PM Modi

पीएम मोदी वाराणसी को शिक्षा और खेल के लिए देंगे 1565 करोड़ के तोहफे

56 0

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi)  शनिवार को अपने संसदीय क्षेत्र में शिक्षा के मंदिर अटल आवासीय विद्यालय और शिवालय रूपी इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम की सौगात देंगे। प्रधानमंत्री वाराणसी पहुंचकर प्रदेश के 16 अटल आवासीय विद्यालय का वर्चुअल उद्घाटन करेंगे और गंजारी में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम की आधारशिला रखने के साथ ही जनसभा को सम्बोधित करेंगे। इस मौके पर क्रिकेट के नामचीन खिलाड़ी भी मौजूद रहेंगे।

पीएम (PM Modi) वाराणसी में कुल 1565 करोड़ की सौगात देंगे। मोदी रुद्राक्ष कंवेंशन सेंटर में सांसद सांस्कृतिक महोत्सव में कलाकारों की प्रस्तुति देखकर उनको सम्मानित भी करेंगे और सांसद प्रतियोगिता काशी 2023 का पोर्टल लांच करेंगे। महिलाओं के आरक्षण के लिए लाए गए नारी शक्ति वंदन अधिनियम के लोक सभा और राज्यसभा से पारित होने बाद पहली बार अपने संसदीय क्षेत्र आ रहे प्रधानमंत्री का स्वागत नारी शक्ति करेंगी। पीएम सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय में करीब पांच हज़ार से अधिक महिलाओं से संवाद भी करेंगे। पीएम का दोपहर करीब 12:30 वाराणसी पहुंचना संभावित है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) पीएम की अगवानी के साथ सभी कार्यक्रमों में मौजूद रहेंगे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) की सरकार में सिर्फ अमीरों के बच्चे ही बोर्डिंग सरीखे स्कूलों में ही नहीं पढ़ेंगे बल्कि श्रमिकों के बच्चे भी बोर्डिंग स्कूलों में अच्छी शिक्षा ग्रहण करेंगे। प्रदेश के 16 मंडलों में 1115 करोड़ रुपये की लागत से बनाए गए अटल आवासीय विद्यालय का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वाराणसी से करेंगे। काशी क्षेत्र के अध्यक्ष दिलीप सिंह पटेल ने पत्रकार वार्ता में बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगभग 12:30 बजे वाराणसी एयरपोर्ट पहुंचेंगे वहां से वे सीधे राजातालाब गंजारी पहुंचकर 450 करोड़ रुपये की लागत से 30 एकड़ में बनने वाले अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम की आधारशिला रखेंगे। इस दौरान 1983 क्रिकेट विश्वकप के विजेता खिलाड़ियों और अन्य नामचीन क्रिकेट के खिलाड़ी भी मौजूद रहेंगे। लगभग 30 हज़ार क्षमता वाले स्टेडियम की वास्तुशैली काशी और सनातन धर्म के अनुकूल होगी जिसमे भगवान शिव की महिमा दिखेगी। अर्धचंद्राकार छत, त्रिशूल के आकार की फ्लड-लाइट, घाट की सीढ़ियों पर आधारित बैठने की व्यवस्था, बिल्डिंग पर बिल्विपत्र के आकार की धातु की चादरों के डिजाइन विकसित किए गए हैं। उन्होंने बताया कि गंजारी में ही प्रधानमंत्री एक बड़ी जनसभा को सम्बोधित भी करेंगे। पीएम जनसभा में जनता के बीच से होते हुए मंच तक पहुंचेंगे।

काशी क्षेत्र के अध्यक्ष ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) गांजरी से सम्पूर्णानंद संस्कृत विश्विद्यालय पहुंचेंगे। नारी शक्ति वंदन विधेयक पास होने के बाद पहली बार वाराणसी पहुंच रहे पीएम का स्वागत करीब 5 हज़ार मातृशक्ति पुष्प वर्षा से करेंगी। प्रधानमंत्री इन महिलाओं से संवाद भी करेंगे। काशी क्षेत्र की बेटी बचाव बेटी पढ़ाओ की संयोजक सुष्मिता सेठ ने बताया कि पीएम का स्वागत डमरू वादन से होगा और महिलाएं शंखनाद से अभिनन्द करेंगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अंतिम कार्यक्रम रुद्राक्ष अंतर्राष्ट्रीय कन्वेशन सेंटर में है। यहाँ पीएम लगभग 1115 करोड़ रुपये की लागत से निर्माण श्रमिकों के बच्चों और कोविड-19 महामारी के कारण अनाथ हुए बच्चों के लिए बनाए गए 16 अटल आवासीय विद्यालयों का वर्चुअल उद्घाटन करेंगे। कक्षाएँ, खेल मैदान, मनोरंजक क्षेत्र, एक मिनी सभागार, छात्रावास परिसर, मेस और कर्मचारियों के लिए आवासीय फ्लैट हैं। इन आवासीय विद्यालयों में से प्रत्येक में लगभग 1000 छात्रों को समायोजित किया जाएगा।

हर उम्र को अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए काशी में क़रीब 20 दिनों तक आयोजित हुई काशी सांसद सांस्कृतिक महोत्सव कार्यक्रम ने एक बड़ा मंच दिया। इसमें 17 विधाओं में 37,000 लोगों ने भागीदारी की। पीएम रुद्राक्ष इंटरनेशनल कन्वेशन सेण्टर में जनपद स्तर पर चुने गए प्रतिभागियों की प्रस्तुति देखेंगे और उनको सर्टिफिकेट भी देंगे।

गंजारी में पीएम के कार्यक्रम में रहने वाली क्रिकेट हस्तियां

रोजर बिन्नी,पूर्व क्रिकेटर व अध्यक्ष बीसीसीआई , सचिन तेंदुलकर ,सुनील गावस्कर, रवि शास्त्री, कपिल देव, कर्सन घावरी, दिलीप वेंगसरकर, मदन लाल, गुंडप्पा विश्वनाथ, गोपाल शर्मा, इसके अलावा सेक्रेटरी बीसीसीआई जय शाह, वाइस प्रेजिडेंट, बीसीसीआई राजीव शुक्ला

Related Post

UP Budget

योगी सरकार के बजट में शिक्षा का मान, आस्था का सम्मान और महापुरुषों पर अभिमान

Posted by - February 24, 2023 0
लखनऊ। योगीराज में सियासी परिवारों से नहीं, बल्कि आस्था के प्रतीकों व महापुरुषों से युवाओं का व्यक्तित्व निर्माण हो रहा…
cm yogi

शैक्षणिक कार्य अवधि में रैली, प्रभात फेरी, मानव श्रृंखला और गोष्ठी का आयोजन नहीं होगा

Posted by - November 4, 2022 0
लखनऊ। परिषदीय विद्यालयों में निर्धारित शिक्षण अवधि में कोई भी शिक्षक विद्यालय प्रांगण से बाहर नहीं रहेगा। शिक्षक शिक्षण अवधि…