Corona News

कोरोना की बेकाबू रफ्तार के बीच अस्पतालों में कालाबाजारी! एक बेड के लिए लग रही 30 से 60 हजार की बोली

64 0

लखनऊ। अब तक तो दवाओं और रेमडेसिविर के इंजेक्शन की कालाबाजारी (Remdesivir Injection Black Marketing) की खबरें ही सामने आ रही थीं अब बेड बेचे जाने की खबर आने से हड़कंप मचा हुआ है।

आगरा में एक तरफ जहां मरीजों को अस्पतालों में इलाज नहीं मिल पा रहा है तो वहीं दूसरी तरफ दवा से लेकर बेडों तक की कालाबाजारी धड़ल्ले से चल रही है।

यूपी में कोरोना की बेकाबू होती रफ्तार (UP Corona Cases) के बीच एक तरफ जहां मरीजों को अस्पतालों में इलाज नहीं मिल पा रहा है तो वहीं दूसरी तरफ दवा से लेकर बेडों तक की कालाबाजारी (Bed Black marketing In Agra Hospitals) धड़ल्ले से चल रही है।

ऐसा ही मामला आगरा से सामने आया है। यहां मरीजों की स्थिति के हिसाब से बेडों की कीमत वसूली जा रही है। छोटे अस्पतालों में बेड करीब 30 हजार रुपये प्रतिदिन पर मिल रहे हैं। वहीं बड़े अस्पतालों का मोलभाव फोन पर नहीं हो रहा है।

छोटे अस्पतालों में मरीजों से बेड के बदले दिन के करीब 30 हजार रुपये आसानी से वसूले (30 Thousand जा रहे हैं। इसमें दवाओं को खर्चा शामिल नहीं हैं। महंगे रेमडेसिविर के इंजेक्शन के लिए अलग से चार्ज देना होगा। अब तक तो दवाओं और रेमडेसिविर के इंजेक्शन की कालाबाजारी की खबरें ही सामने आ रही थीं अब बेड बेचे जाने की खबर सामने आने से हड़कंप मचा हुआ है।

कोरोना मरीजों के लिए बेड की बोली

वहीं बड़े अस्पातलों की कीमत वहां पहुंचने के बाद ही तय होती है। पर्चियों पर लिखकर मरीजों की जान का सौदा अस्पताल कर रहे हैं। खबर है कि इन अस्पतालों में बड़ी कीमत वसूली जा रही है, जो करीब 40 हजार से भी ज्यादा है। मरीजों की स्थिति के हिसाब से पैसे वसूले जा रहे हैं। 60 हजार तक वसूले जा रहे हैं।

इस बात का भी खुलासा हुआ है कि अगर कोई भी मरीज ज्यादा पैसे देने को तैयार हो जाता है तो ये लालची अस्पताल पुराने मरीज को किसी भी बहाने से वहां से बाहर कर देते हैं और ज्यादा पैसे देने वाले मरीज को भर्ती कर लेते हैं। पुराने मरीज को बाहर निकालने के लिए मुनाफाखोर अस्पताल परेशानी का इलाज न होने की बात कहकर उनसे पल्ला झाड़ लेते है. उन्हें इतना डरा देते हैं कि वह खुद ही दूसरे अस्पताल में शिफ्ट होने के लिए मजबूर हो जाते हैं।

डरा रही अस्पतालों की मुनाफाखोरी

यूपी में लगातार बढ़ रहे संक्रमण के मामलों के बीच आगरा के अस्पतालों में इस तरह की मुनाफाखोरी डरा देने वाली है। राज्य में पिछले चौबीस घंटों में कोरोना के 33 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं। वहीं 187 मरीजों की जान गई है. 33,214 ताजा मामले सामने आने से हड़कंप मचा हुआ है। राज्य में फिलहाल कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 942511 हो गई है। वहीं महामारी से अब तक 10346 लोगों की जान जा चुकी है। यूपी में फिलहाल कुल 24,2265 एक्टिव मामले हैं।

Related Post