ओवैसी ने सियासी दलों पर बोला हमला, कहा- यूपी में नहीं है मुसलमानों का कोई नेता

73 0

कानपुर। ऑल इंडिया मजलिसे इत्तेहादुल मुस्लीमीन के राष्ट्रीय अध्यक्ष और सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने रविवार को जाजमऊ में आयोजित सभा में सभी सियासी दलों पर जमकर हमला बोला। बड़ी संख्या में मौजूद लोगों के बीच उन्होंने कहा कि भाजपा, सपा और बसपा मुसलमानों को सिर्फ इस्तेमाल कर रही हैं।
इन दलों के बीच मुसलमानों की हालत बैंड बजाने वालों जैसी हो गई है, जिसकी जरूरत दूल्हे को शाही कुर्सी पर बैठाने के बाद खत्म हो जाती है। कहा कि यदि अपनी सियासी अहमियत बनानी है तो अपने लिए वोट करें।

ओवैसी ने कहा कि यूपी में ठाकुरों, ब्राह्मणों, यादवों, अनुसूचित जातियों का एक बड़ा नेता जरूर है, लेकिन मुसलमानों का कोई भी ऐसा नेता नहीं है, जो उनके की हक की बात करता हो। उन्होंने सीसामऊ विधायक इरफान सोलंकी और कैंट विधायक सोहिल अंसारी का नाम लिए बगैर कहा कि यहां के मुस्लिम विधायकों ने सीएए और एनआरसी के खिलाफ कभी भी आवाज नहीं उठाई।

ओवैसी ने कहा कि उन्हें पूरे देश में 100 ओवैसी तैयार करने हैं, जिसकी शुरुआत उत्तर प्रदेश से होगी। कहा कि जिस तरह भाजपा पूरे हिंदू समाज के वोट की बात करती है, उसी तरह से सभी मुसलमानों के वोट की बात करने वाला यूपी में कोई नहीं है।

मौलाना कलीम की गिरफ्तारी का जताया विरोध

इसीलिए वह यूपी में मुसलमानों को एकजुट करने आए हैं। ओवैसी ने एटीएस द्वारा मौलाना कलीम सिद्दीकी की गिरफ्तारी का विरोध जताया। इस मौके पर जेल में बंद माफिया अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन ने जेल से भेजे गए अतीक का पत्र पढ़कर लोगों को सुनाया। इसमें अतीक को मुजरिम बनाने का आरोप सपा पर लगाने की बात कही।

माफिया अतीक को चुनाव लड़ाएंगे अवैसी 
एआईएमआईएम के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने रविवार को जाजमऊ में आयोजित सभा में संकेत दिए कि सपा और बसपा की सियासत का शिकार हुए माफिया अतीक अहमद कानपुर से चुनाव लड़ेगा। यही नहीं, वह प्रदेश विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी का टिकट भी बांटेगा। पार्टी सूत्रों के मुताबिक, अतीक को कैंट विधानसभा सीट से प्रत्याशी बनाया जा सकता है।

बता दें कि पिछले विधानसभा चुनाव में भी सपा के संस्थापक मुलायम सिंह यादव ने अतीक को कैंट से प्रत्याशी घोषित किया था, लेकिन ऐन वक्त पर अखिलेश यादव ने टिकट काट दिया था। टिकट कटने से पहले अतीक यहां कई दौर की बैठकें भी कर चुका था।
वर्तमान में कैंट सीट से कांग्रेस के सोहिल अंसारी विधायक हैं। जाजमऊ में ओवैसी की सभा के दौरान अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन के अलावा उसके परिवार समेत करीब 300 समर्थक मौजूद थे। उसी दौरान यह चर्चा शुरू हो गई कि अतीक को ओवैसी कैंट से उतारने जा रहे हैं। मुस्लिम बहुल बाकी दो विधानसभा सीटों आर्यनगर और सीसामऊ में भी ओवैसी प्रत्याशी उतारने की योजना बना रहे हैं। इन सीटों पर उनकी पार्टी मजबूत प्रत्याशी की तलाश कर रही है।

लोगों को भावनात्मक रूप से जोड़ने की कोशिश
लोगों से भावनात्मक रूप से जुड़ने के लिए जेल में बंद अतीक का पत्र उसकी पत्नी शाइस्ता ने मंच से पढ़ा। इसमें अतीक को मुजरिम ठहराने और जेल भिजवाने के पीछे भाजपा से ज्यादा सपा सरकार को दोषी बताया गया। एक दिन पहले प्रयागराज में आयोजित ओवैसी की जनसभा में भी शाइस्ता ने अपने पति का पत्र पढ़ा था।

 

Related Post

Mamta Banerjee

ममता ने कोरोना संकट के लिए PM मोदी को जिम्मेदार ठहराया, बोलीं- एक वैक्सीन एक दाम क्यों नहीं?

Posted by - April 22, 2021 0
कोलकाता। ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) ने दक्षिण दिनाजपुर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कोविड वैक्सीन के मुद्दे पर…

तेजस ट्रेन में अंडरवियर पहनकर घूम रहे थे जदयू विधायक, यात्रियों ने टोका तो कहा- मैं विधायक हूं

Posted by - September 3, 2021 0
अपने बयानों को लेकर लगातार चर्चा में रहने वाले बिहार के जदयू विधायक गोपाल मंडल एकबार फिर से चर्चा में…