अखिलेश के बयान पर सिद्धार्थनाथ सिंह का पलटवार, कहा- सपा सरकार में हुए 200 से ज्यादा दंगे

57 0

लखनऊ। लखीमपुर खीरी हिंसा मामले के बाद सियासी दल खुलकर सामने आ गए है। और इस दौरान सरकार पर लगातार आरोप लगा रहे है। एक बार फिर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर संविधान को कुचलने का आरोप लगाया।

वहीं यूपी के मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने अखिलेश यादव को जवाब दिया है। उन्होंने कहा कि 2012-2016 के बीच सपा की सरकार में यूपी में 200 से ज्यादा दंगे हुए थे। सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा कि अखिलेश सरकार के खिलाफ टिप्पणी करने के बाद शाहजहांपुर के पत्रकार को जिंदा जला दिया गया था।

यूपी सरकार में मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा कि लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में हाई कोर्ट के रिटायर्ड जज की निगरानी में निष्पक्ष जांच चल रही है। उन्होंने कहा कि कुछ आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं कुछ लोगों को मामले में पूछताछ के लिए बुलाया गया है।

अभी भी सो रही है सरकार

आशीष मिश्रा के पुलिस के सामने पेश होने के बाद अखिलेश यादव ने कहा कि लखीमपुर की घटना का वीडियो जिसने भी देखा उसने घटना की निंदा की है। उन्होंने कहा कि ये संविधान कुचलने वाली सरकार है। सबने सब कुछ देखा फिर भी दोषी अभी तक नहीं पकड़े गए हैं। जिन भी परिवार से वह मिले सबने कहा कि दोषी को सज़ा मिले।

अखिलेश यादव ने कहा कि सरकार अभी भी सो रही है, सरकार अभी भी दोषियों को बचाना चाहती है। ये सरकार केवल ताकतवर लोगों के लिए है, ये सरकार किसानों के लिए नहीं है। जनता ये सब देख रही है, आने वाले समय में बीजेपी का सफाया होगा।

Related Post

anandi

आनंदी बेन पटेल ने कहा अर्जित ज्ञान किसानों तक पहुंचायें विद्यार्थी

Posted by - March 12, 2021 0
दीक्षांत का दिन विद्यार्थियों के लिये अविस्मरणीय होता है, क्योंकि आज से उनके कंधों पर अस्मिता को साबित करने और…
शर्मिष्ठा मुखर्जी

शर्मिष्ठा मुखर्जी ने दिल्ली कांग्रेस मीडिया प्रमुख से दिया इस्तीफा

Posted by - February 14, 2019 0
नई दिल्ली। पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की बेटी और दिल्ली के ग्रेटर कैलाश विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस की उम्मीदवार रही…

लालू यादव को घेरने की औकात नहीं… मोदी जी क्या कर रहे हैं वो भी दिखाओ- मीडिया पर भड़के तेज

Posted by - August 11, 2021 0
बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजप्रताप यादव फेसबुक लाइव पर मीडिया से बात करते हुए मीडिया…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *