Education System

उप्र के अटल आवासीय विद्यालयों में प्रवेश प्रक्रिया शुरू

88 0

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के पंजीकृत निर्माण श्रमिकों एवं कोरोना काल में निराश्रित बच्चों के साथ मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना (सामान्य) के लिए पात्र बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने के लिए योगी सरकार ने अटल आवासीय विद्यालय (Atal Residential Schools)  योजना की शुरुआत की है। 2023-24 सत्र से शुरू हो रहे इन विद्यालयों में प्रवेश के लिए प्रक्रिया की शुरुआत हो गई है।

अटल आवासीय विद्यालयों (Atal Residential Schools)  में आवेदन पत्र का प्रारूप सामने आया है, जिनमें मानक संचालन प्रक्रिया का विवरण भरा जाना है। विवरण भरकर जमा करने के बाद प्रवेश परीक्षा का आयोजन किया जाएगा, जिसके बाद चुने गए छात्रों को विद्यालय में प्रवेश दिया जाएगा।

उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड (यूपीबीओसीडब्ल्यू) 18 राजस्व मंडलों में यह विद्यालय शुरू करने जा रहा है। मुख्यमंत्री योगी (CM Yogi) की मंशा के अनुरूप इन बच्चों को मुख्यधारा से जोड़ने एवं उनके बौद्धिक और शारीरिक विकास के लिए श्रम विभाग के अधीन 1000 बच्चों की आवासीय क्षमता के अटल आवासीय विद्यालयों का निर्माण कार्य प्रगति पर है। इन विद्यालयों में शैक्षणिक सत्र 2023-24 से कक्षा 6 का संचालन प्रारंभ किया जाना है।

देनी होगी व्यक्तिगत जानकारी

आवेदन पत्र के प्रारूप में दो संलग्नक दिए गए हैं। पहला संलग्नक आवेदन के लिए है और दूसरा परीक्षा के प्रवेश पत्र के लिए। आवेदन प्रारूप में छात्रों को अपनी सामान्य व्यक्तिगत जानकारी देनी है। इसमें यह उल्लेख करना अनिवार्य है कि वह श्रमिक या निराश्रित किस वर्ग में आता है। जेंडर के अलावा छात्र को अनारक्षित या एससी-एसटी व विकलांगता श्रेणी का भी उल्लेख करना है। श्रमिकों के बच्चों को अपने पिता/माता की पंजीयन संख्या देनी होगी। छात्रों को हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में परीक्षा देने का विकल्प मिलेगा। प्रवेश पत्र के प्रारूप भी छात्रों द्वारा भरा जाएगा, जिसे प्रवेश परीक्षा से पहले छात्र के नाम निर्गत किया जाएगा।

एक विद्यालय में 80 छात्रों को मिलेगा प्रवेश

उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड द्वारा अटल आवासीय विद्यालयों (Atal Residential Schools) के संचालन की गुणवत्ता के दृष्टिगत अटल आवासीय विद्यालय समिति का गठन किया गया है। प्रत्येक अटल आवासीय विद्यालय (कक्षा 6) में चयन परीक्षा के माध्यम से योग्य उम्मीदवारों की उपलब्धता के आधार पर अधिकतम 80 छात्रों को प्रवेश दिया जाएगा, जिसमें 40 छात्र तथा 40 छात्राएं होंगी।

अटल आवासीय विद्यालयों (Atal Residential Schools) में छात्रों की चयन प्रक्रिया मंडल संचालन निगरानी समिति के द्वारा जिलाधिकारी की अगुवाई में गठित वित्तीय निगरानी समिति के माध्यम से संपन्न कराई जाएगी। मंडलीय जनपद के अतिरिक्त मंडल के अन्य जनपदों में डीएम के गाइडेंस में परीक्षा संबंधित समस्त कार्य कराए जाएंगे।

ये होगी प्रवेश के लिए पात्रता

अटल आवासीय विद्यालयों (Atal Residential Schools) में कक्षा 6 में प्रवेश के लिए इच्छुक उम्मीदवार का जन्म 01 मई 2010 से पहले और 30 अप्रैल 2013 के बाद नहीं होना चाहिए। यह एससी, एसटी और ओबीसी सहित सभी श्रेणियों के उम्मीदवारों पर लागू होगा।

विकास की स्पीड बढ़ाने के लिए भाजपा को जिताएं: सीएम योगी

श्रमिक श्रेणी में वो बच्चे प्रवेश के पात्र होंगे जिनके माता या पिता पंजीयन के बाद 01 अप्रैल 2023 को कम से कम 03 वर्ष बोर्ड की सदस्यता अवधि पूर्ण कर चुके हों और उनके प्रति परिवार अधिकतम 02 बच्चे हों। वहीं, निराश्रित श्रेणी में वो बच्चे पात्र होंगे जो कोविड से अनाथ हुए हैं और जिनका महिला एवं बाल कल्याण विभाग में पंजीयन हो या मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के पात्र हों जिनकी आयु 10 से 13 वर्ष के मध्य हो।

ऐसे होगी सीटों के आरक्षण की व्यवस्था

– कुल सीटों के स्थानों में 27 प्रतिशत अन्य पिछड़ा वर्ग, 21 प्रतिशत अनुसूचित जाति एवं 02 प्रतिशत अनुसूचित जनजाति के अभ्यर्थियों के लिए आरक्षण का प्राविधान है।

– बालक और बालिकाओं के कुल सीटों का अनुपात 50ः50 होगा।

– राज्य के मानदंडों के अनुसार दिव्यांग बच्चों (शारीरिक विकलांगता, श्रवण बाधित और दृष्टि बाधित) के लिए भी आरक्षण का प्राविधान है।

Related Post

महानता और संस्कृति में महिलाओं का होता है विशेष स्थान, जानें इनसे जुड़ी रोचक बातें

Posted by - May 31, 2019 0
डेस्क। किसी भी देश की महानता और संस्कृति में महिलाओं का विशेष स्थान होता है और हमारे तो वेदों में…