रोशनी नाडर मलहोत्रा

एचसीएल की नई चीफ होंगी रोशनी नाडर मलहोत्रा, जानें उनका अब तक का सफर

221 0

नई दिल्ली। एचसीएल टेक के चेयरपर्सन का पद संभालते ही रोशनी नाडर मलहोत्रा भारत की सबसे अमीर महिला बन गई हैं। यह जानकारी नोएडा की आईटी कंपनी एचसीएल टेक्नालॉजीज ने शुक्रवार को दी। महज 38 साल की रोशनी के कंधों पर अपने पिता शिव नाडर की कंपनी को अब आगे बढ़ाने की जिम्मेदारी है।

38 साल की रोशनी के कंधों पर अपने पिता शिव नाडर की कंपनी को अब आगे बढ़ाने की है जिम्मेदारी

बता दें कि कंपनी ने बताया कि शिव नाडर अध्यक्ष पद की भूमिका से हट गए हैं। अब उनकी बेटी रोशनी नाडर मल्होत्रा तत्काल प्रभाव से उनकी जगह गैर-कार्यकारी निदेशक होंगी।

बॉलीवुड अभिनेत्री पायल घोष ने अंगदान करने का लिया संकल्प

कंपनी ने बताया कि निदेशक मंडल ने शिव नाडर के स्थान पर उनकी बेटी और कंपनी की गैर-कार्यकारी निदेशक रोशनी नाडर मल्होत्रा को बोर्ड़ और कंपनी का अध्यक्ष नियुक्त करने का फैसला किया है। उनकी नियुक्ति शुक्रवार से प्रभावी हो गई है। शिव नाडर ने पद से हटने की इच्छा व्यक्त की थी। वह मुख्य रणनीति अधिकारी के पदनाम के साथ कंपनी के एमडी बने रहेंगे।

दिल्ली में पली बढ़ीं हैं रोशनी नाडर

दिल्ली में पली बढ़ीं रोशनी नाडर मल्होत्रा को 2013 में भारत के तीसरे सबसे बड़े सॉफ्टवेयर निर्यातक कंपनी एचसीएल टेक के बोर्ड में एक अतिरिक्त निदेशक के रूप में शामिल किया था। एचसीएल टेक्नोलॉजीज और एचसीएल इंफोसिस्टम्स की होल्डिंग कंपनी एचसीएल कॉर्प के बोर्ड में उनकी नियुक्ति के चार साल बाद ऐसा हुआ था। वन्यजीव और संरक्षण के प्रति रूचि रखने वाली रोशनी ने 2018 में हैबिट्स ट्रस्ट की स्थापना की। ट्रस्ट का उद्देश्य देश के प्राकृतिक आवासों और स्वदेशी प्रजातियों की रक्षा करना है, जिसमें स्थायी पारिस्थितिकी तंत्र बनाने और संरक्षण का मुख्य मिशन है।

रोशनी केलॉग स्कूल ऑफ मैनेजमेंट, यूएसए से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में हासिल की है मास्टर डिग्री

रोशनी केलॉग स्कूल ऑफ मैनेजमेंट, यूएसए से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में मास्टर डिग्री हैं। वह वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम के फोरम ऑफ़ यंग ग्लोबल लीडर्स की एल्युमनस हैं। रोशनी को 2017 से 2019 के बीच फोर्ब्स ने “द वर्ल्ड्स 100 मोस्ट पावरफुल वूमेन” की लिस्ट में जगह दी थी। IIFL वेल्थ हुरुन इंडिया के अनुसार, रोशन नाडर मल्होत्रा 2019 में देश की सबसे अमीर महिला थीं, जिनकी कुल कमाई 31,400 करोड़ रुपये थी।

Loading...
loading...

Related Post

जिरेनियम

किसानों ने सीखा ‘जिरेनियम’ की खेती से आमदनी बढ़ाने का तरीका

Posted by - December 10, 2019 0
लखनऊ। केंद्रीय औषधीय एवं सगंध पौधा संस्थान (सीएसआईआर-सीमैप) लखनऊ में ‘आर्थिक रूप से महत्वपूर्ण औषधीय एवं सगंध फसलों के उत्पादन…
दिल्ली विधानसभा चुनाव

अब पीके करेंगे केजरीवाल का बेड़ा पार,सिसोदिया बोले-अबकी बार 67 पार

Posted by - December 14, 2019 0
नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा चुनाव में चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर अब आम आदमी पार्टी के लिए काम करेंगे। यह जानकारी…
अखिलेश यादव

राज्यपाल से मिले सपा प्रमुख अखिलेश यादव, खराब कानून-व्यवस्था पर सौंपा ज्ञापन

Posted by - December 27, 2019 0
लखनऊ। नागरिकता संशोधन कानून(CAA) के विरोध में यूपी की राजधानी लखनऊ में माहौल काफी संवेदनशील था। इसी बीच समाजवादी पार्टी…