WHO

कोरोना की जंग जीतने के लिए भारत के साथ आया विश्व स्वास्थ्य संगठन

285 0

नई दिल्ली। देश में कोरोनावायरस के मामले लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं। अब तक कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 12 हजार पार कर गई है। ऐसे में इस महामारी को मात देने के लिए भारत को विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) का साथ मिला है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन देश के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के साथ मिलकर काम करेगा

डब्ल्यूएचओ के प्रमुख टेड्रोस ने कहा कि भारत पहले ही पोलियो जैसी बीमारी पर जीत हासिल कर चुका है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के सहयोग से कोरोना से लड़ने के लिए देश को उन योजनाओं को फायदा मिलेगा जो पोलियो के समय अपनाई गई थी। विश्व स्वास्थ्य संगठन देश के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के साथ मिलकर काम करेगा।

विश्व स्वास्थ्य संगठन का राष्ट्रीय पोलियो निगरानी नेटवर्क कोविड-19 सर्विलांस को और मजबूत करने में काम करेगा

विश्व स्वास्थ्य संगठन का राष्ट्रीय पोलियो निगरानी नेटवर्क कोविड-19 सर्विलांस को और मजबूत करने में काम करेगा और इस नेटवर्क का स्टाफ इम्युनिटी बढ़ाने पर जोर देगा। इस नेटवर्क की मदद से क्षयरोग या अन्य बीमारी से लड़ने में आसानी होगी। कोरोना से लड़ने के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय और डब्ल्यूएचओ दक्षिण-पूर्वी एशिया ने नेशनल पोलियो सर्विलांस नेटवर्क के साथ मिलकर एक पहल की है। भारत ने जैसे पोलियो को हराया था वैसे ही कोरोना को हराने के लिए बेहतर कार्यप्रणाली और उपायों पर काम किया जा रहा है।

120 साल की जनिया देवी को कोरोनावायरस ने याद दिलाई 1920 की प्लेग महामारी

जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के डाटा के मुताबिक दुनियाभर में 20 लाख से ज्यादा लोग कोरोना वायरस से संक्रमित

जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के डाटा के मुताबिक दुनियाभर में 20 लाख से ज्यादा लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं और 1,36,000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। डब्ल्यूएचओ के प्रमुख टेड्रोस ने भारत के स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन का आभार प्रकट किया है। उन्होंने भारत का विश्व स्वास्थ्य संगठन के साथ हाथ मिलाने का भी स्वागत किया। डब्ल्यूएचओ ने कहा कि एक साथ मिलकर काम करने से हम जरूर इस महामारी पर जीत हासिल करेंगे।

भारत और डब्ल्यूएचओ अपने साझा कुशल काम और समर्पण से ही पोलियो को हरा पाने में सक्षम हुआ

बता दें कि भारत ने साल 2014 में पोलियो को हरा दिया था। स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा कि उस वक्त भी भारत सरकार और विश्व स्वास्थ्य संगठन ने एक साथ मिलकर काम किया था और जीत हासिल की थी। भारत और डब्ल्यूएचओ अपने साझा कुशल काम और समर्पण से ही पोलियो को हरा पाने में सक्षम हुआ है।

Loading...
loading...

Related Post

मुकेश अंबानी

मुकेश अंबानी दुनिया के छठे सबसे अमीर बने, गूगल के को-फाउंडर लैरी पेज को पछाड़ा

Posted by - July 14, 2020 0
नई दिल्ली। रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी अब दुनिया के छठवें सबसे अमीर शख्स बन…
चंद्रबाबू नायडू

चंद्रबाबू नायडू का आरोप, बोले- मोदी के इशारे पर काम कर रहा है चुनाव आयोग

Posted by - April 13, 2019 0
नई दिल्ली। आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू शनिवार को ईवीएम समेत कई मुद्दों को लेकर चुनाव आयोग के पास…