सर्दियों में डाइट चार्ट

सर्दियों में ये होगा आपका डाइट चार्ट, तो कोसों दूर रहेंगी बीमारियां

633 0

नई दिल्ली। सर्दियां शुरू होते ही हमारा ध्यान खाने-पीने की तरफ ज्यादा जाने लगता है। कई लोग तो सेहत बनाने के लिए सिर्फ सर्दियों का ही इंतजार कर रहे होते हैं, क्योंकि सर्दियों में हम जो भी खाते हैं। उसका अच्छी तरह से पाचन हो जाता है।

यह जान लेना जरूरी है कि सर्दियों में क्या खाएं और किस समय खाएं?

हेल्दी रहने के लिए सर्दियों में अपने डाइट चार्ट को मैनेज करना काफी जरूरी है। अगर हम शरीर बनाना और स्वस्थ्य रहना चाहते हैं। तो यह जान लेना जरूरी है कि सर्दियों में क्या खाएं और किस समय खाएं? मौसम के बदलते ही अपने शरीर को चुस्त-दुरुस्त बनाए रखने के लिए हमें अपने भोजन में कुछ बदलाव करने होते हैं। स्वस्थ रहने के लिए हेल्दी ब्रेकफास्ट के लिए क्या खाएं, लंच और डिनर के साथ डाइट को कैसे फॉलो करें?

ब्रेकफास्ट

सर्दियों में हेल्दी और चुस्त-दुरुस्थ रहने के लिए अपनी डाइट में बदलाव करना जरूरी है। इसके साथ ही ऐसा डाइट चार्ट बनाना चाहिए जो आसान भी हो औऱ हेल्दी भी। सुबह का नाश्ता ऊर्जावान होना चाहिए। नाश्ते में अंडे के साथ ब्रेड, उपमा सैंडविच, डोसा आदि का सेवन करें। रोजाना नाश्ते के बाद मलाई निकला एक गिलास गरम दूध पीना न भूलें। इस सब के साथ एक प्लेट फ्रूट या वेजीटेबल सलाद आप के नाश्ते को कंप्लीट करता है। नाश्ता हैवी होना चाहिए।

एकेटीयू की छात्रा जुवेरिया खान एसएकेयूआरए साइंस प्रोग्राम जापान की फेलोशिप में चयनित 

लंच

हेल्दी रहने के लिए ब्रेकफास्ट के बाद लंच में क्या खाएं इसका खासा ख्याल रखना पड़ता है? दोपहर के भोजन में हरी सब्जी, चपाती, ताजा दही या छाछ, छिलके वाली दाल के साथ चावल, गरमगरम सूप लेना अच्छा रहता है। लंच में हरी चटनी भोजन में मल्टीविटामिन्स की कमी को पूरा करती है।

डिनर

जिस तरह से नाश्ता आपके लिए जरूरी होता है उसी तरह से रात का खाना आपके स्वास्थ को हेल्दी रखने में महत्वरपूर्ण भूमिका निभाता है। रात का भोजन दोपहर के भोजन की तुलना में हल्का होना चाहिए। रात के भोजन में हमेशा हल्का और साधारण खाना खिचड़ी या दलिया ले सकते हैं। सोने से कम से कम चार घंटे पहले भोजन करने से शरीर में भोजन का पाचन ठीक तरह से होता है।

सर्दियों में स्वस्थ रहने के लिए ये है कुछ टिप्स

कुछ आसान से घरेलू उपाय अपना कर आप इस मौसम में स्वस्थ और निरोगी रह सकते हैं। सर्दियों का मौसम शुरू होते ही सर्दी, खांसी और जुकाम का हमला तेज हो जाता है। अक्सर लोग बीमार होने के बाद अपने खानपान में बदलाव के बारे में सोचते हैं जबकि बीमार होने से पहले ही अगर हम मौसम के अनुसार उचित आहार लेना शुरू कर दें। तो शरीर को सर्दियों में स्वस्थ और निरोगी रखा जा सकता है। शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए अच्छी नींद लें और अपना खानपान सही रखें।

Related Post

हरसिमरत कौर Harsimrat Kaur

दादी-नानी के नुस्खों को दुबारा वैश्विक बनाने की आवश्यकता : हरसिमरत कौर

Posted by - September 9, 2020 0
नई दिल्ली । देश के औषधीय उत्पादों और दादी-नानी के घरेलू नुस्खों को वैश्विक स्तर पर पहचान दिलाने की जरूरत…