Delhi High Court

ऐसा लगता है केंद्र चाहता है लोग मरते रहें : दिल्ली हाई कोर्ट

327 0
नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने बुधवार को कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि केंद्र चाहता है कि लोग मरते रहें (It seems the Center wants people to die)  क्योंकि कोविड-19 के उपचार में रेमडेसिविर के इस्तेमाल को लेकर नए प्रोटोकॉल के मुताबिक केवल ऑक्सीजन पर आश्रित मरीजों को ही यह दवा दी जा सकती है।

न्यायमूर्ति प्रतिभा एम सिंह ने केंद्र सरकार से कहा कि यह गलत है। ऐसा लगता है दिमाग का बिल्कुल इस्तेमाल नहीं हुआ है। अब जिनके पास ऑक्सीजन की सुविधा नहीं है उन्हें रेमडेसिविर दवा नहीं मिलेगी। ऐसा प्रतीत होता है कि आप चाहते हैं लोग मरते रहे।

उच्च न्यायालय ने कहा कि ऐसा लगता है कि केंद्र ने रेमडेसिविर की कमी की भरपाई के लिए प्रोटोकॉल ही बदल दिया है। अदालत ने कहा,’यह सरासर कुप्रबंधन है।’

अदालत कोविड-19 से संक्रमित एक वकील की याचिका पर सुनवाई कर रही थी। उन्हें रेमडेसिविर की छह खुराकों में केवल तीन खुराकें ही मिल पाई थी। अदालत के हस्तक्षेप के कारण वकील को मंगलवार (27 अप्रैल) रात बाकी खुराक मिल गई।

Related Post

kisan andolan

कृषि कानून गतिरोध : संयुक्त मोर्चा की अपील, प्रदर्शन स्थलों पर स्थायी ढांचे न बनाएं आंदोलनकारी

Posted by - March 15, 2021 0
नई दिल्ली । संयुक्त किसान मोर्चा ने आंदोलनरत किसानों से दिल्ली की सीमाओं पर स्थायी ढांचे नहीं बनाने की अपील…

26/11 के हमलावरों को छोड़ेंगे नहीं-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

Posted by - November 26, 2018 0
भीलवाड़ा।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को राजस्थान के भीलवाड़ा में जनता को सम्बिधित कर रहे थे इस दौरान उन्होंने कांग्रेस के…