Rajnath Singh

प्रदेश को बुआ- बबुआ नहीं बाबा चाहिए : राजनाथ

117 0

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने शनिवार को आतंकवादियों और सीमा पर तनाव बढ़ाने वाले दुश्मन देश को जौनपुर की धरती से कड़ा संदेश दिया है। उन्होंने कहा कि हम किसी को छेड़ेंगे नहीं, लेकिन यदि कोई छेड़ेगा तो उसे छोड़ेंगे भी नहीं। आज भारत के अंदर यह ताकत है कि इस पार ही नहीं हम उस पार भी जाकर आतंकवाद का मुंहतोड़ जवाब दे रहे हैं।

रक्षामंत्री जौनपुर के टीडी कालेज में शनिवार को आयोजित भाजपा काशी क्षेत्र के बूथ अध्यक्षों के सम्मेलन को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कांग्रेस को निशाने पर लेकर कहा कि कभी आतंकवाद पर कड़ा कदम नहीं उठाया। 2008 में मुम्बई में हुए आतंकी हमले के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की गई। लेकिन मोदी सरकार में आतंकवाद को मुंहतोड़ जवाब सीमा के इस पार से लेकर उस पार तक दिया जा रहा है। रक्षामंत्री ने कहा कि आज हमने सेना के हाथों को खोल दिया है।

भारत की आन, बान व शान पर आंच नहीं आने देंगे। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार क़ो काबू करने की नीयत सिर्फ भाजपा की है, गुंडे-माफियाओं में दहशत फैल गई है। उन्होंने कहा कि बिना कानून व्यवस्था चुस्त किए देश का विकास नहीं नहीं किए जा सकते। उन्होंने कहा कि कहा कि आप लोगों के दम पर आज भाजपा भारत की नहीं पूरी दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी है।

रक्षामंत्री ने पूरे आत्मविश्वास के साथ कहा कि भाजपा यूपी में 300 से अधिक सीट जीतेगी। अयोध्या में मंदिर निर्माण का उल्लेख कर कहा कि भव्य राम मंदिर बन रहा हैं व 370 हटाकर हमने अपने इरादे साफ कर दिए हैं। अंतरराष्ट्रीय मंच पर आज भारत कुछ कहता है तो पूरी दुनियाँ उसे सुनती है। उन्होंने कहा कि भारत के ऋषियों व मनीषियों ने विश्व धरा पर रहने वाले सभी क़ो अपना माना। सपा, बसपा को निशाने पर लेकर कहा कि यूपी की जनता बुआ-बबुआ नहीं, बल्कि मजबूत सरकार चाहिए। यह भी कहा कि जिन्ना पाकिस्तान के जनक हो सकते हैं। भारत के जनक कभी नहीं हो सकते। राजनाथ सिंह ने कहा मोदी जी योगी जी आप धड़ाधड़ बैटिंग करते जाइए आपको कोई गिरा नहीं सकता, आपको कोई हिट विकेट भी नहीं कर सकता है। यूपी की जनता कह रही है यूपी में न बबुआ न बुआ चाहिए सिर्फ बाबा (योगी जी) चाहिये।

कोविड के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जो किया है उसकी सराहना वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन कर रहा है। अब जिन्ना कहां से आ गया। कुछ लोग भारत को टुकड़े-टुकड़े करके चाहते हैं। क्या देश को पंथ और मजहब के आधार पर बांटना चाहते हैं। यह देश ऋषियों मनीषियों का है।

Related Post

Yogi Adityanath

हिंदू धर्म की सेवा एवं रक्षा के पथ पर अग्रसर है भारत सेवाश्रम: सीएम योगी

Posted by - April 10, 2022 0
गोरखपुर: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कहा कि भारत सेवाश्रम संघ (Bharat Sevashram Sangh) की स्थापना स्वामी प्रणवानंद ने…

एक लोकतांत्रिक देश में विभिन्न विचारों को स्वीकार करना और समझना बेहद जरूरी- सचिन पायलट

Posted by - August 14, 2021 0
राजस्थान के पूर्व उप-मुख्यमंत्री सचिन पायलट का कहना है कि विभिन्न विचारों को स्वीकार करने, सुनने और समझने के लोकतांत्रिक…
नेट बैंकिंग के जरिये विदेश में धन ट्रांसफर करता था सलीम

नेट बैंकिंग के जरिये विदेश में धन ट्रांसफर करता था सलीम

Posted by - March 2, 2021 0
यूपी एसटीएफ द्वारा अयोध्या से गिरफ्तार किये गये नेपाली नागरिक सलीम ने खुलासा किया है कि उसके साथ के कई अन्य नेपालियों ने फर्जी दस्तावेजों के जरिये बैंक खाता खोलवाकर रुपये लेन-देन कर रहे हैं। ऐसे लोगों ने यूपी के विभिन्न शहरों में यहां की आईडी तक बनवा रखी है। सलीम से पूछताछ के बाद एसटीएफ उसके ऐसे कई नेपाली नागरिकों की तलाश कर रही है। सलीम को सोमवार को गिरफ्तार किया गया था। वह वाट्सएप कॉल के जरिए पाकिस्तान, सऊदी अरब और सूडान के नागरिकों से भी बात भी करता था। उसके पास से फर्जी आधार कार्ड और नेपाली दस्तावेज बरामद हुए थे। शाहजहांपुर में 3 स्कूली छात्राएं लापता यूपी एसटीएफ के एक अधिकारी ने बताया कि सलीम की गिरफ्तारी के बाद उसके गहन पूछताछ की गयी। पूछताछ में बताया कि उसके साथ नेपाल से आये कई और साथियों ने यूपी के विभिन्न जिलों में फर्जी दस्तावेज तैयार कर विभिन्न बैंकों में खाते खुलवा रखे हैं जिनके जरिये वे लोग रुपये का ट्रांजेक्शन करते हैं। वे लोग नेट बैंकिग के जरिये विदेशों में धन ट्रांसफर कर रहे हैं। सलीम ने ऐसे अपने कई साथियों के नाम पते भी बताए हैं। सलीम से पूछताछ के बाद एसटीएफ ऐसे लोगों के बारे में पता लगाने में जुटी है। नेपाल के बांके जिले के लक्षनपुर, नेपालगंज का रहने वाले मो. सलीम खान को यूपी एसटीएफ ने कल गिरफ्तार किया था। दरअसल, एसटीएफ को काफी समय से सूचना मिल  रही थी कि एक संदिग्ध व्यक्ति अयोध्या व उसके आस पास के जिलों में अलग-अलग स्थान पर फर्जी दस्तावेजों के आधार पर अपनी पहचान को छिपाकर रह रहा है। इस सूचना पर एसटीएफ की एक टीम छानबीन में लगायी गयी थी। जांच में पता चला कि ये व्यक्ति नेपाली नागरिक सलीम खान है। उसने अपनी जन्म तिथि व अन्य पहचान छिपाकर फर्जी दस्तावेज से अपना आधार बनवाया है जिसका नम्बर 381360937629 है। उसी आधार पर उसने भारतीय मोबाइल सिम कार्ड लिया है और वर्ष-2016 में श्रावस्ती में इलाहाबाद व इण्डियन बैंक की हेमपुर ब्रांच में खाता संख्या खुलवाया है। यूपी पंचायत चुनाव में इस बार उम्मीदवारों को मिलेंगे ये चिन्ह…