PepsiCo

‘टाइडी ट्रेल्स’ के लिए पेप्सीको इंडिया और यूनाईटेड वे ने मिलाया हाथ

442 0

केन्द्र सरकार के ‘स्वच्छता ही सेवा’ अभियान की कड़ी में पेप्सीको इंडिया (Pepsico) ने यूनाईटेड वे दिल्ली के साथ साझेदारी में ‘टाइडी ट्रेल्स’ का लॉन्च किया है। इस विशेष अभियान का उद्देश्य उत्तर प्रदेश में प्लास्टिक कचरा प्रबंधन के लिए जागरुकता बढ़ाना है।

अभियान के तहत, एक विशेष मोबाईल वैन स्थापित की जाएगी, जो मथुरा-वृंदावन के 200 से ज्यादा प्रतिष्ठानों में जाकर लोगों द्वारा छोड़ा गया प्लास्टिक कचरा एकत्रित करेगी। इस अभियान का उद्देश्य लोगों को अपने स्थानीय पर्यावरण स्वच्छ रखने एवं ‘टाइडीनेस’ (स्वच्छता) का विकास करने करने के लिए प्रोत्साहित करना है।

पेप्सीको इंडिया एवं यूनाईटेड वे दिल्ली दुकानदारों के समुदाय के साथ मिलकर प्लास्टिक कचरे का निस्तारण करने के लिए व्यवहार में परिवर्तन लाएंगे। प्लास्टिक कचरा प्रबंधन के बारे में जन जागरुकता लाने के लिए आम जनता के साथ दुकानदार समुदाय के लिए जमीनी स्तर पर समारोह, ऑनलाईन शैक्षिक कार्यशालाओं जैसी गतिविधियों का आयोजन होगा एवं जानकारीयुक्त सामग्री का वितरण किया जाएगा। इसके अलावा, ग्राहकों द्वारा एकत्रित किए गए प्लास्टिक कचरे को पृथक किया जाएगा एवं उसके कुछ हिस्से को रिसाईकल कर उनसे उपयोगी उत्पाद जैसे कुर्सियां एवं टेबल आदि बनाए जाएंगे, जिन्हें बाद में विभिन्न सार्वजनिक स्थलों पर स्थापित किया जाएगा।

अभियान के बारे में सचिन गोलवलकर, सीईओ, यूनाईटेड वे दिल्ली ने कहा, ‘‘यूनाईटेड वे दिल्ली स्वच्छ भारत मिशन में योगदान देने के लिए प्रतिबद्ध है और कॉर्पोरेट पार्टनर पेप्सीको इंडिया के सहयोग से टाइडी ट्रेल्स अभियान पर्यावरणप्रेमी शहर व समुदाय बनाने के लिए सस्टेनेबिलिटी डेवलपमेंट गोल (एसडीजी) 11 के अनुरूप है। जहां यह अभियान एक ओर प्लास्टिक का प्रभावशाली प्रबंधन करेगा, वहीं इसका उद्देश्य स्थानीय समुदाय के बीच दीर्घकालिक व स्थायी प्रभाव के लिए एम्बेसडर्स व लीडर्स का निर्माण करना भी है। ’’

अहमद अल शेख, प्रेसिडेंट, पेप्सीको इंडिया ने कहा, ‘‘प्लास्टिक कचरा प्रबंधन की चुनौती का समाधान करने के लिए साझेदारियों का विकास एवं व्यवहार में परिवर्तन लाने के लिए जागरुकता का बढ़ाया जाना जरूरी है। विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर और केन्द्र सरकार के ‘स्वच्छता ही सेवा’ अभियान के अनुरूप, हम टाइडी ट्रेल्स का लॉन्च करके बहुत खुश हैं। यह उत्तर प्रदेश में यूनाईटेड वे दिल्ली के साथ साझेदारी में एक अद्वितीय अभियान है। पेप्सीको इंडिया में हम ऐसी दुनिया के निर्माण का प्रयास कर रहे हैं, जहां पर प्लास्टिक का कचरा न हो। इस तरह के अभियान प्लास्टिक कचरे के निस्तारण के लिए एक पर्यावरणप्रेमी परिवेश के निर्माण में काफी कारगर होंगे।’’

अहमद ने कहा, ‘‘पेप्सीको इंडिया रिसाईक्लिंग एवं प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट के बारे में बच्चों को शिक्षित करने का महत्व समझता है। ‘टाइडी ट्रेल्स’ अभियान घर व समुदायों में निर्मित होने वाले प्लास्टिक कचरे को रिसाईकल कर उन्हें पुनः इस्तेमाल योग्य बनाने के रचनात्मक विचार साझा करने के लिए स्थानीय स्कूलों एवं विद्यार्थियों को ऑनलाईन प्रतियोगिताओं में संलग्न करेगा।’’

पेप्सीको इंडिया 2021 तक अपनी 100 फीसदी प्लास्टिक पैकेजिंग के बराबर प्लास्टिक को एकत्रित करने, पृथक करने और उसका पर्यावरणप्रेमी तरीके से प्रबंधन करने के लिए विभिन्न राज्यों में काम कर रहा है। इस उद्देश्य के लिए काम करते हुए पेप्सीको इंडिया मथुरा-वृंदावन में टाइडी ट्रेल्स चला रहा है और जल्द ही इसे अन्य राज्यों में ले जाया जाएगा।

Related Post

allahabad-high-court

टेंडर प्रक्रिया में वक़्त बर्बाद न करें, तीन से चार महीने में पूरा करें वैक्सीनेशन : इलाहाबाद हाईकोर्ट

Posted by - May 8, 2021 0
इलाहाबाद हाई कोर्ट (Allahabad High Court ) ने कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार…
anandi patel

UP Budget पर बोलीं आनंदीबेन पटेल, समावेशी विकास और स्वावलम्बन पर दिया जोर

Posted by - February 22, 2021 0
लखनऊ। योगी सरकार ने सोमवार को अपने कार्यकाल का अंतिम बजट पेश किया है। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने बजट को समावेशी…