Mukhtar Abbas Naqvi

चुनाव आयोग से मिला BJP प्रतिनिधिमंडल , कहा- SC समुदाय के अपमान के लिए TMC के खिलाफ की जाए ‘कड़ी’ कार्रवाई

450 0
नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी (Mukhtar Abbas Naqvi)  के नेतृत्व में बीजेपी के एक प्रतिनिधिमंडल ने रविवार को दिल्ली में चुनाव आयोग (EC)  के अधिकारियों से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने तृणमूल कांग्रेस (TMC) के खिलाफ पश्चिम बंगाल में अनुसूचित जाति समुदाय का कथित अपमान करने के लिए कड़ी कार्रवाई की मांग की। नकवी (Mukhtar Abbas Naqvi)   के साथ पार्टी के नेता दुष्यंत गौतम, हंस राज हंस, सुनीता दुग्गल, भोला सिंह और ओम पाठक शामिल थे।

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी (Mukhtar Abbas Naqvi)   ने कहा, ‘पश्चिम बंगाल के SC स्वभाव से भिखारी हैं। हमने चुनाव आयोग से मांग की है कि जिसने ये बयान दिया है , उनके और उनकी पार्टी के खिलाफ कार्रवाई की जाए।’

चुनाव आयोग से मुलाकात के केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी (Mukhtar Abbas Naqvi)  ने कि एक महिला टीएमसी नेता ने स्पष्ट रूप से आदर्श आचार संहिता और रिप्रेजेंटेशन ऑफ पीपल्स एक्ट1951 का उल्लंघन किया और टीएमसी नेता के खेलाफ बीजेपी कड़ी कार्रवाई की मांग करती है।

नकवी (Mukhtar Abbas Naqvi)   ने कहा, ‘तृणमूल कांग्रेस की दलितों, कमजोर और वंचित तबकों के प्रति जो सोच है, उसका उदाहरण उनकी पार्टी की एक अधिकृत उम्मीदवार ने अपने बयान के माध्यम से दिया है. उन्होंने अपने बयान में कहा है कि कुछ लोग अभाव से भिखारी होते हैं और कुछ स्वभाव से।’

‘चुनाव आयोग ने विश्वास दिलाया, तत्काल मांगेंगे रिपोर्ट’

उन्होंने कहा, ‘पश्चिम बंगाल के SC स्वभाव से भिखारी हैं।  हमने चुनाव आयोग से मांग की है कि जिसने ये बयान दिया है उनके और उनकी पार्टी के खिलाफ कार्रवाई की जाए। चुनाव आयोग ने विश्वास दिलाया है कि हम तत्काल इसकी रिपोर्ट पश्चिम बंगाल के चुनाव अधिकारी से मांगेंगे। ’

उन्होंने कहा कि यह आदर्श आचार संहिता और रिप्रेजेंटेशन ऑफ पीपल्स एक्ट का उल्लंघन है। यह न सिर्फ नेता बल्कि पार्टी की सोच को दिखाता है। हमने नेता और पार्टी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य के अनुसूचित जाति (एससी) समुदाय का ‘अपमान’ करने के लिए टीएमसी पर हमला बोला।

पीएम मोदी ने सीएम ममता को लिया था निशाने पर

प्रधानमंत्री ने सिलीगुड़ी में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा था, ‘दीदी और टीएमसी नेताओं की सोच खुलकर सामने आ रही है। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें दीदी के करीबी एक नेता को एससी समुदाय के सदस्यों का अपमान करते देखा जा सकता है। उन्होने कहा कि बंगाल में एससी समुदाय भिखारियों की तरह काम करता है। दीदी, ऐसा घमंड! ऐसी सोच!’

Related Post

ऋषि कपूर और रणबीर की तुलना नहीं

बाप बाप होता है, ऋषि कपूर और रणबीर की तुलना नहीं की जा सकती : शत्रुघ्न सिन्हा

Posted by - May 5, 2020 0
मुंबई। बॉलीवुड के शॉटगन सिन्हा शत्रुध्न सिन्हा का कहना है कि ऋषि कपूर और उनके पुत्र रणबीर कपूर के बीच…
साध्वी प्रज्ञा

एनआईए कोर्ट की फटकार, साध्वी प्रज्ञा के खिलाफ सबूत नहीं थे तो चार्जशीट क्यों की दाखिल ?

Posted by - April 24, 2019 0
नई दिल्ली। साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के मामले में एनआईए कोर्ट ने एनआईए को फटकार लगाई है। मुंबई स्थित कोर्ट ने…
दूसरे दिन 100 से अधिक शोध पत्रों का किया प्रस्तुतीकरण

दूसरे दिन 100 से अधिक शोध पत्रों का किया प्रस्तुतीकरण

Posted by - March 18, 2021 0
प्रो. अनिल शुक्ला पूर्व कुलपति, एमजेपी रूहेलखण्ड विश्वविद्यालय बरेली ने कहा कि शारीरिक शिक्षा और खेल नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति…