देवरिया में लगेंगे चार ऑक्सीजन प्लांट : Yogi

254 0

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने कहा है कि प्रदेश के हर जिले को ऑक्सीजन के मामले में आत्मनिर्भर बनाया जा रहा है। देवरिया में चार नए ऑक्सीजन प्लांट (Oxygen Plant) लगाने की प्रक्रिया चल रही है। प्रदेश में 300 से अधिक आक्सीजन संयंत्र (Oxygen Plant) लगाए जाने की तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं। तीसरी लहर को देखते हुए देवरिया एवं लार में बीस-बीस बेड का पिक्कू वार्ड बनाया जाएगा। उन्होंने सांसद, विधायकों से अपने इलाके के एक सीएचसी-पीएचसी को गोद लेकर उसे मॉडल बनाने की अपील की।

मुख्यमंत्री (CM Yogi) बुधवार को विकास भवन परिसर में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कोरोना की सेकेंड वेव के बारे में विशेषज्ञ यूपी में कई प्रकार की आशंका जता रहे थे। हमने टीम वर्क और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बताए ट्रिपल टी (ट्रेस, टेस्ट और ट्रीट) का मंत्र अपनाए रखा। इसके अपेक्षित और व्यापक परिणाम आए हैं।

आज यूपी देश में सर्वाधिक कोरोना टेस्ट कराने वाला राज्य है। हम आज की तारीख में चार करोड़ 77 लाख कोरोना जांच करा चुके हैं। प्रदेश में संक्रमण का फैलाव रोकने के लिए गांव से मोहल्लों तक अर्ली एंड अग्रेसिव कैंपेन चलाया गया। इससे लगातार सफलता मिल रही है। 30 अप्रैल को पीक टाइम पर कोरोना के कुल एक्टिव केस 3.10 लाख थे, जो आज 62 हजार के आसपास आ गए हैं।

मुख्यमंत्री (CM Yogi) ने बताया कि प्रदेश में पॉजिटिविटी औसतन तीन फीसद के आसपास रह गई है। जबकि कोविड से रिकवरी रेट 95 फीसद हो गई है। इसमें लगातार सुधार हो रहा है। उन्होंने बताया कि देवरिया जिले की समीक्षा में पॉजिटिविटी रेट तीन फीसद के करीब और रिकवरी रेट 93 फीसद से अधिक है। मुख्यमंत्री (CM Yogi) ने कहा कि जीवन के साथ जीविका की रक्षा के लिए हमने लॉकडाउन के बजाय आंशिक कोरोना कर्फ्यू को अपनाया। इससे कृषि क्षेत्र, फल व सब्जी मंडियों व अन्य सभी आवश्यक क्षेत्रों में कोई दिक्कत नहीं आई। इसके पूर्व मुख्यमंत्री ने कतरारी गांव और मझगांवा पीएचसी का दौरा किया। जिला अस्पताल में बने कोविड अस्पताल के मरीजों को सीसीटीवी कैमरा के माध्यम से देखा और बेहतर इलाज के लिए अफसरों को निर्देशित किया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने कहा कि कोरोना के थर्ड वेव को काबू में करने के साथ ही इंसेफेलाइटिस नियंत्रण की तैयारियां भी करनी होंगी। इंसेफेलाइटिस के लिए संवेदनशील बरसात का मौसम शुरू होने वाला है। गोरखपुर-बस्ती मंडल के जिले पूर्व में इससे प्रभावित होते थे। ऐसे में जिला अस्पतालों की पीआईसीयू (पीकू) व सीएचसी की मिनी पीकू को क्रियाशील किया जा रहा है। इंसेफेलाइटिस से हम मृत्यु दर को 95 फीसद कम करने में सफल हुए हैं। उन्होंने कहा कि इंसेफेलाइटिस ट्रीटमेंट सेंटर, सब सेंटर के अलावा सैकड़ों की संख्या में हेल्थ वेलनेस सेंटर हैं, ऐसे में हमें इस पर और नियंत्रण में निश्चित ही कामयाबी मिलेगी। सीएम (CM Yogi) ने कहा कि कोरोना के थर्ड वेव आए बच्चों को बचाने के लिए अभी से दवा-इलाज की व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने बताया कि कोविड के थर्ड वेव से बच्चों को बचाने के लिए देवरिया में 15 बेड का एक पीकू वार्ड पहले से है। इसके अलावा 20 बेड कब नए पीकू वार्ड देवरिया एवं लार में स्थापना की जाएगी।

Related Post

surendra negi

उत्तराखंड: पूर्व स्वास्थ्य मंत्री सुरेंद्र सिंह कोरोना पॉजिटिव

Posted by - March 30, 2021 0
कोटद्वार। उत्तराखंड के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री सुरेंद्र सिंह नेगी (Surendra Singh) कोरोना संक्रमित मिले हैं। मंगलवार सुबह उनकी टेस्ट रिपोर्ट…
नमस्ते इवांका

अब भारत बोलेगा ‘नमस्ते इवांका’, डोनल्ड ट्रंप के साथ बेटी और दामाद भी आएंगे भारत

Posted by - February 21, 2020 0
नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप के दौरे को लेकर एक बड़ी खबर आई है। मिली जानकारी के अनुसार ट्रंप…