.आई. को निर्देशित किया गया। पी.डी.-एन.एच.ए.आई. द्वारा इस समस्या के समाधान हेतु शीर्ष प्राथमिकता पर कार्यवाही किये जाने हेतु प्रतिबद्धता दी गयी।

क़िला मोहम्मदी नाले के एलाइनमेन्ट में कई जगह काफी अतिक्रमण होने तथा इसकी समुचित सफाई न होने से जलभराव की समस्या के समाधान हेतु मा0 मंत्री जी द्वारा सिंचाई विभाग को इसकी समुचित सफाई हेतु निर्देश दिये गये तथा अतिक्रमण हटाने हेतु सिंचाई विभाग, नगर निगम व जिला प्रशासन को संयुक्त अभियान चलाकर कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया।

टेढ़ीपुलिया चौराहे से मुंशीपुलिया होते हुए पॉलिटेक्निक चौराहे तक पी.डब्लू.डी. एन.एच. खण्ड द्वारा निर्मित किये जा रहे फ्लाइओवर तथा नाले की रीटेनिंग वार के कार्य के कारण जलनिकासी बाधित होने की समस्या के समाधान हेतु लोक निर्माण विभाग को 15 जून, 2023 तक कार्य पूर्ण करने हेतु निर्देशित किया गया।

कुकरैल नदी में जल निगम द्वारा किये जा रहे कार्य के कारण नदी का बहाव बाधित है जिसे जल निगम द्वारा 15 जून, 2023 तक खोले जाने की प्रतिबद्धता दी गयी। नगर विकास मंत्री द्वारा यह भी निर्देशित किया गया कि लोक निर्माण विभाग एवं सिंचाई विभाग कुकरैल नदी के सभी बैरलों का संयुक्त निरीक्षण कर लंे तथा उनसे सम्बन्धित सभी कार्य 15 जून, 2023 तक पूर्ण करायें।

मंत्री जी द्वारा पुनः 15 दिन बाद जलनिकासी सम्बन्धी समस्त सन्दर्भों के समाधान की प्रगति के अवलोकन हेतु सभी विभागों की एक संयुक्त बैठक पुनः आहूत करने हेतु निर्देशित किया गया।

बैठक में प्रमुख सचिव नगर विकास अमृत अभिजात, सचिव नगर विकास रंजन कुमार, प्रबन्ध निदेशक जल निगम, निदेशक नगरीय निकाय नेहा शर्मा, अपर आयुक्त लखनऊ मण्डल, नगर आयुक्त लखनऊ, अपर सचिव एवं अधीक्षण अभियन्ता लखनऊ विकास प्राधिकरण, विशेष सचिव लोक निर्माण विभाग, अपर जिलाधिकारी लखनऊ, मुख्य अभियन्ता सिंचाई विभाग, अधीक्षण अभियन्ता गोमती प्रदूषण नियंत्रण इकाई उत्तर प्रदेश जल निगम, परियेाजना निदेशक भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण, सहित अन्य विभिन्न विभागों के अधिकारी/अभियन्ता उपस्थित थे।

Related Post

Cm Yogi

कोरोना का कहर : मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री जिलों का करेंगे दौरा

Posted by - April 8, 2021 0
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath)  ने कोविड-19 सम्बन्धी सभी सेवाओं और गतिविधियों को इण्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड…
ममता बनर्जी

‘बरमूडा’ वाले बयान पर ममता का पलटवार- कोई क्या पहनता है ये उसकी मर्जी

Posted by - March 25, 2021 0
कोलकाता। पश्चिम बंगाल के पाथरप्रतिमा में बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) ने गुरुवार को चुनावी सभा को संबोधित…