डायबिटीज़ मरीज़ों को व्रत रखने से पहले ये जानना जरूरी, नहीं तो हो सकता है नुकसान

366 0

नई दिल्ली। नवरात्रि पर मां दुर्गा की पूजा करना और 9 दिन के व्रत का बड़ा महत्व है। आज यानी 7 अक्टूबर से नवरात्रि शुरू हो गए हैं। व्रत का सिर्फ धार्मिक महत्व ही नहीं बल्कि वैज्ञानिक महत्व भी है। व्रत रखने से हमारे शरीर को कई तरह से फायदे पहुंचते हैं। नवरात्रि को काफी शुभ माना जाता है, इसलिए ज़्यादातर लोग इस दौरान व्रत रखते हैं, नवरात्रि के व्रत वो लोग भी रखते है जिन्हें डायबिटीज़ की शिकायत है। हालांकि, डायबिटीज़ के मरीजों के लिए उपवास करना आसान नहीं होता है। क्योंकि उनके लिए दिनभर भूखा रहना और तले-भुने पकवान खाना दोनों ही नुकसानदायक साबित होते हैं।

अगर आप डायबिटीज़ के मरीज हैं और उपवास रखना चाहते हैं, तो आपको कुछ सावधानियां बरतनी होंगी ताकि आपकी सेहत न बिगड़े। सही तरीके से खाना-पीना न करने से शरीर का इंसुलिन का स्तर बिगड़ सकता है। तो इसलिए डायबिटीज़ के मरीज़ों को व्रत रखते समय किन-किन बातों को ध्यान में रखना चाहिए।

डायबिटीज़ मरीज़ ज़्यादा देर भूखे न रहें

अगर आपक शुगर के मरीज़ हैं, तो किसी भी व्रत में ज़्यादा देर भूखे न रहें। हर थोड़ी देर में कुछ न कुछ ज़रूर खाएं। इससे ब्‍लड ग्‍लूकोज़ स्तर ठीक रहता है।

चाय या कॉफी न पिएं

अगर डायबिटीज़ के मरीज़ व्रत के दौरान कमज़ोरी महसूस कर रहे हैं, तो चाय या कॉफी न पिएं। बेहतर यही होगा कि कमज़ोरी होने पर कुछ ऐसा खाएं जिससे ब्लड शुगर के स्तर को नुकसान न पहुंचे। जैसे आप छाछ या नारियल पानी पी सकते हैं, इससे आपको फ्रेश महसूस होगा।

ज़्यादा से ज़्यादा पानी पीएं

व्रत के दौरान ज़्यादा से ज़्यादा पानी पीएं। पानी पीने से शरीर हाइड्रेटेड रहता है और फायदा ही पहुंचता है। आप पानी के अलावा छाछ या फिर नारियल पानी भी पी सकते हैं। ये सेहत के लिए अच्छे होते हैं। डायबिटीज़ के रोगियों के लिए छाछ और नारियल का पानी दोनों ही बहुत फायदेमंद माने जाते हैं।

ब्लड शुगर लेवल पर नज़र रखें

अगर आपको डायबिटीज़ है और आपने व्रत भी रखा है तो ब्लड शुगर लेवल पर नज़र बनाए रखना ज़रूरी है।

कार्बोहाइड्रेट युक्त फूड्स खाएं

नवरात्रि में ताज़ा फल, सब्जियों और डायट्री फाइबर के साथ कार्बोहाइड्रेट भी लें। ये शरीर और दिमाग़ को ऊर्जा देने का काम करता है।

तली-भुनी चीज़ों से परहेज करें

ऐसी चीज़ों को खाने से बचें, जिसमें स्टार्च की मात्रा ज़्यादा होती है, जैसे चावल। व्रत में आप भुनी हुई मूंगफली, मखाना, पनीर, सिंघारा, कद्दू का रायता, खीरे का रायता जैसी स्वादिष्ट चीज़ें खा सकते हैं।

जरूरत से ज्यादा न खाएं

शुगर के जो मरीज़ इंसुलिन ले रहे हैं, उन्हें व्रत रखने पर लो ब्लड-ग्लूकोज लेवल महसूस हो सकता है। इसलिए व्रत खोलने के बाद ऐसे लोग ज़रूरत से ज़्यादा खा भी लेते हैं। नवरात्रि का व्रत साबूदाना पापड़, टिक्की और तले हुए आलुओं से खोला जाता है। लेकिन अगर आप डायबिटिक हैं, तो इन्हें ज़्यादा न खाएं।

यह लेख सामान्य जानकारी के उद्देश्य के लिए हैं। डायबिटीज़ के मरीज़ों को अपने डॉक्टर की सलाह लेकर ही व्रत रखना चाहिए।

Related Post

Shubhendu Adhikari

 पश्चिम बंगाल: वोटिंग के बीच नंदीग्राम में शुभेंदु अधिकारी के काफिले पर हमला

Posted by - April 1, 2021 0
पश्चिम बंगाल। नंदीग्राम के कमालपुर में बूथ संख्या 170 के पास मीडिया कर्मियों की गाड़ियों पर हमला हुआ। शुवेंदु अधिकारी(…