नोबेल विजेता अभिजीत बनर्जी

नोबेल विजेता अभिजीत बनर्जी बोले-दिल्ली के सरकारी स्कूलों प्रदर्शन काबिले तारीफ

449 0

नई दिल्ली। नोबेल पुरस्कार विजेता अभिजीत बनर्जी ने शनिवार को निजी स्कूलों की तुलना में ‘बेहतर प्रदर्शन’ करने के लिए दिल्ली सरकार के स्कूलों की सराहना की है। उन्होंने कहा कि सरकारी स्कूलों में शिक्षा के परिणाम निजी संस्थानों की तुलना में बेहतर हो सकते हैं। इस बात को सच साबित कर दिखाया है दिल्ली के सरकारी स्कूलों ने।

अभिजीत बनर्जी ने कहा कि दिल्ली की एजेंसियां शिक्षा के लिए संसाधन आवंटन के साथ ‘उदार’ रही

अभिजीत बनर्जी ने कहा कि राज्य की एजेंसियां शिक्षा के लिए संसाधन आवंटन के साथ ‘उदार’ रही हैं। जो शिक्षकों के वेतन और प्रणाली जैसे पहलुओं में दिखाई देती है। उन्हें बेहतर प्रदर्शन करने के लिए ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता है। एमआईटी प्रोफेसर का यह बयान दिल्ली विधानसभा चुनाव से कुछ सप्ताह पहले आया है।

इतिहास लेखन में कुछ महत्वपूर्ण तथ्यों को किया गया नजरअंदाज : पीएम मोदी 

अभिजीत बनर्जी ने पत्रकारों से कहा कि क्या मुझे लगता है कि आप औसत निजी स्कूल की अपेक्षा सरकारी तंत्र में बेहतर करने की आकांक्षा कर सकते हैं? हां दिल्ली के सरकारी स्कूलों ने वास्तव में ऐसा किया है। दिल्ली सरकारी स्कूल प्रणाली में परिणाम, नगरपालिका स्कूलों की तरह सरकारी स्कूल प्रणाली औसत निजी स्कूल से बेहतर है। बनर्जी ने कहा कि दिल्ली सरकार के स्कूलों ने निजी स्कूलों की तुलना में ‘बेहतर प्रदर्शन किया है।

शिक्षा क्षेत्र में वित्तीय स्थिति आई बुरी खबर

उन्होंने कहा कि भारत के संघीय ढांचे में शिक्षा मुख्यत: राज्य का विषय है, लेकिन शिक्षा क्षेत्र में वित्तीय स्थिति ‘बुरी खबर’ है। क्योंकि इस बार आम बजट में कम संसाधन आवंटित किए जाएंगे। वह केंद्र सरकार द्वारा शिक्षा बजट में 3,000 करोड़ रुपये की कटौती किये जाने की संभावना पर एक खास सवाल का जवाब दे रहे थे। हालांकि उन्होंने कहा कि वित्तीय संसाधनों के बजाय, केंद्र का ध्यान मानव संसाधन विकास, विश्वविद्यालय अनुदान आयोग और पाठ्यक्रम तय करने में सुधार पर होना चाहिए।

Related Post

JP Nadda

लाईब्रेरी में अध्ययन करो, तुम्हारे कंधों पर भारत का भविष्य है: जेपी नड्डा

Posted by - June 10, 2022 0
गोरखपुर: भाजपा (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) ने शुक्रवार को कहा कि यह कार्यालय जीता जागता पार्टी…