Yogi

फल और सब्ज़ी की खेती करने वाले किसानों के लिए योगी सरकार की बड़ी योजना

113 0

लखनऊ: किसानों (Farmers) की आर्थिक दशा में सुधार करने के लिए केंद्र व राज्य सरकार लगातार प्रयास कर रही है। बड़े किसानों के लिए ही नहीं बल्कि फल और सब्ज़ी की खेती करने वाले छोटे और मझोले किसानों के लिए योगी सरकार ने बड़ी योजना बनाई है। योगी (Yogi 2.0) ने आलू, प्याज और टमाटर के न्यूनतम समर्थन मूल्य सुनिश्चित करने के लिए भामाशाह योजना (Bhamashah Scheme) बनाई गयी है। योगी सरकार (Yogi government) ने वर्ष 2022-23 के बजट में इसके लिए सौ करोड़ रुपए का प्रावधान किया है।

इस योजना के तहत सरकार भामाशाह भाव स्थिरता कोष बनायेगी जिससे आलू, प्याज और टमाटर का न्यूनतम समर्थन मूल्य निश्चित हो सकेगा। क्या तब है कि भाजपा ने अपने लोक संकल्प पत्र में भी इस योजना की रूपरेखा दी है। इसका सीधा लाभ उन किसानों को मिलेगा जो 2017 से पहले पिछली सरकारों की अकर्मण्यता से मुश्किलों का सामना कर रहे थे। दरअसल, इससे पूर्व जो किसान उक्त फसल बाज़ार में लाते थे वो उचित मूल्य न मिलने के कारण कर्जदार होते जा रहे थे।

जीबीसी3: आवास व कमर्शियल प्रॉपर्टी क्षेत्र में रौनक वापस

सीएम योगी ने इस योजना का लाभ किसानों तक पहुंचाने के लिए अधिकारियों को पूरी तन्मयता से कार्य करने का आदेश दिया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने अपने आदेश में स्पष्ट कहा कि इस कार्य में कोताही करने वाले किसी अधिकारी व कर्मचारी बख्शा नहीं जाएगा। अब इस योजना के जरिए किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य मिलेगा। वे अपनी फसल को कोल्ड स्टोरेज में रख सकते हैं और उचित मूल्य मिलने पर उत्पाद बेच सकते हैं।

फिट इंडिया रन में पहुंचे केन्द्रीय खेल मंत्री, झाड़ू लगाकर किया जागरूक

Related Post

यूपी: RSS कार्यकर्ता को थप्पड़ मारने के मामले में निलंबित हुए दरोगा पर जानलेवा हमला

Posted by - July 18, 2021 0
यूपी के बिजनौर में RSS कार्यकर्ता को थप्पड़ मारने के मामले में निलंबित चल रहे दरोगा अरुण कुमार पर शनिवार…
Cuts

जाम से निजात दिलाने के लिए इस सड़क पर आठ कट होंगे बंद

Posted by - June 13, 2022 0
लखनऊ: राजधानी लखनऊ (Lucknow) के कुर्सी रोड टेढ़ी पुलिया चौराहे से सृष्टि अपार्टमेंट सेक्टर-जे जानकीपुरम विस्तार तक डिवाइडर पर बने…

यूपी में नई जनसंख्या नीति का विमोचन करेंगे सीएम योगी, दो से अधिक बच्चों वालों की कटेंगी सुविधाएं

Posted by - July 11, 2021 0
सीएम योगी आदित्यनाथ रविवार को यूपी जनसंख्या नीति 2020-21 शुरुआत करेंगे, जनसंख्या स्थिरता पखवाड़े की गतिविधियां भी शुरु हो जाएंगी।…
अधिवक्ता का अपहरण कर उन्नाव में आरोपियों ने की हत्या

अधिवक्ता का अपहरण कर उन्नाव में आरोपियों ने की हत्या

Posted by - March 30, 2021 0
दो सगे भाईयों ने लखनऊ से एक अधिवक्ता का अपहरण कर उन्नाव में ले जाकर हत्या कर दी पुलिस ने शव उन्नाव के मौरावां क्षेत्र में सड़क किनारे बरामद कर लिया बीते शनिवार से अधिवक्ता लापता थे, पुलिस तलाश में लगी थी। पुलिस ने इस बारे में छानबीन में पता चला कि अधिवक्ता को उसके ही पड़ोसी अपने साथ ले गए हैं। इसके बाद पुलिस ने दोनों भाईयों को गिरफ्तार कर वारदात का खुलासा किया।मामला कैसरबाग थानाक्षेत्र के लालकुंआ, मकबूलगंज इलाके का है। यहां से अधिवक्ता नितिन तिवारी (35) का अपहरण कर हत्या कर दी गई। एडीसीपी पश्चिम राजेश कुमार श्रीवास्तव के मुताबिक नितिन तिवारी मकबूलगंज में रहते थे। होली के हुड़दंग का विरोध करने पर वकील पर फायरिंग बीते शनिवार को उनके भाई मयंक ने अपहरण की आशंका जताते हुए कैसरबाग कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस की कई टीमें उनकी लोकेशन ट्रेस करने के साथ ही पड़ताल में लगी थीं। इस बीच रविवार को नितिन का शव उन्नाव जनपद के मौरावां क्षेत्र के पिसंदा गांव में सड़क किनारे झाड़ियों में पड़ा मिला। उन्नाव पुलिस की सूचना पर मयंक के परिवारीजनों ने शव की शिनाख्त की। पड़ताल में पता चला कि नितिन को उनके पड़ोस में रहने वाले प्रवीण अग्रवाल और उसका भाई विपिन अग्रवाल अपने साथ कार से ले गया था। दोनों की तलाश शुरू हुई। इस बीच उन्नाव पुलिस ने मामले में हत्या का मुकदमा दर्ज कर प्रवीण और उसके भाई विपिन को गिरफ्तार कर लिया। उन्नाव के मौरावां थाने के इंस्पेक्टर ने बताया कि दोनों हत्यारोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। पोस्टमार्टम में अधिवक्ता की गला दबाने और सिर पर भारी वस्तु से प्रहार कर हत्या करने की पुष्टि हुई है। एटीएस को सौदागार सदर की पत्नी की तलाश…