पद्म पुरस्कारों के लिए केजरीवाल सरकार भेजेगी सिर्फ स्वास्थ्यकर्मियों के नाम, जनता करेगी चुनाव

458 0

सीएम अरविंद केजरीवाल ने आज डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से अपनी सरकार के एक बहुत बड़े फैसले के बारे में जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि दिल्ली की ओर से पद्म पुरस्कारों के लिए केंद्र सरकार को जिनके नाम भेजे जाएंगे उनमें सिर्फ डॉक्टरों व स्वास्थ्यकर्मी होंगे।दिल्ली सरकार ने एक ईमेल आईडी (padmaawards.delhi@gmail.com) भी बताया है जिस पर जनता खुद उन डॉक्टरों के नाम बता सकती है।

केजरीवाल ने कहा कि बीते डेढ़ साल से स्वास्थ्यकर्मी जिस तरह से परिश्रम कर लोगों की जान बचा रहे हैं उसके लिए हम सब उनके आभारी रहेंगे।केजरीवाल ने ये भी कहा कि देशभर में हमारी ही ऐसी सरकार है जिसने कोरोना से शहीद होने वाले फ्रंट लाइन वर्करों को एक करोड़ की सम्मान राशि दी है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस बार पद्म अवार्ड के लिए केवल डॉक्टर्स और स्वास्थ्यकर्मियों के नाम केंद्र सरकार को भेजने का निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली सरकार पद्म भूषण, पद्म विभूषण और पद्मश्री अवार्ड के लिए जिनके नाम केंद्र को भेजेगी, वह नाम दिल्ली की जनता बताएगी।

मुख्यमंत्री ने मीडिया से बातचीत में यह भी कहा कि दिल्ली सरकार पूरे देश में अकेली सरकार है, जिसने कोरोना काल में लोगों की सेवा करते-करते शहीद हुए स्वास्थ्यकर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स के परिवारों को एक-एक करोड़ रुपये की सम्मान राशि दी है। अब यह समय सभी डॉक्टर्स और स्वास्थ्यकर्मियों का सम्मान करने का है कि हम सब उनके कितने शुक्रगुजार हैं?

शरद पवार ने दिया अखिलेश का साथ, सपा के साथ गठबंधन कर लड़ेंगे यूपी 2022 विधानसभा चुनाव

मुख्यमंत्री ने डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि कोरोना काल में डॉक्टर, मेडिकल स्टाफ, स्वास्थ्यकर्मियों और पैरामेडिकल ने लोगों की बहुत सेवा की है। अपनी जान को दांव पर लगाकर इन्होंने लोगों की जान बचाई है। मैं कई डॉक्टर और स्वास्थ्यकर्मियों को जानता हूं जो कई-कई दिनों तक अपने घर नहीं गए। उन लोगों ने रात-दिन, 24 घंटे मेहनत करके हमलोगों की जान बचाई।

Divyansh Singh

मिट्टी का तन, मस्ती का मन; छड़ भर जीवन, मेरा परिचय।

Related Post

‘मुल्ले काटे जाएंगे’ नारेबाजी पर सियासत गर्म, हिन्दू रक्षा दल के प्रमुख ने कहा- हमने कुछ गलत नहीं किया

Posted by - August 11, 2021 0
दिल्ली के जंतर मंतर में पिछले दिनों हिन्दू संगठनों ने एक कार्यक्रम आयोजित किया जिसमें मुसलमानों को लेकर बेहद आपत्तिजनक…
तीन दुर्लभ आदिवासियों को बचाने की अपील

यूनेस्को ने 70 हज़ार वर्ष पुरानी भाषा बोलने वाले तीन आदिवासियों को बचाने की अपील

Posted by - April 22, 2020 0
नई दिल्ली। पीएम मोदी जी 70 हज़ार वर्ष पुरानी भाषा बोलने वाले तीन आदिवासियों को बचा लीजिए। अंडमान निकोबार में…