उत्तर प्रदेश सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड के गठन पर उठने लगे सवाल

222 0
लखनऊ। उत्तर प्रदेश सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड (Sunni Waqf Board) के गठन होते ही अब सुन्नी वक्फ बोर्ड की चुनाव प्रक्रिया और चेयरमैन के चयन पर सवाल उठने लगे हैं। सुन्नी वक्फ बोर्ड (Sunni Waqf Board) के एक्सटेंशन को लेकर हाईकोर्ट जाने वाले वक्फ मामलों के जानकार अल्लामा ज़मीर नकवी ने अब गड़बड़ी का आरोप लगाया है।

सुन्नी वक्फ बोर्ड (Sunni Waqf Board) के एक्सटेंशन को लेकर हाईकोर्ट जाने वाले वक्फ मामलों के जानकार अल्लामा ज़मीर नकवी ने अब वक्फ बोर्ड  (Sunni Waqf Board)  के चुनाव में गड़बड़ी का आरोप लगाया है।  उन्होंने हाईकोर्ट का दोबारा दरवाजा खटखटाने की बात कही है।

अल्लामा जमीर नकवी ने उठाये सवाल

वक्फ मामलों के जानकार अल्लामा ज़मीर नकवी की जनहित याचिका पर इलाहाबाद हाईकोर्ट की चीफ जस्टिस बेंच ने योगी सरकार को दिये गये सुन्नी वक्फ बोर्ड के एक्सटेंशन को रद्द करते हुए चुनाव कराकर नये बोर्ड के गठन का निर्देश दिया था। हालांकि वक्फ बोर्ड (Sunni Waqf Board)  के गठन होते ही चुनाव प्रक्रिया और जुफर अहमद फारुकी के एक बार फिर चेयरमैन बनने पर अल्लामा ज़मीर नकवी ने सवाल खड़े कर दिए हैं।

चुनाव पर खड़े हुए सवाल, HC जायेगा मामला

अल्लामा ज़मीर नकवी ने कहा कि उत्तर प्रदेश सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड (Sunni Waqf Board) का चुनाव संपन्न हो गया है, लेकिन इस चुनाव में सारे मापदंडों का उल्लंघन किया गया है। उनका आरोप है कि इस चुनाव में नियमों का घोर उल्लंघन हुआ है।

अल्लामा जमीर नकवी ने कहा कि मैंने 6 मार्च को आपत्ति दर्ज करायी थी, जिसमें जुफर अहमद फारूकी के खिलाफ वक्फ की जमीन के हेर-फेर के साथ साक्ष्य थे, लेकिन अपत्ती का निस्तारण किए बिना चुनाव करा दिया गया। उन्होंने कहा कि अन्न्याय पूर्ण तरीके से चुनाव कराया गया है। वहीं अब न्याय के लिए वो अब हाईकोर्ट का रुख करेंगे।

Related Post

Samadhan saptah

12 से शुरू होगा समाधान सप्ताह, उपभोक्ताओं की समस्याओं का होगा निस्तारण

Posted by - September 11, 2022 0
लखनऊ। पूरे प्रदेश के विद्युत उपकेन्द्रों पर ही सोमवार से समाधान सप्ताह (Samadhan saptah) शुरू होगा। वहां उपभोक्ताओं की छोटी-बड़ी…