परिवार की अहमियत

लॉकडाउन ने छोटे पर्दे कलाकारों को परिवार की अहमियत का कराया अहसास

455 0

लखनऊ । कोविड-19 की जारी तबाही के बीच देश दुनिया को भविष्य को लेकर चिंतित होना लाजिमी है, लेकिन इसी बीच लॉकडाउन ने परिवार के सदस्यों को साथ समय गुजारने का मौका तो दिया है। इसके साथ ही परिवार के महत्व को जानने समझने का मौका भी दिया है।

इस लॉकडाउन से आम आदमी से लेकर ,बॉलीवुड, छोटे पर्दे के सितारे भी कोरोना संकट के कारण उत्पन्न विषम परिस्थितियों से अछूते नहीं है, लेकिन ज्यादातर का मानना है कि संकट की इस घड़ी में चिंता करने की बजाय भावी योजनायें बनना और परिवार के साथ जिंदगी का लुफ्त उठाना अधिक बेहतर होगा।

बर्थडे पर दबंग सलमान खान ये गिफ्ट लेना चाहती हैं जरीन खान

भाभी जी घर पर हैं व ‘हप्पू की उलटन पलटन’ के मुख्य किरदार दारोगा हप्पू सिंह का किरदार निभाने वाले योगेश त्रिपाठी ने बड़ी बात कही है। उन्होंने कहा कि लाॅकडाउन परिवार के साथ क्वालिटी टाइम बिताने, साथ मिलकर खाने और सुकून के पल बिताने से अच्छा कुछ और नहीं हो सकता। लाॅकडाउन के दौरान मुझे इसकी अहमियत का अहसास हुआ है। काफी लंबे समय बाद मैं जीवन की इन छोटी-छोटी खुशियों का आनंद ले रहा हूं, जैसे बेटे के साथ ड्राइंग करना और पत्नी के घरेलू कामकाज में मदद करना। कहने का मतलब है कि जब कभी भी काम अपनी गति पकड़ेगा, तब भी मैं अपने परिवार को भरपूर समय दूंगा।

इनके अलावा टीवी धारावाहिक की दबंग राजेश का रोल कर रही कामना पाठक ने कहा कि दस सालों में पहली बार ऐसा हो रहा है कि मैं अपने परिवार के साथ क्वालिटी टाइम बिता रही हूं। घर के अंदर उनके साथ रहते हुए मुझे इस बात का अहसास हुआ है कि नियमित रूप से एक-दूसरे के लिये वक्त निकालना और एक-दूसरे को सपोर्ट करना, सही मायने में परिवार का यही अर्थ है।

Loading...
loading...

Related Post

रामचरित मानस की पांडुलिपियां

इस मंदिर में 425 वर्षों से सुरक्षित है रामचरित मानस की पांडुलिपियां

Posted by - December 22, 2019 0
चित्रकूट। कामदगिरि परिक्रमा मार्ग स्थित संत गोस्वामी तुलसीदास के गुरु नरहरि दास महाराज के ‘महलन मंदिर’ में रामचरित मानस के…