ola electric

OLA इलेक्ट्रिक में थम रहा इस्तीफे का सिलसिला, अब इस ओफ़्फ़िसर ने भी छोड़ी कंपनी

56 0

नई दिल्ली। ओला इलेक्ट्रिक (Ola Electric) के चीफ मार्केटिंग ऑफिसर (CMO) वरुण दुबे अब कंपनी के साथ नहीं है। उन्होंने निजी कारणों के चलते अपना इस्तीफा दे दिया। उन्होंने दिसंबर 2019 में कंपनी को ज्वॉइन किया था। कंपनी के स्पोक्सपर्सन ने इस बात की पुष्टि करते हुए बताया कि वरुण कंपनी का साथ छोड़ रहे हैं। कुछ महीने पहले तक वे मीडिया के सवालों और व्हीकल की डिलीवरी और क्वालिटी के बारे में होने वाली आलोचनाओं का जवाब देते थे। खबर ये भी है कि वरुण ने पिछले कुछ हफ्तों से काम पर आना भी बंद कर दिया था। इससे एक दिन पहले कंपनी के चीफ टेक्निकल ऑफिसर (CTO) दिनेश राधाकृष्णण ने भी इस्तीफा दे चुके हैं। टॉप पोजिशन पर होने वाले इन इस्तीफों से ये सवाल उठने लगे हैं कि क्या कंपनी में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा।

ओला इलेक्ट्रिक के टॉप पोजिशन पर यह इस्तीफे ऐसे समय पर हो रहे हैं, जब कंपनी कई टेक्निकल और ग्राहकों की शिकायतों की समस्या से जूझ रही है। ओला के लिस्टिंग प्लान में हो रही देरी और कंपनी के इलेक्ट्रिक स्कूटरों में लगातार आ रही तकनीकी खराबी की खबरों के बीच इन दोनों के इस्तीफे की खबर काफी अहम है।

पहले भी हो चुके OLA में कई इस्तीफे

पिछले हफ्ते खबर आई थी कि OLACars के सीईओ अरुण श्रीदेशमुख और ओला के चीफ ऑफ ग्रुपस्ट्रेटजी अमित अंचल इस्तीफा दे रहे हैं। अरुण श्रीदेशमुख ओला इलेक्ट्रिक के ‘गो टू मार्केट’ सेगमेंट की जिम्मेदारी भी संभाल रहे थे।

इन कारों पर मिल रहा है 48000 तक का डिस्काउंट, फटाफट मौके के उठाए फायदे

अब उन्होंने कंपनी को छोड़ने का निर्णय लिया है। इसी तरह यह माना जा रहा था कि अमित अंचल ओला के IPO योजना में अहम भूमिका निभाएंगे, लेकिन इनके इस्तीफे की खबर के बीच कंपनी की फंड रेजिंग योजना अनिश्चितताओं में घिर गई है।

डेली काम से अलग हुए भाविश अग्रवाल

ओला ने कंपनी के टॉप लेवल पर हाल ही में कई बदलाव किए हैं, ये भी इस्तीफे की एक वजह मानी जा रही है। कंपनी के फाउंडर और CEO भाविश अग्रवाल ने कंपनी में अपनी जिम्मेदारी बदलती हुए खुद को रोजाना के कामकाज से दूर कर लिया है। इसकी जगह अब वह इंजीनियरिंग से जुड़े कामों, टीम बिल्डिंग और प्रोडक्ट्स पर अधिक फोकस कर रहे हैं। ओला का रोजाना का कामकाज अब जीआर अरुण कुमार संभाल रहे हैं, जो फिलहाल ओला के ग्रुप चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर (CFO) और ओला इलेक्ट्रिक के CFO हैं।

हीरो इलेक्ट्रिक को पछाड़ नंबर-1 बनी ओला(OLA)

सड़क परिवहन मंत्रालय के अनुसार अप्रैल में कंपनी ने सबसे ज्यादा इलेक्ट्रिक स्कूटर बेचे। ओला ने अप्रैल महीने में 12683 यूनिट की बिक्री की। हीरो इलेक्ट्रिक 50 फीसदी की गिरावट के साथ 6570 यूनिट ही बेच पाई। वो अप्रैल में तीसरे स्थान पर रही। दूसरे स्थान पर ओकिनावा ओटोटेक रही, जिसने 10000 इलेक्ट्रिक स्कूटर की बिक्री की। ओला को इंडियन इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर मार्केट में आए 5 महीने ही हुए है। ओला इलेक्ट्रिक के स्कूटर की कीमत 85 हजार से लेकर 1.10 लाख रुपए तक है।

मात्र इतने मिनट में मिलेगा कार लोन, ये बैंक दे रहा है ऑफर

Related Post

Telegram

टेलीग्राम ने यूजर्स को दिया झटका, प्रीमियम पेड सब्सक्रिप्शन प्लान होगा लॉन्च

Posted by - June 11, 2022 0
नई दिल्ली: टेलीग्राम (Telegram) के संस्थापक पावेल ड्यूरोव ने घोषणा की है कि कंपनी इस महीने के अंत में टेलीग्राम…

महिलाओं की समस्याएं अब होंगी चुटकियों में समाप्त, वैज्ञानिकों ने खोज निकाली तकनीक

Posted by - September 29, 2019 0
लखनऊ डेस्क। महिलाओं की समस्याओं से छुटकारा दिलाने वाली नई तकनीक वैज्ञानिकों ने खोज निकाली है जिससे अब आपकी तमाम…