Digital Crop Survey

योगी सरकार ने दिए डिजिटल क्रॉप सर्वे में तेजी लाने के निर्देश

123 0

लखनऊ। प्रदेश में डिजिटल क्रॉप सर्वे (Digital Crop Survey) को लेकर योगी सरकार (Yogi Government) ने जिलों को और तेजी लाने के निर्देश दिए हैं। जिन 21 जिलों में सर्वे का कार्य पूर्ण हो चुका है, वहां डीएम की अगुवाई में सभी गांवों में क्रॉप सर्वे को समय से पूर्ण कराने के निर्देश दिए गए हैं। वहीं सर्वे के काम में तेजी लाने के लिए सर्वेयर की संख्या बढ़ाने को भी कहा गया है। यह भी निर्धारित किया गया है कि प्रति सर्वेयर माह में 1500 प्लॉट्स और 45 दिन में 2250 प्लॉट्स का सर्वे सुनिश्चित किया जाए। साथी ही, 54 जिलों के 10 राजस्व ग्रामों में आगामी 15 दिनों में सर्वे पूरा करने के भी निर्देश दिए गए हैं।

उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश में डिजिटल क्रॉप सर्वे (Digital Crop Survey)प्रगति पर है। इसके लिए स्टेट प्रोजेक्ट मैनेजमेंट यूनिट (एसपीएमयू) की स्थापना की गई है, जबकि 10 सेक्टर्स में हेल्प डेस्क भी संचालित की जा रही है। सर्वेयर्स को इंटरनेट कनेक्टिविटी और पावर पैक से जोड़ा गया है।

मिर्जापुर में सर्वाधिक प्लॉट्स का हुआ सर्वे

मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र के समक्ष कृषि विभाग के प्रस्तुतिकरण में बताया गया है कि 21 जिलों में डिजिटल क्रॉप सर्वे पूर्ण कर लिया गया है, जबकि 54 जिलों में यह प्रगति पर है। इसमें मिर्जापुर में सर्वाधिक 2607 प्लॉट्स में डिजिटल क्रॉप सर्वे कर लिया गया है। इसके बाद प्रतापगढ़ (2543), सुल्तानपुर (2370), जालौन (2047), झांसी (2027), फर्रूखाबाद (1486), फिरोजाबाद (1183), गाजीपुर (1147), देवरिया (1136) और ललितपुर (1124) शामिल है। मिर्जापुर में सर्वाधिक 17 राजस्व ग्रामों में डिजिटल क्रॉप सर्वे किया जा चुका है।

सटीक रिपोर्टिंग से कृषि सेक्टर की बढ़ेगी जीडीपी

डिजिटल क्राप सर्वे (Digital Crop Survey)की समीक्षा के दौरान मुख्य सचिव ने कहा कि सर्वे कार्य की सही रिपोर्टिंग राजस्व कर्मियों के काम को आसान और बेहतर बनाने के लिए डिजिटल टेक्नोलॉजी का प्रयोग कर ई-सर्वे कराया जा रहा है। उन्होंने ई-पड़ताल का नाम ई-खसरा (ई-पड़ताल) रखने के निर्देश दिए हैं।  उन्होंने कहा कि ई-पड़ताल के तमाम फायदे हैं। प्राप्त आंकड़ों का उपयोग प्लानिंग टूल के रूप में किया जाएगा। इससे न केवल फसल के सटीक आंकड़े प्राप्त होंगे और रियल टाइम होंगे, बल्कि किस फसल का उत्पादन कम है या अधिक होगा, इसकी जानकारी पहले से होने से कार्यवाही की जा सकेगी।

एक साल में उत्पादन शुरू कर सकता है यीडा टॉय पार्क

सटीक रिपोर्टिंग से जनपद के कृषि सेक्टर की जीडीपी भी बढ़ेगी। बैठक में बताया गया कि सभी 75 जनपदों (21 जनपदों में पूर्ण रूप से तथा 54 जनपदों के 10 राजस्व ग्राम) में खरीफ फसल के डिजिटल क्राप सर्वे का कार्य शुरू हो गया है। 534 राजस्व ग्रामों में सर्वे का कार्य चल रहा है। 75 राजस्व ग्रामों का सर्वे का कार्य पूर्ण भी हो चुका है। सर्वे में कहीं कोई बड़ी (मेजर) समस्या नहीं है, छोटी मोटी समस्याओं का हेल्प डेस्क द्वारा समाधान कराया जा रहा है। एप के माध्यम से बहुत आसानी से डाटा कलेक्शन हो रहा है।

Related Post

Deepotsav

दीपोत्सव 2023 : विदेशी कलाकारों की रामलीला रहेगी प्रमुख आकर्षण

Posted by - November 2, 2023 0
अयोध्या। सातवें दीपोत्सव (Deepotsav) को भव्यता प्रदान करने के लिए अयोध्या शोध संस्थान भी विभिन्न कार्यक्रमोंं का आयोजन करेगा। अयोध्या…

GIS की सफलता में बेहतरीन इंफ्रास्ट्रक्चर की बड़ी भूमिका: सीएम योगी

Posted by - March 13, 2023 0
गोरखपुर। केंद्रीय सड़क, परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) एवं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने सोमवार को…
Brajesh Pathak

जो कुनबा कभी सपा की ताकत था, आज वही सबसे बड़ी कमजोरी है: ब्रजेश पाठक

Posted by - August 5, 2022 0
लखनऊ। उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक (Brajesh Pathak) ने समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा…