‘मुल्ले काटे जाएंगे’ नारा लगाने के आरोप में BJP नेता अश्विनी उपाध्याय समेत 6 लोग हिरासत में

148 0

दिल्ली के जंतर-मंतर में बिना किसी इजाजत के बड़ी संख्या में हिन्दू संगठनों के लोग इकट्ठा हुए और तमाम मुस्लिम विरोधी नारे लगाए। मुुल्ले काटे जाएंगे, राम-राम चिल्लाएंगे का नारा जैसे ही सोशल मीडिया पर वायरल हुआ पुलिस हरकत में आई और उसने कार्यक्रम के आयोजकों से पूछताछ शुरु कर दी।

इस कार्यक्रम के प्रमुख बीजेपी नेता अश्विनी उपाध्याय,विनोद शर्मा, दीपक सिंह, विनीत क्रांति, प्रीत सिंह, दीपक को हिरासत में ले लिया गया है। यह जानकारी न्यूज़ एजेंसी एएनआई ने दिल्ली पुलिस के हवाले से दी है।अश्विनी उपाध्याय को पुलिस कनॉट प्लेस पुलिस स्टेशन ले गई थी जहां उनसे और अन्य लोगों से पूछताछ की जा रही थी।

बता दें कि दिल्ली पुलिस ने कहा था कि घटना में शामिल अश्विनी उपाध्याय और अन्य को गिरफ्तार किया जाएगा।  दिल्ली पुलिस कह रही है कि किसी भी तरह के सांप्रदायिक विद्वेष को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।  गौरतलब है कि इससे पहले आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्ला खान ने अश्विनी उपाध्याय के खिलाफ पुलिस में शिकायत करने के बाद ट्वीट करते हुए कहा था कि देश की राजधानी दिल्ली में संसद से कुछ ही दूर पर एक वर्ग को खुलेआम काटने की धमकी देने वाले गुर्गों के खिलाफ पुलिस कमिश्नर को लिखित शिकायत कर एनएसए और यूएपीए के तहत सख्त कार्रवाई की मांग की है. सबूत सामने होते हुए भी कार्रवाई में देरी आखिर क्यों हो रही है?

अश्विनी उपाध्याय ने पुलिस कमिश्नर को एक पत्र लिखकर सफाई दी।  उन्होंने अपने पत्र में लिखा कि 15 अगस्त की तरह 8 अगस्त भी एक ऐतिहासिक दिन है। 8 अगस्त 1942 को भारत छोड़ो आंदोलन शुरू किया गया था. इस ऐतिहासिक दिवस की वर्षगांठ मनाने के लिए ही 8 अगस्त को जंतर-मंतर पर सेव इंडिया फाउंडेशन द्वारा एक छोटा सा कार्यक्रम आयोजित किया गया था।  प्रीत सिंह संस्था के अध्यक्ष और अरविंद त्यागी इसके महामंत्री हैं. मैं इस संस्था का पदाधिकारी नहीं हूं।

कोरोना वायरस की तीसरी लहर को लेकर क्या तैयारी है- सुप्रीम कोर्ट

यह कोई राजनीतिक, सामाजिक या धार्मिक कार्यक्रम नहीं, बल्कि 15 अगस्त की तरह ऐतिहासिक भारत छोड़ो आंदोलन को याद करने के लिए आयोजित किया गया था. इस कार्यक्रम में सरकार से मांग की गई कि आजादी की 75वीं वर्षगांठ (15 अगस्त 2022) से पहले सभी अंग्रेजी कानून खत्म कर नया कानून बनाया जाए।  आर वी एस मणि, फिरोज बख्त अहमद, लेफ्टिनेंट जनरल विष्णु कांत चतुर्वेदी, गजेंद्र चौहान और मैं सुबह 11 बजे मंच पर पहुंचे और भीड़ बढ़ने के कारण 12 बजे कार्यक्रम समाप्त हो गया और हम सब वहां से चले गए।

Divyansh Singh

मिट्टी का तन, मस्ती का मन; छड़ भर जीवन, मेरा परिचय।

Related Post

CM MAHARSTRA

भाजपा और कुछ अधिकारियों में ‘सांठगांठ’, राष्ट्रपति शासन लगाने की हो रही साजिश : शिवसेना

Posted by - March 24, 2021 0
महाराष्ट्र । प्रदेश में मचे सियासी भूचाल के बीच शिवसेना (ShivSena) बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर बड़ा आरोप लगाया।…
बीजेपी में शामिल

पार्ट टाइम आंदोलन से फुल टाइम राजनीति तक बीजेपी में शामिल हुए बैंसला

Posted by - April 10, 2019 0
नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी में शामिल में गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के संरक्षक किरोड़ी सिंह बैंसला हो गए हैं।…
Suvendu Adhikari

बंगाल विस चुनाव : शुभेंदु अधिकारी ने नंदीग्राम से दाखिल किया नामांकन

Posted by - March 12, 2021 0
कोलकाता । भाजपा नेता शुभेंद्र अधिकारी (Suvendu Adhikari) ने नंदीग्राम से नामांकन दाखिल कर दिया है। बता दें कि नामांकन…
Buransh

उत्तराखंड: संस्कृ़ति में रचे बसे बुरांश से भगवान शिव खेलते हैं होली

Posted by - March 28, 2021 0
देहरदून। उत्तराखंड का राज्य वृक्ष बुरांश देवभूमि की लोक संस्कृति में रचा बसा है। इसे भगवान आशुतोष का प्रिय पुष्प…