Nitin Gadkari

नितिन गडकरी ने बुनियादी ढांचे के विकास के लिए ‘इनोवेशन बैंक’ का रखा प्रस्ताव

227 0

नई दिल्ली: केंद्रीय सड़क परिवहन (Central road transport) और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने बुनियादी ढांचे के विकास में ‘गुणवत्ता’ पर ध्यान केंद्रित करने के लिए नए विचारों, शोध निष्कर्षों और प्रौद्योगिकियों के लिए इनोवेशन बैंक की स्थापना का प्रस्ताव दिया है। वस्तुतः भारतीय सड़क कांग्रेस (आईआरसी) की 222वीं मध्यावधि परिषद बैठक के उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि आईआरसी से नई पहल की उम्मीद है, सभी इंजीनियरों के लिए नवाचार पर फोकस क्षेत्र होना चाहिए। सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय की एक विज्ञप्ति के अनुसार, नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने कहा कि आईआरसी को आईआईटी और दुनिया के वैश्विक संस्थानों की मदद से एक विश्व स्तरीय अत्याधुनिक प्रयोगशाला विकसित करनी चाहिए।

नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने कहा कि भारत को 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के दृष्टिकोण को पूरा करने में बुनियादी ढांचे के विकास की महत्वपूर्ण भूमिका है और सड़क का बुनियादी ढांचा उस क्षेत्र की समृद्धि से सीधे जुड़ा हुआ है। उन्होंने कहा कि सड़क अवसंरचना लोगों, संस्कृति और समाज को जोड़ती है और सामाजिक-आर्थिक विकास के माध्यम से समृद्धि लाती है।

मंत्री ने कहा कि पिछले आठ वर्षों में राष्ट्रीय राजमार्गों की लंबाई 50 प्रतिशत से अधिक बढ़कर 2014 के 91,000 किलोमीटर से बढ़कर अब लगभग 1.47 लाख किलोमीटर हो गई है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार 2025 तक राष्ट्रीय राजमार्ग नेटवर्क को 2 लाख किलोमीटर तक बढ़ाने की दिशा में समर्पित रूप से काम कर रही है। पिछले 8 वर्षों में, हमारी टीम ने कई विश्व रिकॉर्ड बनाए हैं, उन्होंने कहा।

100 बरस की हुई पीएम मोदी की मां, पैर धोकर लिया आशीर्वाद, लिखा- मां एक शब्द नहीं …

गडकरी ने कहा कि सरकार पूर्वोत्तर क्षेत्र के विकास के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि एनएचआईडीसीएल इस क्षेत्र में बुनियादी ढांचे के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। “इस क्षेत्र का राष्ट्रीय राजमार्ग हिस्सा 10 प्रतिशत है। अब तक, 45,000 करोड़ रुपये की लागत से 2344 किलोमीटर राजमार्ग का निर्माण किया गया है।” “हम निर्माण के लिए दुनिया की सबसे अच्छी और सबसे सफल तकनीक और नई सामग्री को अपनाने के लिए तैयार हैं। सिद्ध तकनीक का उपयोग और निर्माण लागत में कमी हमारे लिए दो सबसे महत्वपूर्ण ड्राइविंग बल हैं।

ऐसे प्रसन्न होते हैं शनि देव, देते है मनचाहा आशीर्वाद

Related Post

पीएम मोदी

25 दिसंबर को लखनऊ में पीएम मोदी अटल बिहारी वाजपेयी की प्रतिमा का करेंगे अनावरण

Posted by - December 22, 2019 0
लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आगामी 25 दिसंबर को लखनऊ के दौरे पर आ रहे हैं। बता दें कि पीएम मोदी…
न्यूनतम साझा कार्यक्रम जारी

‘महा विकास अघाड़ी’ गठबंधन का न्यूनतम साझा कार्यक्रम जारी

Posted by - November 28, 2019 0
मुंबई। महाराष्ट्र में नए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के शपथ ग्रहण से पहले शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस के गठबंधन ‘महा विकास अघाड़ी’ ने गुरुवार…
Dr. Urvashi Sahni

एशिया के सबसे प्रभावशाली समाज सेवियों की सूची में डॉ. उर्वशी साहनी शामिल

Posted by - December 4, 2020 0
लखनऊ। टैटलर मैगज़ीन द्वारा प्रकाशित एशिया की सबसे प्रभावशाली समाज सेवियों की सूची 2020 में स्टडी हॉल एजूकेशनल फाउंडेशन लखनऊ…