bridge collapsed

11 साल पुराना पुल भरभरा कर गिरा

47 0

उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर जिले में सोमवार तड़के दो बजे रामगंगा नदी पर बना दो किमी लंबे पुल (bridge collapsed) का एक हिस्सा भरभरा कर ढह गया। गनीमत यह रही कि इस हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ।

जलालाबाद के कोला इलाके में बदायूं मार्ग पर स्थित दो किमी लंबा ओवरब्रिज (bridge collapsed) का एक हिस्सा सुबह लगभग तीन बजे तेज आवाज के साथ भरभरा कर ढह गया। दो दिन पहले ही इसी पुल पर एक ट्रक रेलिंग तोड़कर नदी पर बने इसी हिस्से पर लटक गया था। हादसे के वक़्त एक कार पुल पर थी मगर उसमें सवार सभी लोग सुरक्षित हैं।

शाहजहांपुर-दिल्ली मार्ग पर 2002 में करीब 11 करोड़ से रामगंगा नदी पर कोलाघाट पुल बनाने को मंजूरी मिली थी। वर्ष 2008 में इस पुल पर आवागमन भी शुरू हो गया था। करीब दो सालों से इस पुल पर कई जगह गड्ढे हो गए थे जिस वजह से लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था। कई बार स्थानीय ग्रामीणों ने इसको लेकर अधिकारियों को भी अवगत कराया लेकिन कोई ध्यान नहीं दिया गया।

सोमवार सुबह करीब तीन बजे पुल भरभरा कर रामगंगा नदी में गिर गया। गनीमत रही कि उस समय पुल पर कोई निकल नहीं रहा था। जिससे बड़ा हादसा होने से बच गया। पुल गिरने की जानकारी जलालाबाद व मिर्जापुर पुलिस को लगी तो मौके पर जाकर वाहनों को डायवर्ट कराना शुरू कर दिया। जलालाबाद जाने के लिए करीब 60 किमी का फेर खाकर अल्हागंज होकर जाना पड़ रहा है।

इस पुल का शिलान्यास 1992 में तत्कालीन मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने किया था। शिलान्यास के बाद से निर्माण नहीं कराया गया। इसका निर्माण बसपा शासन में वर्ष 2007 हुआ था। फिलहाल प्रशासन ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं।

Related Post

CM YOGI

UP में धारा 144 लागू, चुनाव प्रचार में 5 से ज्यादा लोग इकट्ठा होने पर होगी कार्रवाई

Posted by - April 5, 2021 0
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए यूपी सरकार ने नई गाइडलाइन जारी की गई है। यूपी…

एसटीएफ ने इनामी डकैत गौरी यादव को मुठभेड़ में किया ढेर, एके-47 बरामद

Posted by - October 30, 2021 0
चित्रकूट। उत्तर प्रदेश मध्य प्रदेश में आतंक का पर्याय बने साढ़े 5 लाख के इनामी कुख्यात दस्यु सरगना गौरी यादव…
अधिवक्ता का अपहरण कर उन्नाव में आरोपियों ने की हत्या

अधिवक्ता का अपहरण कर उन्नाव में आरोपियों ने की हत्या

Posted by - March 30, 2021 0
दो सगे भाईयों ने लखनऊ से एक अधिवक्ता का अपहरण कर उन्नाव में ले जाकर हत्या कर दी पुलिस ने शव उन्नाव के मौरावां क्षेत्र में सड़क किनारे बरामद कर लिया बीते शनिवार से अधिवक्ता लापता थे, पुलिस तलाश में लगी थी। पुलिस ने इस बारे में छानबीन में पता चला कि अधिवक्ता को उसके ही पड़ोसी अपने साथ ले गए हैं। इसके बाद पुलिस ने दोनों भाईयों को गिरफ्तार कर वारदात का खुलासा किया।मामला कैसरबाग थानाक्षेत्र के लालकुंआ, मकबूलगंज इलाके का है। यहां से अधिवक्ता नितिन तिवारी (35) का अपहरण कर हत्या कर दी गई। एडीसीपी पश्चिम राजेश कुमार श्रीवास्तव के मुताबिक नितिन तिवारी मकबूलगंज में रहते थे। होली के हुड़दंग का विरोध करने पर वकील पर फायरिंग बीते शनिवार को उनके भाई मयंक ने अपहरण की आशंका जताते हुए कैसरबाग कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस की कई टीमें उनकी लोकेशन ट्रेस करने के साथ ही पड़ताल में लगी थीं। इस बीच रविवार को नितिन का शव उन्नाव जनपद के मौरावां क्षेत्र के पिसंदा गांव में सड़क किनारे झाड़ियों में पड़ा मिला। उन्नाव पुलिस की सूचना पर मयंक के परिवारीजनों ने शव की शिनाख्त की। पड़ताल में पता चला कि नितिन को उनके पड़ोस में रहने वाले प्रवीण अग्रवाल और उसका भाई विपिन अग्रवाल अपने साथ कार से ले गया था। दोनों की तलाश शुरू हुई। इस बीच उन्नाव पुलिस ने मामले में हत्या का मुकदमा दर्ज कर प्रवीण और उसके भाई विपिन को गिरफ्तार कर लिया। उन्नाव के मौरावां थाने के इंस्पेक्टर ने बताया कि दोनों हत्यारोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। पोस्टमार्टम में अधिवक्ता की गला दबाने और सिर पर भारी वस्तु से प्रहार कर हत्या करने की पुष्टि हुई है। एटीएस को सौदागार सदर की पत्नी की तलाश…

भाजपा नेताओं ने जिस नरसिंहानंद को बताया हिन्दुओं का मसीहा अब वही दे रहा महिलाओं को गाली

Posted by - August 30, 2021 0
गाजियाबाद के डासना स्थित शिव शक्ति मंदिर के पुजारी यति नरसिंहानंद सरस्वती अपने एक वीडियो की वजह से विवादों में…