Wives

2 पत्नियों ने 3 साल तक रची पति की हत्या की साजिश, शूटर फरार

46 0

नई दिल्ली: दिल्ली परिवहन निगम (DTC) के एक कर्मचारी संजीव कुमार की गोली मारकर हत्या के मामले में पुलिस ने बड़ा खुलासा करते हुए बताया कि, इस हत्या के पीछे कोई और नहीं बल्कि दो बीवियों (Wives) ने मिलकर इस घटना को अंजाम दिया है। पुलिस ने बताया की, संजीव कुमार की हत्या के आरोपी में पहली पत्नी गीता (54), उसकी बेटी कोमल (21) और दूसरी पत्नी गीता उर्फ ​​नजमा (28) को गिरफ्तार किया गया है।

खबरों के मुताबिक, संजीव कुमार को दुर्घटनास्थल से मृत लाया गया है। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस तो अस्पताल में देखा कि मृतक को पत्नी गीता देवी उर्फ नजमा लेकर आई थी। गीता देवी ने बताया कि पति और बेटे के साथ बाइक पर सब्जी मंडी से घर वापस आ रही थी, तभी पति दुर्घटना का शिकार हो गया। अधिकारी ने कहा कि पत्नी पति को गोली लगने की बात छुपा रही थी। डीसीपी के मुताबिक गीता देवी उर्फ नजमा जांच को गलत दिशा में मोड़ने की कोशिश कर रही थी।

पुलिस को सुराग तब मिला जब गीता देवी उर्फ नजमा ने संजीव की बाइक की नंबर प्लेट की तस्वीर हटा दी थी। पुलिस को जब शक हुआ तब पता चला कि उसने उस तस्वीर को शार्प शूटर के साथ शेयर किया था और फिर डिलीट कर दिया। अधिकारी ने कहा, शार्प शूटर ने ट्रांजिट कैंप के दीपालय स्कूल के पास संजीव की गोली मारकर हत्या कर दी। घटना के बाद से अन्य आरोपी इकबाल और शार्प शूटर नईम फरार हैं, जिसकी तलाश पुलिस कर रही है।

कांवड़ यात्रा के रास्ते पर आने वाली मांस की दुकाने होंगी बंद!

पुलिस उपायुक्त (दक्षिण-पूर्व) ईशा पांडे ने कहा कि मजीदिया अस्पताल से छह जुलाई को सूचना मिली थी। पुलिस अधिकारी ने बताया कि, दोनों पत्नियों ने वारदात को अंजाम देने के लिए तीन साल तक साजिश रची थी। शार्प शूटर की मदद से अपने ही पति को मौत के घाट उतार दिया। पुलिस ने 45 वर्षीय पति के हत्या मामले में अब तक तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है, शार्प शूटर की तलाश की जा रही है।

शेयर बाजार के खुलते ही धड़ाम से गिरा भारतीय एयरटेल का शेयर

 

Related Post