PM MODI IN WEST BANGAL

बंगाल में बोले मोदी -“दीदी वाराणसी में तो आपको तिलक के साथ चोटी वाले लोग भी मिलेंगे”

218 0
नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल के दक्षिण 24 परगणा में पीएम मोदी (PM Modi) ने कहा कि  दीदी की पार्टी अब कह रही है कि अब वह वाराणसी से लोकसभा चुनाव लड़ेंगी। इससे दो बातें साफ होती हैं, एक तो दीदी ने बंगाल में अपनी पराजय स्वीकार कर ली है। दूसरा- दीदी अब बंगाल के बाहर अपने लिए जगह तलाश करने में जुट गई हैं।
वाराणसी में तो आपको तिलक के साथ चोटी वाले भी मिलेंगे
उन्होंने कहा कि दीदी वहां आपको तिलक वाले लोग बहुत मिलेंगे, चोटी वाले लोग भी बहुत मिलेंगे। यहां आप जय श्री राम के आह्वान से चिढ़ती हैं। वहां आपको हर-हर महादेव भी सुनने को मिलेगा। दीदी, ओ दीदी, फिर आप क्या करेंगी? मेरी आपसे एक ही प्रार्थना है, बनारस के लोगों पर, यूपी के लोगों पर गुस्सा मत करिएगा दीदी।  यूपी-बनारस के लोगों ने मुझे इतना प्यार दिया है, वो आपको भी बहुत स्नेह देंगे दीदी।
जब अंग्रेजों ने हमारी एकता में फूट डालने की कोशिश की थी तो नेताजी सुभाष ने कहा था- भारत एक है और हर भारतीय की आशाएं, आकांक्षाएं एक जैसी हैं। आज बहुत पीड़ा होती है, जब नेताजी की इस सोच के बजाय तृणमूल कांग्रेस और ममता दीदी बोहिरागोतो की बात करती हैं।

दीदी आपको टीएमसी सहित ‘नबन्ना’ छोड़कर जाना पड़ेगा

पीएम मोदी (PM Modi) ने कहा कि दीदी, आप बंगाल की जनता पर विश्वास करिए। वो अपना निर्णय दे चुकी है। ये तय हो गया है कि आपको अब टाका-मार-कम्पनी यानि टीएमसी सहित ‘नबन्ना’ छोड़कर जाना पड़ेगा।

हार देख टीएमसी ने दीदी को दूसरी सीट से लड़ाया

नंदीग्राम में अपनी हार होते देख टीएमसी ने ये तय कर लिया था कि ममता दीदी को दूसरी सीट से भी लड़ाया जाए। लेकिन कुछ समझदार लोगों ने फिर दीदी को स्पष्ट कहा कि ये उनकी दूसरी बड़ी गलती होगी।

कला को आगे बढ़ाने के लिए भाजपा सरकार प्रतिबद्ध

पीएम मोदी (PM Modi) ने कहा कि मैं पश्चिम बंगाल के कला प्रेमियों और हर क्रिएटिव साथी को आश्वस्त करूंगा कि पश्चिम बंगाल की भाजपा सरकार बांग्ला साहित्य, बांग्ला सिनेमा और यहां की धरोहरों के लिए सकारात्मक माहौल बनाएगी, इसके लिए तेजी से काम करेगी।

पश्चिम बंगाल में इलाज में कटमनी चलता है:पीएम मोदी

आज गरीब से गरीब को इलाज पर कम से कम खर्च करना पड़े, इसके लिए हर संभव कोशिश केंद्र सरकार कर रही है। लेकिन पश्चिम बंगाल में इलाज में भी कटमनी चलता है। यही वजह है कि दीदी की सरकार आयुष्मान भारत योजना से जुड़ने के बाद वापस हट गई।

दीदी बंगाल में फास्ट ट्रैक कोर्ट बनने की अनुमति नहीं दे रही हैं

केंद्र सरकार, महिलाओं के खिलाफ जघन्य अपराधों की जल्द सुनवाई के लिए देश भर में एक हजार से ज्यादा फास्ट ट्रैक कोर्ट बनवा रही है। लेकिन यहां दीदी की सरकार ने इसकी स्वीकृति ही नहीं दी है।

Related Post

राम मंदिर ट्रस्ट

राम मंदिर ट्रस्ट में है इन 15 सदस्यों के नाम, हिंदू पक्ष के वकील परासरण भी शामिल

Posted by - February 5, 2020 0
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को लोकसभा के बजट सत्र में अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर…

भूलकर भी ना करें धनतेरस पर ये गलती, वरना नही बरसेगी लक्ष्मी जी की कृपा

Posted by - October 18, 2019 0
लखनऊ डेस्क। मनोकामनाओं को पूरा करने वाला त्यौहार धनतेरस आ गया है। धनतेरस के दिन सौभाग्य और सुख की वृद्धि…