cm yogi

उत्तर प्रदेश के युवा दूसरों को दे रहे नौकरी : मुख्यमंत्री योगी

28 0

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने आजादी का अमृत महोत्सव के अवसर पर विधान भवन के समक्ष एक बार फिर रोजगार, नौकरी और युवाओं पर जोर देते हुए कहा कि युवा प्रदेश के विकास की रीढ़ हैं।

योगी (CM Yogi)  ने कहा कि उनकी सरकार प्रदेश के हर घर के युवाओं को नौकरी और रोजगार उपलब्ध कराने के लिए संकल्पित है। इसी का परिणाम है कि प्रदेश में जहां वर्ष 2016 में बेरोजगारी दर 18 प्रतिशत थी, वहीं अप्रैल 2022 में घटकर 2.9 प्रतिशत पर सिमट गई है। सरकार युवाओं के उज्जवल भविष्य को लेकर आशान्वित है। उन्हें रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए जा रहे हैं और साथ ही स्वरोजगार से भी बड़े पैमाने पर जोड़ा जा रहा है। इसका असर ये हो रहा है कि प्रदेश का युवा आज खुद के रोजगार के साथ साथ दूसरे युवाओं के रोजगार की भी व्यवस्था कर रहा है।

पिछले पांच साल में बेरोजगारी की दर में आई भारी कमी

मुख्यमंत्री योगी (CM Yogi)  ने अपने संबोधन में कहा कि विगत पांच वर्षों में प्रदेश के पांच लाख युवाओं को सरकारी नौकरियां दी गईं जबकि एक करोड़ 61 लाख युवाओं को निजी क्षेत्र के विभिन्न रोजगार उपलब्ध कराए गए। इतना ही नहीं प्रदेष के युवाओं को सषक्त बनाने के लिए 60 लाख से अधिक युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ा गया, जिससे प्रदेष में बेरोजगारी की दर में भारी गिरावट दर्ज की गई। वर्श 2017 से पूर्व जो युवा नौकरी के लिए देष के विभिन्न राज्यों में भटक रहा था, आज वही युवा दूसरों को नौकरी दे रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेष में रोजगार और नौकरी की संभावनाएं बढ़ाने में काफी सफलता मिली है।

यूपी ग्लोबल इंवेस्टर समिट से रोजगार को लगेंगे पंख

उन्होंने कहा कि सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल के पहले 100 दिन में ही 10 हजार युवाओं को सरकारी नौकरी देने के लक्ष्य को समय से पहले ही सौ प्रतिशत पूरा कर लिया था। इसके साथ ही प्रत्येक परिवार को कम से कम एक रोजगार उपलब्ध कराने के लिए प्रदेश में परिवार आईडी बनाकर किसी भी रोजगार से वंचित परिवारों को प्राथमिकता पर रोजगार के समुचित अवसर जल्द उपलब्ध कराए जाएंगे।

‘आजादी के अमृत महोत्सव’ पर सभी ने तिरंगे का मान बढ़ाने का लिया संकल्प: नेहा शर्मा

मुख्यमंत्री (CM Yogi)  ने कहा कि जनवरी-फरवरी 2023 को सरकार यूपी ग्लोबल इंवेस्टर समिट का आयोजन करने जा रही है, जिसकी तैयारी वृहद स्तर पर चल रही है। समिट में 10 लाख करोड़ रुपये के निवेश का लक्ष्य रखा गया है। इससे प्रदेश के युवाओं को रोजगार तो मिलेगा ही साथ में वह प्रदेश को आर्थिक रूप से मजबूत बनाने में अपनी अहम भूमिका निभा सकेंगे। समिट से युवाओं को प्रदेश में नौकरी के भी नये अवसर प्राप्त हो सकेंगे।

Related Post

आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम के दो जन्म प्रमाण पत्र मामले में कोर्ट ने तय किए आरोप

Posted by - August 18, 2021 0
समाजवादी पार्टी सांसद आजम खां के बेटे अब्दुल्ला आजम के दो जन्म प्रमाण पत्र मामले में एमपी-एमएलए कोर्ट में सांसद…
रामटहल चौधरी

झारखंड : बीजेपी सांसद रामटहल ने छोड़ी पार्टी, बोले-सच बोलने की मिली सजा

Posted by - April 10, 2019 0
झारखंड। बीजेपी पार्टी से रांची के सांसद रामटहल चौधरी ने बुधवार को पार्टी की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है…

बिहार में अगला विधानसभा चुनाव नीतीश कुमार के नेतृत्व में लड़ा जाएगा – गिरिराज

Posted by - October 20, 2019 0
पटना। मुहर के बाद केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के सुर बदले-बदले नजर आ रहे हैं। उन्होंने ने कहा कि मुख्यमंत्री…