Nag Devta

आषाढ़ की गुरु पूर्णिमा पर नाग देवता मेले का हुआ शुभारंभ

56 0

बाराबंकी: सावन माह से एक दिन पहले आषाढ़ की गुरु पूर्णिमा पर बाराबंकी के मंजीठा में नाग देवता (Nag Devta) मेले में बुधवार को श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ेगा। नाग देवता मेले का मंगलवार को विधिवत भाजपा सांसद उपेन्द्र सिंह रावत ने फीता काट कर शुभारंभ किया। मंजीठा में वर्षों से नाग देवता का मेला लगता चला आ रहा है। इस अवसर पर उन्होंने तालाब का सुंदरीकरण कराने और मंदिर के पीछे खड़ंजा मार्ग का चौड़ीकरण कराकर सड़क बनाने का आश्वासन दिया मजीठा में वर्षों से नाग देवता का मेला लगता चला आ रहा है। मेले में जिले के साथ ही अन्य दूरदराज के क्षेत्रों से भी बड़ी संख्या में श्रद्धालु आते हैं।

इस अवसर पर नाग बाबा के मठ पर दूध चावल चढ़ाकर मनौती मांगते हैं। आषाढ़ पूर्णिमा की रात से भारी संख्या मैं लोग आते हैं। बाराबंकी-हैदरगढ़ मार्ग सहित अन्य मार्गों पर जाम जैसे हालात बने रहते हैं। मेला क्षेत्र में बगैर धक्का मुक्की के निकलना आसान नहीं रहता है। मटकी को प्रसाद स्वरूप श्रद्धालु घरों में ले जाकर चारों कोनों में रख देते हैं। मटकी घर में होने से सर्प नहीं आते हैं।

मेले के उद्घाटन समारोह में जिला पंचायत अध्यक्ष राजरानी रावत, जिलाध्यक्ष किसान मोर्चा आशुतोष अवस्थी, लालता प्रसाद, प्रदीप सारंग, सुधीर सिंह सिद्धू, शिव स्वामी वर्मा, अन्तरिक्ष रावत, उमेश मिश्रा, गिरिजा शंकर धीमान, अशोक वर्मा, शेर बहादुर वर्मा, राज बहादुर वर्मा, राम सुमिरन, सत्यनाम, राकेश, मोहित, अंकित, अवधराम, पुष्पेन्द्र, वासुदेव, देवकी नंदन, शिवकुमार शर्मा सहित सैकड़ो की संख्या में लोग उपस्थित थे।

18 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिकों को मिलेगी मुफ्त में बूस्टर डोज़

Related Post

नेट बैंकिंग के जरिये विदेश में धन ट्रांसफर करता था सलीम

नेट बैंकिंग के जरिये विदेश में धन ट्रांसफर करता था सलीम

Posted by - March 2, 2021 0
यूपी एसटीएफ द्वारा अयोध्या से गिरफ्तार किये गये नेपाली नागरिक सलीम ने खुलासा किया है कि उसके साथ के कई अन्य नेपालियों ने फर्जी दस्तावेजों के जरिये बैंक खाता खोलवाकर रुपये लेन-देन कर रहे हैं। ऐसे लोगों ने यूपी के विभिन्न शहरों में यहां की आईडी तक बनवा रखी है। सलीम से पूछताछ के बाद एसटीएफ उसके ऐसे कई नेपाली नागरिकों की तलाश कर रही है। सलीम को सोमवार को गिरफ्तार किया गया था। वह वाट्सएप कॉल के जरिए पाकिस्तान, सऊदी अरब और सूडान के नागरिकों से भी बात भी करता था। उसके पास से फर्जी आधार कार्ड और नेपाली दस्तावेज बरामद हुए थे। शाहजहांपुर में 3 स्कूली छात्राएं लापता यूपी एसटीएफ के एक अधिकारी ने बताया कि सलीम की गिरफ्तारी के बाद उसके गहन पूछताछ की गयी। पूछताछ में बताया कि उसके साथ नेपाल से आये कई और साथियों ने यूपी के विभिन्न जिलों में फर्जी दस्तावेज तैयार कर विभिन्न बैंकों में खाते खुलवा रखे हैं जिनके जरिये वे लोग रुपये का ट्रांजेक्शन करते हैं। वे लोग नेट बैंकिग के जरिये विदेशों में धन ट्रांसफर कर रहे हैं। सलीम ने ऐसे अपने कई साथियों के नाम पते भी बताए हैं। सलीम से पूछताछ के बाद एसटीएफ ऐसे लोगों के बारे में पता लगाने में जुटी है। नेपाल के बांके जिले के लक्षनपुर, नेपालगंज का रहने वाले मो. सलीम खान को यूपी एसटीएफ ने कल गिरफ्तार किया था। दरअसल, एसटीएफ को काफी समय से सूचना मिल  रही थी कि एक संदिग्ध व्यक्ति अयोध्या व उसके आस पास के जिलों में अलग-अलग स्थान पर फर्जी दस्तावेजों के आधार पर अपनी पहचान को छिपाकर रह रहा है। इस सूचना पर एसटीएफ की एक टीम छानबीन में लगायी गयी थी। जांच में पता चला कि ये व्यक्ति नेपाली नागरिक सलीम खान है। उसने अपनी जन्म तिथि व अन्य पहचान छिपाकर फर्जी दस्तावेज से अपना आधार बनवाया है जिसका नम्बर 381360937629 है। उसी आधार पर उसने भारतीय मोबाइल सिम कार्ड लिया है और वर्ष-2016 में श्रावस्ती में इलाहाबाद व इण्डियन बैंक की हेमपुर ब्रांच में खाता संख्या खुलवाया है। यूपी पंचायत चुनाव में इस बार उम्मीदवारों को मिलेंगे ये चिन्ह…