पीएम मोदी की नई टीम 16 महिला सांसदों ने ली शपथ

229 0

मोदी मंत्रिमंडल में अब कुल 11 महिला मंत्री हो गईं हैं। इनमें से 2 को पहले से ही कैबिनेट में भी जगह मिली हुई है। जिसमें निर्मला सीतारमण देश की वित्त मंत्री हैं तो वहीं स्मृति ईरानी भी केंद्रीय कैबिनेट मंत्री हैं। बुधवार को जिन 43 नए मंत्रियों ने शपथ ग्रहण की उनमें 7 महिलाएं भी शामिल रहीं। सभी सात महिला सांसदों ने राज्य मंत्री की शपथ ली। साध्वी निरंजन ज्योति और रेणुका सिंह पहले से ही राज्य मंत्री हैं। 7 महिला मंत्रियों में अनुप्रिया पटेल, मीनाक्षी लेखी, अन्नपूर्णा देवी, दर्शना विक्रम जरदोश, शोभा करंदलाजे, प्रतिमा भौमिक और भारती पवार शामिल हैं।

शोभा करंदलाजे कर्नाटक बीजेपी की दिग्गज नेता मानी जाती हैं। शोभा ने अपना राजनीतिक जीवन 1994 में शुरू किया था। शोभा करंदलाजे बहुत कम उम्र में आरआरएस से जुड़ गई थीं। शोभा करंदलाजे को बीजेपी में 2004 में एमएलसी बनाया गया था। इसके बाद 2008 में उन्हें यशवंतपुर (बेंगलुरु) से विधायक चुना गया। बीजेपी सरकार में उन्हें पंचायती राज मंत्री बनाया गया।

नई दिल्ली लोकसभा सीट से सांसद मीनाक्षी लेखी को मोदी कैबिनेट में शामिल किया गया है। पेशे से वकील मीनाक्षी लेखी पार्टी और सरकार का पक्ष संसद लेकर समाचार चैनलों तक में मजबूती से रखती रही हैं। 54 वर्षीय लेखी को मोदी मंत्रिमंडल में शामिल कर एक बड़ी जिम्मेदारी दी गई है। मीनाक्षी लेखी ने 2014 में नई दिल्ली सीट से कांग्रेस के अजय माकन को भारी मतों से हराया था।

झारखंड से बीजेपी की सांसद अन्‍नपूर्णा देवी को भी मोदी कैबिनेट में जगह मिली है। अन्‍नपूर्णा देवी को केंद्र सरकार में राज्य मंत्री बनाया गया है। सांसद के रूप में उनका यह पहला कार्यकाल है। वह झारखंड और बिहार से 4 बार विधायक भी रह चुकी हैं। उन्होंने झारखंड सरकार में कैबिनेट मंत्री के रूप में काम किया है। अन्‍नपूर्णा देवी सिंचाई, महिला एवं बाल कल्याण जैसे विभागों की मंत्री रह चुकी हैं।

महाराष्ट्र के डिंडोरी क्षेत्र से सांसद भारती पवार को भी कौबिनेट में जगह मिली है। भारती को महिला और आदिवासी समाज की होने की वजह से तरजीह दी गई है। भारती पवार पहली बार लोकसभा का चुनाव जीतकर संसद पहुंची हैं। सार्वजनिक जीवन में आने के पहले वे एक डॉक्टर थीं, उनके पास एमबीबीएस की डिग्री है।

मिर्जापुर विध्यांचल क्षेत्र से अपना दल की अनुप्रिया पटेल को मंत्रिमंडल में जगह मिली, जो ओबीसी वर्ग से आती हैं। करीब 40 वर्षीय पटेल यूपी के मिर्जापुर से सांसद हैं। 2014 में जब मोदी सरकार बनी थी तब अनुप्रिया को केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री बनाया गया था। लेकिन 2019 में जब दूसरी बार मोदी सरकार बनी तो अपना दल (एस) को मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिल पाई थी।

पश्चिम त्रिपुरा की सांसद प्रतिमा भौमिक ने केंद्रीय राज्य मंत्री के रूप में शपथ ली। 52 वर्षीय सांसद 2019 में पश्चिम त्रिपुरा निर्वाचन क्षेत्र से सांसद चुनी गईं। प्रतिमा भौमिक लोकसभा सदस्य सलाहकार समिति की सदस्य भी हैं।

Related Post

किसान नेताओं के फोन की भी जासूसी कर रही सरकार! कक्का बोले- हमारे भी नंबर सर्विलांस पर

Posted by - July 23, 2021 0
केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसान जंतर-मंतर पर ‘किसान संसद’ लगा रहे हैं। इस…
बिहार-झारखंड की टॉपर बॉबी प्रशांत

मिलिए बिहार-झारखंड की टॉपर बॉबी प्रशांत से, IAS बन करना चाहती हैं देश की सेवा

Posted by - July 16, 2020 0
पूर्णिया। सीबीएसई 10वीं की परीक्षा के घोषित नतीजों में भवानीपुर की एक किसान की बेटी बॉबी प्रशांत ने 99.2 प्रतिशत…
Anganwadi centers

बच्चों को आंगनबाड़ी केन्दों पर शिक्षित और संस्कारित करना आपकी जिम्मेदारी : आनंदीबेन पटेल

Posted by - January 8, 2021 0
लखनऊ। लखनऊ जनपद में स्थित 40 आंगनबाड़ी केन्दों (Anganwadi centers) को सुविधा सम्पन्न बनाये जाने के लिए आवश्यक सामग्री के…