Kanpur

कानपुर हिंसा पर बोले इंस्पेक्टर- शेर हैं बिल्ली नहीं, यूपी है दिल्ली नहीं…

66 0

उन्नाव: उन्नाव (Unnao) जिले में तैनात पुलिस इंस्पेक्टर धर्मराज उपाध्याय ने अब कानपुर (Kanpur) के उपद्रवियों को अपनी कविता से आईना दिखाया है। कानपुर (Kanpur) में बीते 3 जून को हुए बवाल के बाद प्रदेश की सुदृढ़ कानून व्यवस्था कविता के जरिये इंस्पेक्टर (Inspector) धर्मराज उपाध्याय कुछ यूं बयान करते हैं- पकड़-पकड़ कर हवालात में ठेले जाएंगे, दंगा करने वाले पल भर रेले जाएंगे। इसके बाद लिखा- ‘शेर है यह शेर…बिल्ली नहीं है, उत्तर प्रदेश है यह दिल्ली नहीं है।

गुंडे और गुंडों के सभी झमेले जाएंगे, दंगा करने वाले पल भर रेले जाएंगे। बुरा किया तो अच्छा अब अंजाम नहीं मिलने वाला, जो बबूल बोये हो तो तुमको आम नहीं मिलने वाला। खेल जो तुमने खेला वही खेले जाएंगे, दंगा करने वाले पल भर रेले जाएंगे। उन्नाव में तैनात 2001 बैच के इंस्पेक्टर धर्मराज उपाध्याय एक वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है।

इनका एक यूट्यूब चैनल भी है जो धर्मराज उपाध्याय का विषय के नाम से है। इसपर उन्हें लाखों लोग फॉलो करते हैं। बता दें कि कानपुर हिंसा मामले में अब तक पुलिस ने 36 उपद्रवियोंकी शिनाख्त की है। पुलिस ने अब तक 29 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है, जिसमें कानपुर हिंसा का मास्‍टरमाइंड जफर हयात हाशमी के अलावा जावेद अहमद खान, मोहम्‍मद राहिल और मोहम्‍मद सुफियान अहम नाम शामिल हैं।

कुतुब मीनार की मस्जिद में नमाज पर लगी रहेगी रोक, HC ने…

जबकि सपा नेता का नाम लिस्‍ट में पांचवें नंबर पर है। इस मामले में पुलिस ने मास्टरमाइंड जफर हयात हाशमी ने पूछताछ में बताया है कि जानबूझकर 3 जून की तारीख तय की गई थी ताकि देश को संदेश दिया जा सके। उसका कहना था कि वह अपने मकसद में कामयाब रहा है।

सामान्य व्यक्ति का राष्ट्रपति बनना लोकतंत्र की खूबसूरती: सीएम योगी

Related Post

सांसदों-विधायकों के खिलाफ दर्ज आपराधिक मामला HC की मंजूरी के बगैर नहीं हो सकता वापस- SC

Posted by - August 10, 2021 0
सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को राजनीतिक पार्टियों के उम्मीदवारों के अपराधीकरण से जुड़े एक मामले में बड़ा फैसला सुनाया है। इसके…