राम मंदिर पर फैसला सुनाने वाले SC के रिटायर्ड जस्टिस के पैतृक मकान पर बमबाजी

96 0

राम मंदिर पर फैसला सुनाने वाले सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जस्टिस अशोक भूषण के प्रयागराज स्थित पैतृक मकान पर बमबाजी का मामला सामने आया है। सोमवार शाम लगभग साढ़े पांच बजे उनके घर के बाहर एक के बाद एक दो बम फोड़ने के बाद बदमाश मौके से भाग गए। कर्नलगंज थाना क्षेत्र के हाशिमपुर मोहल्ले में सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जस्टिस अशोक भूषण का पैतृक मकान है।

हाशिमपुर के पैतृक मकान में उनके भाई और इलाहाबाद हाईकोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता अनिल भूषण परिवार समेत रहते हैं। अनिल भूषण ने बताया कि उनकी किसी से कोई दुश्मनी नहीं है, इस घटना की जानकारी पुलिस को दे दी गई है, पुलिस जांच कर रही है।

अनिल भूषण के मुताबिक, तेज धमाके के साथ दो बम फोड़े गये थे।  धमाके की आवाज सुनकर जब वे बाहर निकले तब तक बाइक सवार बदमाश फरार हो गए थे। उन्होंने बताया कि उनकी किसी से कोई दुश्मनी नहीं है।  इस घटना की जानकारी पुलिस को दे दी गई है। पुलिस जांच पड़ताल में जुटी है।  पुलिस सड़क पर लगे सरकारी सीसीटीवी कैमरे के फुटेज के आधार पर जांच कर रही है।

‘पेट्रोल-डीजल की महंगाई सिर्फ कांग्रेस की मानसिकता, सब फोकट का प्रोपेगेंडा’- बोलीं साध्वी प्रज्ञा

तेज रफ्तार बाइक चलाने और विस्फोटक फेंकने के मामले में मुकदमा दर्ज किया गया है। विस्फोटक फेंकने वाले आरोपियों की भी पहचान कर ली गई है।  आईजी प्रयागराज रेंज केपी सिंह के मुताबिक, रिटायर्ड जज जस्टिस अशोक भूषण के आवास के सामने चाय की दुकान है, चाय की दुकान का ठेला लगाने वाली का आरोपियों से पारिवारिक विवाद है, उसी विवाद के मद्देनजर आरोपियों ने चाय वाले को धमकाने के लिए तेज आवाज के विस्फोटक को फेंककर दहशत फैलाने की कोशिश की है।

Divyansh Singh

मिट्टी का तन, मस्ती का मन; छड़ भर जीवन, मेरा परिचय।

Related Post

 यूपी एसटीएफ ने तस्करी करने वाले गिरोह को झांसी में किया गिरफ्तार

लंदन में करोड़ों की जमीन का वारिस बनाने के नाम पर इंजीनियर से ठगे 60 लाख रुपए

Posted by - August 6, 2021 0
नोएडा साइबर क्राइम थाना पुलिस ने तीन ऐसे साइबर ठगों को गिरफ्तार किया है जिन लोगों ने एक इंजीनियर को…

असम: हिंदू-सिख-जैन बहुल इलाकों और धार्मिक स्थलों के पांच किमी के दायरे में गोमांस बेचने पर प्रतिबंध

Posted by - July 13, 2021 0
असम सरकार ने मवेशियों के वध, उपभोग और परिवहन को विनियमित करने के लिए असम मवेशी संरक्षण बिल-2021 विधानसभा में…