Lucknow

 UP में मिले 2,218 नए मरीज, ऑक्सीजन सिलेंडर की किल्लत

125 0
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। प्रदेश में बुधवार की सुबह ही कोरोना के 2,218 नए मरीज सामने आए हैं। संक्रमण को रोकने के लिए शासन-प्रशासन लगातार प्रयास कर रहा है, उसके बावजूद भी कईयों को उचित इलाज नहीं मिल पा रहा है। प्रदेश में कोविड अस्पताल फुल हैं और ऑक्सीजन सिलेंडर की भी भारी कमी (Shortage of oxygen cylinder) देखी जा रही है।

 तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमित मरीजों से प्रदेश में भयावह स्थिति पैदा हो चुकी है। शासन-प्रशासन की कोशिशों को बावजूद कोरोना की चेन ब्रेक नहीं हो रही है। हर रोज हजारों मरीज संक्रमण की जद में आ रहे हैं। कोविड अस्पताल फुल हैं। इलाज के अभाव में आइसोलेशन के मरीज भी गंभीर हो रहे हैं। उन्हें ऑक्सीजन के लिए जूझना पड़ रहा है। राज्य में बुधवार सुबह 2,218 नए केस रिपोर्ट किए गए। इनमें करीब 200 मरीजों की स्थिति गंभीर है।

गंभीर मरीजों को अभी कमांड सेंटर से कॉल तक नहीं आई है। मंगलवार को भी 250 गंभीर मरीजों को बेड नहीं मिल सका था। ऐसे में इलाज की व्यवस्था चौपट है। अफसर कागजों पर रोजाना कोविड अस्पताल बनाकर सरकार को बरगला रहे हैं। वहीं आमजन में इलाज के लिए हाहाकार मचा हुआ है। होम आइसोलेशन के मरीजों के घर दवाएं नहीं पहुंच रही हैं। बाजार में भी संकट है। उधर, ऑक्सीजन प्लांटों पर सुबह से लेकर देर रात तक भीड़ जुटी रहती है। कई जगहों पर परेशान तीमारदार हंगामा कर रहे हैं।

एक नजर इन आंकड़ों पर

राज्य भर में वायरस का प्रकोप है। वहीं लखनऊ समेत 12 जनपद संक्रमण में टॉप पर हैं। राज्य में पिछले साल 11 सितंबर को सर्वाधिक मरीज 7,103 पाए गए थे। वहीं इस साल हर रोज नए रिकॉर्ड बन रहे हैं। 14 अप्रैल को 20,510 मरीज पाए गए थे। 16 अप्रैल को 27 हजार 426. 17 अप्रैल को 27, 357 मरीज मिले। वहीं 18 अप्रैल को सबसे अधिक 30,596 मरीज व 129 मरीजों की मौतें हुईं।

सोमवार को 28 हजार 287 मरीज पाए गए, तो वहीं 24 घंटे में सर्वाधिक 167 मौतें हुईं। पिछले साल सितम्बर में सबसे अधिक 113 कोरोना से मौतें हुई थीं। वहीं पिछले 24 घंटे में 14, 391 मरीजों ने वायरस को हराने में कामयाबी हासिल की। वर्तमान में दो लाख 23 हजार व 544 एक्टिव मामले हैं। मंगलवार को 29,754 मरीज सामने आए और 162 की मौतें हुई थीं।

अस्पतालों में ऑक्सीजन आपूर्ति

अस्पताल में ऑक्सीजन संकट दूर करने के लिए सरकार के प्रयास जारी हैं। राज्य में औद्योगिक इकाइयों में ऑक्सीजन प्रयोग पर रोक लग गई। वहीं 90 इकाइयों को 285 अस्पतालों से जोड़ दिया गया है। यह स्थानीय स्तर पर अस्पतालों में ऑक्सीजन आपूर्ति करेंगी।

Related Post

पीएम नरेंद्र मोदी

लोकसभा चुनाव 2019 : वाराणसी में पीएम नरेंद्र मोदी का रोड शो शुरू, उमड़ा जनसैलाब

Posted by - April 25, 2019 0
वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीएचयू गेट पहुंचकर मदन मोहन मालवीय की प्रतिमा पर माल्‍यार्पण किया। यहां से पीएम का…
डीजीपी

यूपी में हिंसा करने वाले नहीं बख्शे जाएगें, होगी कड़ी कार्रवाई : डीजीपी ओपी सिंह

Posted by - December 21, 2019 0
लखनऊ। संशोधित नागरिकता कानून के विरोध में शनिवार को यूपी में हुई हिंसा पर डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि…
Omar Abdullah

पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला कोरोना टेस्ट में हुए निगेटिव, ट्वीट कर सबको कहा धन्यवाद

Posted by - April 27, 2021 0
नई दिल्ली। नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता और जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला (Omar Abdullah) कोरोना संक्रमण से पॉजिटिव होने…
प्रमोशन में आरक्षण

प्रमोशन में आरक्षण के खिलाफ भीम आर्मी का सुप्रीम कोर्ट के खिलाफ मार्च

Posted by - February 16, 2020 0
नई दिल्ली। प्रोन्नति में आरक्षण पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ भीम आर्मी कार्यकर्ताओं ने रविवार को विरोध मार्च…