international cricket stadium

काशी को 2024 के अंत तक मिलेगी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम की सौगात

84 0

लखनऊ। अगले साल के अंत तक काशी को मिल सकती है अंतरराष्ट्रीय स्तर के क्रिकेट स्टेडियम (International Cricket Stadium)  की सौगात। ऐसा हुआ तो इसका निर्माण रिकॉर्ड समय में होगा। सभी अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस यह उत्तर प्रदेश का पहला क्रिकेट स्टेडियम होगा जिसका संचालन BCCI (बोर्ड ऑफ कंट्रोल फॉर क्रिकेट इन इंडिया) करेगा। लांग टर्म लीज तहत वह हर साल इसके एवज में एक तय रकम भी सरकार को देगा।

350 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले अत्याधुनिक स्टेडियम की क्षमता 30 हजार

करीब 31 एकड़ के विस्तृत परिसर पर में बन रहे इस स्टेडियम के निर्माण में करीब 350 करोड़ रुपये की लागत आएगी। इसकी सिटिंग कैपिसिटी (बैठने की या दर्शक क्षमता) 30 हजार होगी।

एमपी, छत्तीसगढ़, बिहार की क्रिकेट प्रतिभाओं को भी होगा लाभ

काशी का यह स्टेडियम (International Cricket Stadium) पूर्वांचल ही नहीं सटे हुए बिहार, मध्य प्रदेश (एमपी), छत्तीसगढ़ के युवा खिलाड़ियों के हुनर को निखारने का बेहतरीन केंद्र बनेगा।

उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में वर्ल्ड क्लास क्रिकेट स्टेडियम का प्रस्ताव पहले से था। समस्या जमीन की थी। पूरी प्रक्रिया में सितंबर 2022 से तेजी आयी। जमीन की खरीद के लिए 120 करोड़ रुपये का बजट कैबिनेट से मंजूर होने के बाद करीब 31 काश्तकारों से जमीन खरीदी गयी।

यूपीसीए को सौंपी जा चुकी है जमीन

खास बात यह रही कि यह पूरी प्रक्रिया विवादरहित रही। सरकार की ओर से जमीन उत्तर प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन (यूपीसीए) को सौपीं जा चुकी है। इंफ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में देश की सबसे नामचीन संस्थाओं में से एक लार्सन एंड टुब्रो (एलएनटी) को इसकी कार्यदायी संस्था बनाया गया है। डिजाइन को अंतिम रूप दिया जा रहा है। डिजाइन/ नक्शे पर अंतिम निर्णय होते ही निर्माण कार्य शुरू कर दिया जाएगा।

प्रतिभाओं को निखारने का जरिया बनेगा यह स्टेडियम

“यूपी में क्रिकेट की प्रतिभाओं की भरमार है। सुरेश रैना, चाइनामैन कहे जाने वाले कुलदीप यादव, लेग स्पिनर पीयूष चावला, फास्ट बॉलर प्रवीण कुमार, बल्लेबाज के साथ कमाल के फील्डर रहे मोहम्मद कैफ जैसे नामचीन खिलाड़ी उत्तर प्रदेश से ही रहे हैं। आईपीएल और अन्य लीगों में भी प्रदेश के कई खिलाड़ी बेहतर कर रहे हैं। काशी का स्टेडियम इनके साथ अन्य प्रतिभावान युवा क्रिकेटरों की प्रतिभा निखारने का जरिया बनेगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मंशा है कि आबादी के अनुरूप उत्तर प्रदेश खेलों में भी सिरमौर बने। यह प्रयास उसी मंशा की एक कड़ी है।”
– डॉ. नवनीत सहगल, अपर मुख्य सचिव, खेल एवं युवा कल्याण

मोदी और योगी की इस सौगात से बेहद खुश हूं

“मैं उत्तर प्रदेश से हूं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम ((International Cricket Stadium) ) के रूप में जो सौगात देने जा रहे हैं, उस पर एक क्रिकेटर होने के नाते मेरी खुशी और बढ़ जाती है। देवाधिदेव महादेव की काशी की अपनी अहमियत है। दुनिया के प्राचीनतम नगरों में शुमार काशी को तीनों लोकों में न्यारी कहा जाता। हर कोई एकबार देश की इस सांस्कृतिक नगरी काशी में आना चाहता है। ऐसे में देश-दुनिया का हर खिलाड़ी काशी में खेलने को लेकर रोमांचित होगा। यह पूर्वांचल ही नहीं सटे हुए मध्य प्रदेश, बिहार, झारखंड एवं छत्तीसगढ़ के युवा खिलाड़ियों के हुनर को निखारने के बेहतरीन केंद्र बनेगा। अंतरराष्ट्रीय स्तर के कोच, जिम, क्लब और पिचें इनका जरिया बनेंगी। एक बार जब यहां रणजी, आईपीएल, टी-20 और टेस्ट मैचेज शुरू हो जाएंगे तो यह स्टेडियम हॉस्पिटैलिटी, टूरिज्म एवं इससे जुड़े सेक्टर के लिए भी बूस्टर साबित होगा।”
– सुरेश रैना, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर

Related Post

CM Yogi

जनसंख्या नियंत्रण के साथ जनसांख्यकीय संतुलन का भी रखें ख्याल: सीएम योगी

Posted by - July 11, 2022 0
लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने जनसंख्या नियंत्रण की कोशिशों के साथ-साथ जनसांख्यकीय संतुलन बनाए रखने की जरूरत बताई…