लॉकडाउन 4.0

लॉकडाउन 4.0 : सोना पहले दिन 48000 के करीब पहुंच रचा इतिहास, चांदी में 2480 रुपये का उछाल

183 0

नई दिल्ली। लॉकडाउन 4.0 के पहले दिन सोना 48000 के भाव के साथ नए शिखर पर पहुंच गया है। शुक्रवार को 10 ग्राम सोने की कीमत ऑलटाइम हाई 47067 रुपये पर पहुंच गई थी। यह रिकॉर्ड भी आज टूट गया है। 24 कैरेट सोने का भाव आज 881रुपये उछल कर 47948 रुपये प्रति दस ग्राम हो गया है। वहीं चांदी में 2480 रुपये का बड़ा उछाल आया है।

लॉकडाउन में कंगना रनौत ने लिखी कविता, आज किया रिलीज

इंडिया बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन की वेबसाइट उनकी औसत कीमत अपटेड करती है। इसके मुताबिक 18 मई 2020 को सोने-चांदी के रेट इस प्रकार रहे।

देश में चल रहे लॉकडाउन में कई रिकॉर्ड बने और टूटे

पहली बार सोना 9 अप्रैल को 45201 रुपये के नए शिखर पर पहुंच गया। चार दिन बाद यह रिकॉर्ड टूट गया और 13 अप्रैल को सोना पहुंच गया 46034 रुपये प्रति दस ग्राम पर। सोने ने इस दिन ऑल टाइम नया कीर्तिमान स्थापित किया, लेकिन 15 अप्रैल को यह भी ध्वस्त हो गया। सोना 46534 रुपये प्रति 10 ग्राम के एक और नए शिखर पर पहुंच गया। यह भी रिकॉर्ड अगले ही दिन 16 अप्रैल को टूट गया और 10 ग्राम गोल्ड की कीमत हो गई 46928 रुपये। इसके बाद 15 मई को सोना 47067 रुपये पर पहुंचकर एक नया कीर्तिमान स्थापित किया।

क्या है गोल्ड 999?

हालमार्क वाली ज्वैलरी पर हॉलमार्क का निशान और कुछ अंक जैसे 999, 916, 875 लिखे होते हैं। इन्ही अंकों में आपके सोने की शुद्धता का राज छुपा होता है। ध्यान रहे हालमार्क के निशान के साथ 999 नंबर वाले सोने की ज्वैलरी 24 कैरेट की होती है। 999 का मतलब इसमें सोने की शुद्धता 99.9 फीसदी है। इसी तरह 23 कैरेट सोने पर 995, वहीं 22 कैरेट सोने पर 916, 21 कैरेट पर 875, 18 कैरेट पर 750 अंक पड़े होते हैं।

इंडिया बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन दिल्ली के मीडिया प्रभारी राजेश खोसला बताया कि ibja देशभर के 14 सेंटरों से सोने-चांदी का करेंट रेट लेकर इसका औसत मूल्य बताता है। खोसला ने बताया कि सोने-चांदी का करेंट रेट या यूं कहें हाजिर भाव अलग-अलग जगहों पर अलग हो सकते हैं, लेकिन इनकी कीमतों में मामूली अंतर होता है।

Loading...
loading...

Related Post

लालकृष्ण आडवाणी

पूर्व सीएम बोले- लालकृष्ण आडवाणी की आंखों में आंसू देख कर बहुत हुई पीड़ा

Posted by - April 9, 2019 0
नई दिल्ली। राजनीति में नए चेहरों को आना चाहिए, लेकिन पुराने चेहरों के लिए भी सम्मानजनक रास्ता तय होना जरूरी…
मास्क और हजमत सूट की कमी

मास्क और हजमत सूट की कमी से निजात दिलाएगी आईआईटी कानपुर की तकनीक

Posted by - April 4, 2020 0
नई दिल्ली। भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) कानपुर के वैज्ञानिक एक ऐसी तकनीक विकसित कर रहे हैं, जिससे मास्क और हजमत…