mayawati

हाथरस कांड : योगी सरकार की कार्यशैली पर मायावती ने फिर खड़े किए सवाल

435 0
लखनऊ । पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने हाथरस गैंगरेप मामले में ट्वीट करके सरकार की कार्यशैली पर सवाल खड़े किए हैं। बसपा सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट कर कहा कि इस संबंध में जो नए तथ्य अब कोर्ट में उजागर हुए हैं, वह पीड़ितों को न्याय दिलाने के मामले में सरकार की कार्यशैली पर पुनः गंभीर प्रश्न खड़े करते हैं।

 बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने हाथरस गैंगरेप में सरकार की कार्यशैली को लेकर सवाल खड़े किए हैं। बसपा सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट करके कहा है कि यूपी के अति दुखद और शर्मनाक हाथरस गैंगरेप के पीड़ित परिवार को न्याय पाने में जिन कठिनाइयों का लगातार सामना करना पड़ा है, वह जगजाहिर है। लेकिन उस संबंध में जो नए तथ्य अब कोर्ट में उजागर हुए हैं वह पीड़ितों को न्याय दिलाने के मामले में सरकार की कार्यशैली पर पुनः गंभीर प्रश्न खड़े करते हैं।

‘हाथरस कांड में नए तथ्य से सरकार की कार्यशैली पर सवाल’

बसपा सुप्रीमो मायावती ने अपने दूसरे ट्वीट में लिखा है कि हाथरस कांड में नए तथ्यों का हाईकोर्ट द्वारा संज्ञान लेकर गवाहों को धमकाने आदि की जांच का आदेश देने से, यूपी सरकार फिर कटघरे में है।  वह लोग सोचने को मजबूर हैं कि पीड़ितों को न्याय कैसे मिलेगा। यह आम धारणा है कि उत्तर प्रदेश में अपराधियों का राज है। यहां न्याय पाना अति कठिन है, उन्होंने सवाल किया कि क्या यह गलत है।

 

मायावती ने लगातार उठाये हैं सवाल

बसपा सुप्रीमो मायावती हाथरस कांड के समय से लेकर अब तक सरकार के द्वारा की गई कार्यवाही व सरकार की कार्यशैली को लेकर कई बार सवाल खड़े कर चुकी हैं। अब एक बार हाईकोर्ट द्वारा इस मामले को संज्ञान में लिया गया है, तो दोबारा उन्होंने सरकार की कार्यशैली पर प्रश्न चिन्ह खड़े किए हैं।

Related Post

मस्तिष्क की तरह नजर आने वाला अखरोट, जाने इससे दूर होते है यह रोग

Posted by - August 21, 2020 0
आमतौर पर सभी लोगों को ड्रायफ्रूट्स बहुत पसंद होते हैं। ड्रायफ्रूट्स खाने में जितने अच्छे लगते हैं, स्वास्थ्य की दृष्टि…
India Food Expo

कृषि आधारित एमएसएमई उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए 2 नवंबर से राष्ट्रीय सेमिनार

Posted by - October 29, 2022 0
लखनऊ। इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में कृषि आधारित एमएसएमई उद्यमी महासम्मेलन, इंडिया फूड एक्सपो-2022 (India Food Expo) एवं खाद्य प्रसंस्करण उद्योगों…