budget

योगी 2.0 के पहले बजट में महिलाओं और बेटियों को प्राथमिकता

362 0

लखनऊ। योगी आदित्‍यनाथ सरकार 2.0 (Yogi 2.0) का बजट (Budget) विधानसभा में गुरूवार को पेश किया गया। वित्‍त मंत्री सुरेश खन्‍ना ने अब तक का सबसे बड़ा और पेपरलेस बजट (budget) पेश किया। यह बजट प्रदेश की महिलाओं, बेटियों और बच्‍चों के लिए बेहद खास है।

प्रदेश की महिलाओं और बेटियों के उत्‍थान के लिए योगी सरकार(Yogi Government)  ने साल 2017 से ही जमीनी स्‍तर पर योजनाओं को लागू कर सीधे तौर पर उनको लाभ पहुंचाने का काम किया। ऐसे में एक बार फिर से सरकार बनने के बाद योगी सरकार ने अपने पहले बजट में महिलाओं और बेटियों को प्राथमिकता दी है। बजट में इस बार महिलाओं व बेटियों की सुरक्षा, रोजगार, शिक्षा, स्‍वावलंबन पर जोर दिया है। जिसके तहत लखनऊ, गोरखपुर और बदायूं में 03 महिला पीएसी बटालियन का गठन किया जा रहा है।

बजट में महिला सामर्थ्य योजना के लिए 72 करोड़ 50 लाख रूपये की धनराशि प्रस्तावित की गई है। इस योजना के तहत राज्य की महिलाओं को रोजगार के लिए प्रेरित किया जाएगा। इससे महिलाओ में उत्साह बढ़ेगा और वह सशक्त और आत्मनिर्भर रहेंगी।

बजट में बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम के तहत यूपीएसईई-2018 की 100 टॉपर छात्राओं को लैपटॉप और 100 टॉपर एससी व एसटी छात्राओं को लैपटॉप का वितरण किया जाएगा। प्रदेश में चल रहे वृहद मिशन शक्ति अभियान के लिए 20 करोड़ रूपये की धनराशि प्रस्तावित की गई है। इसके साथ ही मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के तहत पात्र बालिकाओं को 06 विभिन्न श्रेणियों में 15000 रूपये की सहायता पीएफएमएस के जरिए से प्रदान की जा रही है।

UP Budget 2022: बजट में कानून व्यवस्था के प्रति दिखी सीएम योगी की प्रतिबद्धता

इस वित्तीय वर्ष 2022-2023 के बजट में योजना हेतु 1200 करोड़ रूपये की व्यवस्था प्रस्तावित की गई है। पुष्टाहार कार्यक्रम के तहत समन्वित बाल विकास योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा दिए जाने वाले पोषाहार के लिए 1675 करोड़ 29 लाख रूपये की व्यवस्था प्रस्तावित की गई है।

योगी सरकार का बच्चों के मुद्दों पर विशेष ध्यान

उत्तर प्रदेश सरकार ने बच्चों के मुद्दों पर विशेष ध्यान दिया है। इसके ही परिणाम है कि पिछले कुछ वर्षों में एक ओर शिशु मृत्यु दर में तेजी से गिरावट आई है वहीं दूसरी ओर दस्तक कार्यक्रम के परिणामस्वरूप एईएस व जेई से प्रभावित सभी क्षेत्रों में बच्चों की मृत्यु में बड़ी कमी दर्ज की गई है। योगी सरकार के इस पहले बजट में बाल कल्याण पर विशेष ध्‍यान दिया गया है। जिसके तहत कुपोषण पुनर्वास केन्द्रों को जिलों से ब्लॉक तक ले जाने के लिए बजटीय प्रावधान किया गया है।

UP Budget 2022: योगी सरकार के बजट में ऊर्जा सुधार पर फोकस

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के तहत पात्र बच्चों को 4000 रूपए प्रतिमाह की आर्थिक सहायता दी जाएगी। उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना (सामान्य) के तहत पात्र लाभार्थियों को 2500 रूपये प्रतिमाह की आर्थिक सहायता स्‍वीकृत है। इसके साथ ही ऑपरेशन विद्यालय कायाकल्प कार्यक्रम के तहत सरकारी स्कूलों में बच्चों के नामांकन में वृद्धि की जाएगी।

Related Post

साध्वी प्रज्ञा

मोदी ने आतंकी को बनाया प्रत्याशी, कसाब और साध्वी प्रज्ञा एक जैसे : प्रकाश आंबेडकर

Posted by - April 21, 2019 0
मुम्बई। मध्य प्रदेश की भोपाल संसदीय सीट से बीजेपी के प्रत्याशी बनाए जाने के बाद साध्वी प्रज्ञा लगातार सुर्खियों में…
AK Sharma

25 जून को ‘संविधान हत्या दिवस’ घोषित किए जाने एके शर्मा ने पीएम मोदी और शाह का जताया आभार

Posted by - July 12, 2024 0
लखनऊ। केंद्र सरकार द्वारा 25 जून को ‘संविधान हत्या दिवस’ (Samvidhaan Hatya Diwas) घोषित किए जाने की घोषणा पर नगर…
जेएनयू हिंसा

जेएनयू हिंसा : दिल्ली पुलिस ने आइशी घोष समेत नौ आरोपियों की पहचान

Posted by - January 10, 2020 0
नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस ने जेएनयू कैंपस में हुई हिंसा मामले में शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की। पुलिस ने बताया…
AK Sharma

खेरागढ़ नगर पंचायत अध्यक्ष के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हुए नगर विकास व ऊर्जा मंत्री

Posted by - May 27, 2023 0
लखनऊ/खेरागढ़। प्रदेश के नगर विकास एव ऊर्जा मंत्री एके शर्मा (AK Sharma)  नगर पंचायत खेरागढ़, आगरा के नवनिर्वाचित प्रतिनिधियों के…