हैदराबाद एनकाउंटर

हैदराबाद एनकाउंटर : पुलिस कमिश्नर बोले- आरोपियों ने हथियार छीनकर फायरिंग की

403 0

हैदराबाद। साइबराबाद पुलिस कमिश्नर सज्जनार ने प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि महिला डॉक्टर से दुष्कर्म और हत्या के आरोपी को शुक्रवार सुबह मुठभेड़ में मार गिराया गया है। इन आरोपियों ने हत्या कर पीड़िता को जला दिया गया था। इस मामले में हमारे पास ठोस सबूत हैं।

आरोपियों ने पुलिस पर हमला किया और उनसे हथियार छीन लिए और उन्होंने पुलिस पर गोलीबारी शुरू कर दी

साइबराबाद पुलिस कमिश्नर ने कहा कि चार और पांच दिसंबर को हमने आरोपी को पुलिस हिरासत में लेने के बाद पूछताछ की थी। कमिश्नर ने बताया कि पुलिस ने जांच के दौरान क्राइम सीन दोबारा बनाने के लिए आरोपी को अपराध स्थल पर लाया गया। इसके बाद आरोपियों ने पुलिस पर हमला किया और उनसे हथियार छीन लिए और उन्होंने पुलिस पर गोलीबारी शुरू कर दी।

हम देश को वादों के बजाए कामकाज की राजनीति की तरफ ले जा रहे हैं : पीएम मोदी

पुलिस ने उन्हें चेतावनी देते हुए आत्मसमर्पण करने के लिए कहा लेकिन वे गोलियां चलाते रहे

इसके बाद पुलिस ने उन्हें चेतावनी देते हुए आत्मसमर्पण करने के लिए कहा लेकिन वे गोलियां चलाते रहे। फिर हमने गोलाबारी की और वे मुठभेड़ में सभी मारे गए। मुठभेड़ के दौरान पुलिस के दो जवान घायल हो गए हैं। उन्हें स्थानीय अस्पताल में भेज दिया गया है। उन्होंने बताया कि हमने आरोपी व्यक्तियों से दो हथियार भी जब्त किए हैं। आरोपियों के शव को पोस्टमार्टम के लिए स्थानीय सरकारी अस्पताल में भेज दिया गया है। मुठभेड़ के समय आरोपी व्यक्तियों के साथ लगभग 10 पुलिस थे। हमने घटनास्थल से पीड़ित का मोबाइल फोन भी बरामद किया है। मैं केवल यह कह सकता हूं कि कानून ने अपना कर्तव्य निभाया है। कमिश्नर ने बताया कि हमें संदेह है कि आरोपी कर्नाटक में कई अन्य मामलों में भी शामिल थे, जांच जारी है।

शमशाबाद के डीसीपी प्रकाश रेड्डी ने कहा कि आत्मरक्षा में मारी गोली

शमशाबाद के डीसीपी प्रकाश रेड्डी ने कहा कि सायबराबाद पुलिस आरोपियों को क्राइम सीन रीकंस्ट्रक्ट करने के लिए लाई थी। ताकि घटना से जुड़ी कड़ियों को जोड़ा जा सके। इसी बीच आरोपियों ने पुलिस से हथियार छीने और उन पर फायरिंग की। आत्मरक्षा में पुलिस ने उन्हें गोली मारी जिसमें आरोपियों की मौत हो गई।

सुबह तीन से छह बजे के बीच मारे गए आरोपी

साइबराबाद पुलिस आयुक्त वीसी सज्जनार ने बताया कि आरोपी मोहम्मद आरिफ, नवीन, शिवा और चेन्नाकेशावुलू शादनगर के चटनपल्ली में पुलिस मुठभेड़ में सुबह मारे गए। सभी की मौत सुबह तीन बजे से छह बजे के बीच हुई। मैं घटनास्थल पर पहुंच गया हूं और जल्द ही आगे की जानकारी दी जाएगी।

इन सभी आरोपियों को पुलिस रिमांड में रखा गया था। पुलिस चारों आरोपियों को उसी फ्लाईओवर के नीचे ले गई थी जहां उन्होंने पीड़िता को आग के हवाले किया था। यहां पर क्राइम सीन रीकंस्ट्रक्ट किया जा रहा था। इसी दौरान धुंध का फायदा उठाते हुए उन्होंने भागने की कोशिश की। इन्हें रोकने के लिए पुलिस ने गोलियां चलाईं जिसमें उनकी मौत हो गई। आरोपियों के पुलिस मुठभेड़ में ढेर होने की पुष्टि पुलिस आयुक्त ने की है।

Related Post

social harmony

सामाजिक समरसता को लाने के लिए संस्थान सतत प्रयत्नशील : निदेशक पवन कुमार

Posted by - January 16, 2021 0
लखनऊ। उत्तर प्रदेश संस्कृत संस्थान ने शानिवार को लखनऊ स्थित, बी-इन्दिरा नगर कार्यालय में मकर संक्रांति पर्व पर “सामाजिक समरसता…