देशवासियों को साधुवाद 

तो क्या प्रियंका गांधी की अप्रैल माह में राज्यसभा में हो जाएगी एंट्री?

248 0

नई दिल्ली। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा की राज्यसभा में जल्द ही एंट्री हो सकती है। सूत्रों के मुताबिक, छत्तीसगढ़ कोटे से प्रियंका को राज्यसभा में भेजने की तैयारी कांग्रेस आलाकमान कर रही है।

छत्तीसगढ़ में राज्यासभा की दो सीटों पर सांसदों का अप्रैल 2020 में खत्म हो रहा है कार्यकाल 

बता दें कि छत्तीसगढ़ में राज्यासभा की दो सीटों पर सांसदों का कार्यकाल अप्रैल 2020 में खत्म हो रहा है। विधानसभा में सदस्यों की संख्या के आधार पर इन दोनों राज्यसभा की सीटें कांग्रेस पार्टी के खाते में जानी तय है। इस सेफ सीट से कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी की राज्यसभा में एंट्री कराई जा सकती है।

वर्तमान में तीन पर बीजेपी और दो पर कांग्रेस पार्टी के सदस्यों का कब्जा

छत्तीसगढ़ कोटे से राज्यसभा में पांच सीटें हैं। वर्तमान में तीन पर बीजेपी और दो पर कांग्रेस पार्टी के सदस्यों का कब्जा है। अप्रैल में दो सीटें खाली हो रही हैं। छत्तीसगढ़ से राज्यसभा में कौन जाएगा, इसको लेकर माथा-पच्ची कांग्रेस में अभी से शुरू हो गई है? छत्तीसगढ़ से राज्यसभा सांसद के लिए प्रियंका गांधी के नाम को लेकर चर्चाएं जोरों पर हैं।

लखनऊ : घंटाघर पर ‘CAA’ विरोधी प्रदर्शन का महीना पूरा, प्रदर्शनकारी महिलाएं हैं डटी 

छत्तीसगढ़ में अप्रैल माह में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मोतीलाल वोरा और बीजेपी के रणविजय सिंह जूदेव का कार्यकाल खत्म हो रहा है। एक सदस्य के लिए 34 विधायकों का समर्थन होना चाहिए। जबकि कांग्रेस के पास 69 विधायक हैं। यानी दोनों सीटें कांग्रेस के खाते में जाने वाली हैं। इसके बाद जून 2022 में कांग्रेस की छाया वर्मा और बीजेपी के रामविचार नेताम की जगह खाली होगी। इसमें भी कांग्रेस निर्विरोध जीत जाएगी, क्योंकि बीजेपी के 14, जोगी कांग्रेस के 5 और बसपा के 2 विधायक मिलाकर भी 34 की संख्या तक नहीं पहुंच पा रहे हैं। इस तरह राज्यसभा में छत्तीसगढ़ से कांग्रेस की ताकत बढ़ जाएगी।

राज्यसभा में प्रदेश से कौन जाएगा इसका फैसला हाई कमान को करना है?

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री महेन्द्र छाबड़ा का कहना है कि राज्यसभा में प्रदेश से कौन जाएगा इसका फैसला हाई कमान को करना है? उन्होंने कहा कि अगर प्रियंका गांधी छत्तीसगढ़ से राज्यसभा सांसद चुन कर जाएंगी तो उनका हम स्वागत करेंगे। तो वहीं बीजेपी के प्रवक्ता केदार गुप्ता का कहना है कि कांग्रेस पार्टी के पास बहुमत है और वो यहां से राज्यसभा सांसदों को भेजने की तैयारी में है, लेकिन प्रियंका गांधी को छत्तीसगढ़ से राज्यसभा की सीट देना ठीक नहीं होगा। कांग्रेस को छत्तीसगढ़ के रहने वाले को पहली प्राथमिकता देनी चाहिए।

Loading...
loading...

Related Post

amitshaha

बीजेपी अध्यक्ष ने कुंभ में लगाई आस्था की डुबकी साथ ही किया बड़े हनुमान जी का दर्शन

Posted by - February 13, 2019 0
प्रयागराज। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह बुधवार को कुंभ पहुंचे। उनके साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री केशव मोर्या और…
उत्तर प्रदेश की राजधानी में गांजा तस्कर हुए गिरफ्तार 

उत्तर प्रदेश की राजधानी में गांजा तस्कर हुए गिरफ्तार 

Posted by - March 30, 2021 0
राजधानी के थाना आशियाना व कैंट में एनडीपीएस एक्ट में दर्ज मुकदमे के फरार वांछित अभियुक्त अंतर्जनपदीय गांजा तस्कर को  नगराम पुलिस द्वारा सोमवार शाम  चार किलो 100 ग्राम गांजा के साथ गिरफ्तार किया गया है। इंस्पेक्टर नगराम के अनुसार गिरफ्तार आरोपी के विरूद्ध एनडीपीएस एक्ट की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर न्यायालय के समक्ष पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया। प्रभारी निरीक्षक थाना नगराम मोहम्मद अशरफ ने बताया कि शाह मोहम्मदपुर अपैया निवासी  विनीत कुमार जायसवाल गांजा का अंतर्जनपदीय तस्कर है। इसके विरुद्ध राज्य के विभिन्न जनपदों में मुकदमे पंजीकृत हैं। पूर्व में भी उसके पास से भारी मात्रा में गांजा बरामद हो चुका है।  वर्ष 2015 में इसे उन्नाव के सोहरामऊ थाने में 50 किलो गांजा के साथ गिरफ्तार किया गया था। वर्ष 2016 में अभियुक्त विनीत जायसवाल व इसके गिरोह के सदस्यों को  जनपद कौशांबी  के थाना पूरामुफ्ती  में 868 किलो गांजा के साथ व इसी वर्ष  कौशांबी के ही थाना सैनी में 1432 किलो गांजा के साथ  गिरफ्तार किया गया था। सड़क हादसों में आधा दर्जन की हुई मौत वर्ष 2018  में नारकोटिक्स सेल लखनऊ द्वारा विनीत जायसवाल व इसके गैंग के सदस्यों को 40 किलो  गांजा के साथ गिरफ्तार कर एनडीपीएस एक्ट की धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कराया गया था। वर्ष 2020 में राजधानी के थाना आशियाना व थाना कैंट में एनडीपीएस एक्ट के दर्ज मुकदमे में आरोपी विनीत जायसवाल फरार चल रहा था जिसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस आयुक्त लखनऊ व पुलिस उपायुक्त दक्षिणी द्वारा विशेष निर्देश जारी किए गए थे। नगराम पुलिस द्वारा काफी दिनों से इसकी गिरफ्तारी के लिए प्रयास किए जा रहे थे, सोमवार की शाम उप निरीक्षक राजेश कुमार यादव, उमाशंकर सिंह सिपाही राजीव पांडे अंबिकेश तिवारी व मोहम्मद याकूब द्वारा नगराम पेट्रोल पंप के पास नहर पुलिया से आगे विनीत जायसवाल को अवैध गांजे के साथ दबोच लिया गया। वजन करने पर गांजे का वजन चार किलो 100 ग्राम निकला। आरोपी युवक को पकड़ कर थाने लाया गया जहां पूछताछ करने पर आरोपी विनीत कुमार जायसवाल ने अपना जुर्म स्वीकार करते हुए बताया कि वह मध्य प्रदेश, बिहार, आंध्र प्रदेश व नेपाल से अवैध गांजे की तस्करी कर आसपास के जिलों में सप्लाई करता है। अभियुक्त अवैध रूप से गांजे की तस्करी व बिक्री करने का अ•यस्त अपराधी है तथा नगराम थाने का प्रचलित हिस्ट्रीशीटर है इसके परिवार में भाई जितेंद्र कुमार जायसवाल व मां चंद्रावती जायसवाल अवैध गांजा तस्करी में संलिप्त रहती हैं। इसके द्वारा अवैध गांजा की तस्करी से अर्जित की गई दौलत से बनाई गई संपत्ति का पता लगाया जा रहा है।   Loading... loading...