cm yogi

यूपी में नशे के अवैध साम्राज्य के खात्मे का काउंटडाउन शुरू

52 0

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने उत्तर प्रदेश में नार्कों नेक्सस (Drugs) की कमर तोड़ने के लिए निर्णायक युद्ध का ऐलान कर दिया है। प्रदेश की युवा पीढ़ी को नशे की गिरफ्त में आने से बचाने के लिये मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  (CM Yogi) ने इस गंदे कारोबार के ‘सर्वनाश’ का व्रत ले लिया है। आने वाले दिनों में बड़े स्तर पर कार्रवाई की तैयारियां भी पूरी हो चुकी हैं। प्रदेश को तीन जोन में बांटकर तेज तर्रार अफसरों के नेतृत्व में टीमों का गठन कर दिया गया है। इसके साथ उत्तर प्रदेश में नशे के अवैध साम्राज्य के खात्मे का काउंटडाउन भी शुरू हो चुका है।

अवैध नशे ( Illegal drug) की 39 लाख किलो खेप जब्त, सिंडिकेट पस्त

वैसे नशे के सौदागरों की कमर तोड़ने के लिये योगी सरकार ने मात्र 6 महीने में ही ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए लगभग 39 लाख किलोग्राम की अवैध खेप ( illegal drug) को जब्त किया है। नार्काे नेक्सस के खिलाफ अभियान का ट्रेलर ही जब इतना धमाकेदार है तो आने वाली पूरी फिल्म कैसी होगी इसका सहज अंदाजा लगाया जा सकता है।

छह महीने में दबोचे गये 56 हजार नशे के कारोबारी

उत्तर प्रदेश के गृह विभाग की रिपोर्ट के अनुसार 01 जनवरी 2022 से 31 जुलाई तक चरस, अफीम, हेरोइन, स्मैक, मॉरफीन, डोडा और गांजा सहित देसी-विदेशी अवैध व जहरीली शराब के खिलाफ बड़े पैमाने पर अभियान चलाया गया है। इसके अलावा सिंथेटिक नारकोटिक्स साइकोट्रोपिक इंजेक्शन और लहन के विरुद्ध भी ताबड़तोड़ छापेमारी करते हुए बड़ी बरामदगी दर्ज की गयी है। और तो और 6 महीने में ही 56 हजार से ज्यादा गिरफ्तारियों ने यूपी में सक्रिय नशा माफियाओं के नेक्सस को पहले ही तोड़कर रख दिया है।

ड्रग माफिया सिंडिकेट को बड़ा नुकसान

आंकड़ों पर नजर डालें तो 2022 के शुरुआती 6 महीने में ही ताबड़तोड़ कार्रवाई को अंजाम देते हए 42,898 किलो गांजा, 609 किलो चरस, 143 किलो अफीम, 12 किलो हेरोइन, 79 किलो स्मैक, 12 किलो मॉरफीन और 3,333 किलोग्राम डोडा की बरामदगी की गयी है। साथ ही 13 किलो सिंथेटिक नारकोटिक्स साइकोट्रोपिक इन्जेक्शन को भी बरामद किया गया है। इस पूरी कवायद में 6,692 लोगों की गिरफ्तारी ने ड्रग माफिया सिंडिकेट को बड़ा नुकसान पहुंचाया है।

नार्को माफिया की कमर तोड़ने को ‘योगी की सेना’ तैयार

अवैध शराब के कारोबारी भी बेचौन

दूसरी तरफ 6 माह के दौरान ही लगभग 3,32,881 किलो अंग्रेजी शराब, 11,48,928 किलोग्राम देसी शराब, 2351154 किलोग्राम लहन की भी बरामदगी की गयी है। साथ ही 3781 अवैध शराब भट्ठियों को भी नष्ट किया गया है। इस अभियान में 50,094 लोगों की गिरफ्तारी ने अवैध शराब माफियाओं को बेचैन करके रख दिया है।

ट्रेलर ही इतना भयानक तो पूरी फिल्म कैसी होगी

नशे के सौदागरों के खिलाफ शुरू हुए निर्णायक जंग से पहले ही इतनी बड़ी मात्रा में बरामदगी और गिरफ्तारियों ने इस गंदे कारोबार के पूरे सिंडिकेट को हिला के रख दिया है। अब तो योगी आदित्यनाथ ने नार्काे नेक्सस और शराब माफियाओं के खिलाफ आखिरी जंग का ऐलान कर दिया है। नार्काे नेक्सस को इस बात का आभास हो गया है कि योगी के नशा विरोधी अभियान का ट्रेलर जब इतना भयानक है तो आने वाले दिनों में पूरी फिल्म कैसी होगी। ऐसे में यूपी में मदहोशी के कारोबार का पूरा नेटवर्क बेचौन हो उठा है।

Related Post

AK Sharma

नगर विकास मंत्री से मिला ब्रिटिश शिष्टमंडल, अपशिष्ट प्रबंधन में सहयोग पर हुई चर्चा

Posted by - May 5, 2022 0
लखनऊ। भारत एवं ब्रिटेन के आपसी मधुर सम्बंधों की प्रगाढ़ता को बढ़ाने के लिए एक ब्रिटिश शिष्टमंडल (British delegation) भारत…