एनसीबी ने मेरे दामाद को झूठे केस में फंसाया- नवाब मलिक

25 0

मुंबई। ड्रग्स केस पर हो रही राजनीति के बीच महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और एनसीपी नेता नवाब मलिक ने नॉर्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो और केंद्र सरकार को एक बार फिर कठघरे में खड़ा कर दिया है। प्रेस कॉन्फ्रेंस कर नवाब मलिक ने कहा कि, मुझे राजनीतिक तौर पर निशाना बनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मेरे दामाद समीर खान को एनसीबी ने फंसाने की कोशिश की जिसके पीछे बीजेपी का हाथ था। नवाब मलिक ने एनसीबी का मजाक उड़ाते हुए कहा कि ये एजेंसी तंबाकू और गांजे में फर्क नहीं कर पाती। उधर नवाब मलिक के दामाद समीर की जमानत के खिलाफ एनसीबी ने हाईकोर्ट का रुख किया है।

उन्होंने कहा कि बीजेपी के लोग कह रहे हैं कि नवाब मलिक का दामाद ड्रग डीलर है। मेरे ऊपर कई तरह के राजनीतिक हमले हो रहे हैं। मेरे दामाद को एनसीबी ने फंसाया है। पूर्व मुख्यमंत्री (देवेंद्र फडणवीस) ने भी मुझ पर हमला किया। उन्होंने आगे कहा कि जब से मैंने मनीष भानुशाली और बीजेपी से उनके संबंध का मामला उठाया, उसके बाद से बीजेपी मुझपर हमला कर रही है।

बता दें कि पिछले साल अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद बॉलीवुड में शुरू हुई ड्रग्स की जांच के दौरान नवाब मलिक के दामाद समीर खान को भी एनसीबी ने ही गिरफ्तार किया था। कुछ दिनों पहले ही उसे जमानत मिल सकी है। दरअसल, नवाब मलिक ने आर्यन खान से जुड़े ड्रग्स केस में मनीष भानुशाली और केपी गोस्वामी के रोल पर सवाल खड़े किए थे, उन्होंने क्रूज पर पड़ी रेड को फर्जी तक करार दिया था। जिसके बाद उनको निशाने पर लिया गया था।

अब मलिक ने कहा कि बीजेपी नेता बोल रहे हैं कि मैं इस मामले पर इसलिए बोल रहा हूं क्योंकि मेरे दामाद ड्रग्स स्मल्गर हैं पूर्व सीएम तक ने यह कहा। लेकिन मैं बता दूं कि मेरे दामाद को 8 महीने बाद जमानत मिल चुकी है।

‘एनसीबी तंबाकू और गांजे में फर्क नहीं कर पाती’

नवाब मलिक ने कहा कि उनके दामाद को झूठे केस में फंसाया गया। वह बोले कि जिसे 200 किलो गांजा बताया गया था, बस साढ़े सात ग्राम मारिजुआना साहिस्ता फर्नीचरवाला के पास से मिला था। सीए रिपोर्ट में आया कि मिली चीज हर्बल तंबाकू है। सबसे बड़ा सवाल खड़ा होता है कि इतनी बड़ी एजेंसी एनसीबी तंबाकू और गांजे में फर्क नहीं कर पाती है।

मलिक बोले मेरी जानकारी के मुताबिक, ऐसी एजेंसियों के पास एक इंस्टेंट टेस्टिंग किट होती है जिससे पता चल जाता है कि रिकवर हुई चीज एनडीपीएस एक्ट में कवर होने वाली चीज है या फिर नहीं। मलिक ने आगे आरोप लगाया कि कोर्ट की रिपोर्ट यह सब कहती है। इसके हिसाब से एनसीबी ने लोगों को फ्रेम करने का काम किया।

नवाब मालिक की सुरक्षा बढ़ाई गई

महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। उनकी सुरक्षा Y श्रेणी से बढ़ाकर Y प्लस कर दी गई है। अब उनकी सुरक्षा में 4 सिपाही रहेंगे। पहले उनके साथ एक बॉडी गॉर्ड रहता था। नवाब मलिक ने जब से एनसीबी की क्रूज शिप ड्रग्स पार्टी की जांच में अनियमितता का उजागर करना शुरू किया है, तब से उन्हें फोन पर धमकी मिल रही है। इधर, नवाब मलिक के दामाद समीर की जमानत के खिलाफ एनसीबी ने बॉम्बे हाईकोर्ट याचिका दायर की है।  समीर खान के 27 सितंबर को शर्तों के साथ जमानत दी गई थी।

Related Post

दिल्ली मुख्यमंत्री केजरीवाल पर मिर्ची पाउडर फेंका गया, AAP विधायक ये लगाया भाजपा पर आरोप

Posted by - November 20, 2018 0
नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर एक व्यक्ति ने मिर्ची पाउडर फेंक दिया। घटना सचिवालय में ही घटित…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *