CM Yogi

गुजरात में विकास की हर इमारत पर लिखा है नरेंद्र भाई का नाम: सीएम योगी

23 0

द्वारका/कच्छ/मोरबी। गुजरात विधानसभा में चुनावी बिसात बिछ चुकी है। 1 व 5 दिसंबर को यहां दो चरणों में 182 सीटों पर मतदान होना है। भारतीय जनता पार्टी ने अपने स्टार प्रचारकों को लगातार सातवीं बार कमल खिलाने की जिम्मेदारी दी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बाद गुजरात में सबसे अधिक मांग उत्तर प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) की है। योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) तीसरे दिन यहां बुधवार को पहुंचे। इस दौरान उन्होंने 3 विधानसभाओं (द्वारका, रापर और ध्रांगध्रा) में भाजपा प्रत्याशियों के पक्ष में वोट मांगा। चुनावी व्यस्तता के बीच योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने आस्था की डगर भी नहीं छोड़ी और द्वारकाधीश मंदिर में जाकर शीश नवाया। योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) की धुआंधार रैली की बदौलत भाजपा गुजरात में फिर कांग्रेस का सफाया करने की तरफ बढ़ रही है। रैलियों में कांग्रेस के साथ ही आम आदमी पार्टी भी योगी के निशाने पर रही। उन्होंने आप को कांग्रेस की कॉर्बन कॉपी बताया।

आपने हमारे कान्हा को द्वारकाधीश बना दिया

योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने सबसे पहले देवभूमि जाकर द्वारिकाधीश मंदिर में दर्शन-पूजन किया। उन्होंने चार धाम में से प्रमुख भगवान द्वारकाधीश को कोटि-कोटि नमन किया। इसके बाद द्वारका विधानसभा से भाजपा उम्मीदवार पबुभा वीरमभा माणेक के पक्ष में पहली रैली की। यूपी की भावनाओं से लोगों को जोड़ते हुए यूपी के सीएम ने कहा कि आपने हमारे कान्हा को द्वारकाधीश बना दिया। उनका जन्म 5 हजार वर्ष पहले यूपी के मथुरा में हुआ था। उनकी बाल लीलाओं से मथुरा, वृंदावन व बरसाना उपकृत है। उन क्षेत्रों को हमने तीर्थ बना दिया। असुरों का संहार करते हुए भगवान श्रीकृष्ण द्वारका पधारे थे और आपने उन्हें यहां का राजा बना दिया। सीएम ने गुजरात को प्रेरणा की धरती बताया।

cm yogi

सीएम कांग्रेस के बाद आम आदमी पार्टी पर भी हमलावर रहे। कहा कि आम आदमी पार्टी कांग्रेस की कार्बन कॉपी है। उनका भी रोज कोई न कोई घोटाला सामने आता है। आप ने दिल्ली को बर्बाद कर दिया। नौजवानों के भविष्य से खिलवाड़ कर रहे हैं। कोरोना में जनमानस से खिलवाड़ कर रहे थे। अराजकता और भ्रम फैलाते थे। सीएम ने विश्वास दिलाया-कांग्रेस न आप, भाजपा देगी साथ।

विकास की हर इमारत पर नरेंद्र भाई का नाम

सीएम ने कहा कि यहां के प्रत्याशी द्वारकाधीश मंदिर की पूजा परंपरा से जुड़े हैं। शिव के अनन्य भक्त हैं। हमें भक्त और सेवक ही चाहिए। जो प्रत्याशी सेवक के रूप में जनता को जनार्दन के रूप में देखे,  उसे ही चुनें। आपकी और द्वारकाधीश की सेवा के लिए भाजपा ने पबुभा माणेक को उम्मीदवार बनाया। उनके खिलाफ लड़ रहे 7 प्रत्य़ाशी आज इस मंच पर हैं। भाजपा प्रत्याशी शिव-शिव के रूप में विख्यात हैं। शिव का तात्पर्य ही कल्याण है। विश्वास है कि सेवा व कल्याण की परंपरा को भाजपा के प्रत्याशी अनवरत रूप से बढ़ाएंगे। गुजरात में विकास के अनेक कार्य हो रहे हैं। यहां विकास की हर इमारत पर नरेंद्र भाई का नाम लिखा है। वे गुजरात के लिए निरंतर चिंतित रहते हैं। अतः विकास के अभियान को बढ़ाने के लिए कमल के फूल पर वोट दें।

कांग्रेस आती है,  दंगे-गुंडागर्दी लाती है

रापर विधानसभा से भाजपा उम्मीदवार वीरेंद्र सिंह जडेजा की जनसभा में योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने आमजनों को गुजराती में राम-राम किया, फिर कच्छ में कमल खिलाने का आह्वान किया। कहा कि जडेजा का परिवार 7 पीढ़ी से जनता की सेवा के लिए समर्पित है। सीएम ने कहा कि यहां से कुछ दूर नाथ संप्रदाय का प्रमुख स्थल नंदकोट भी है। भुज के भूकंप के दौरान वहां आने का अवसर मिला था। नाथ योगियों ने कभी यहां कठिन तपस्या की थी। जडेजा राजाओं ने बाद में यहां नंदकोट का किला बनाया था। गुजरात की धरती संकट में नेतृत्व देती है।

सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने कहा कि कांग्रेस जहां आती है, दंगे, गुंडागर्दी व कर्फ्यू लाती है। यह उनके जींस का हिस्सा है। पहले गुजरात में यही सब होता था पर जब नरेंद्र मोदी सीएम बने,  यह सब समाप्त हो गया। इसके बाद से गुजरात विकास का मॉडल प्रस्तुत कर रहा है। कांग्रेस पर विश्वास न करना। जब सरदार पटेल ने सोमनाथ मंदिर के जीर्णोद्धार का बीड़ा उठाया और भाजपा जब राम मंदिर आंदोलन को समर्थन देने के लिए खड़ी हुई तो भी कांग्रेस ने विरोध किया। आस्था का सम्मान केवल भाजपा करती है। कोरोना काल में डबल इंजन की सरकार ने डबल डोज राशन दिया। सीएम ने कहा कि कच्छ के लोगों ने अपने परिश्रम से इस पथऱीली भूमि पर भी सोना उगाने का काम किया है।

यूपी व गुजरात में कई समानताएं हैं 

ध्रांगध्रा विधानसभा से प्रकाश भाई वरमोरा के लिए रैली को संबोधित करते हुए योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने कहा कि विगत दिनों मोरबी में दुखद घटना हुई थी। मोरबी का इतिहास चुनौतियों से जूझते हुए बार-बार खड़े होने का है। मोरबी जीवंतता की नई कहानी कहता है। पीएम मोदी ने पीड़ित परिवार के साथ संवेदनशीलता का परिचय दिया। इन परिवारों के साथ डबल इंजन की सरकार खड़ी हुई। गुजरात संतों, ऋषि-मुनियों, राष्ट्रनायकों की धरती है। दयानंद सरस्वती, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, लौहपुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल इसी धरती की देन हैं। गुजरात ने ही पीएम नरेंद्र मोदी को देश का नेतृत्व संभालने भेजा। यूपी व गुजरात में कई समानताएं हैं। यूपी से कान्हा व भगवान स्वामी नारायण का आगमन यहां हुआ। योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने कहा कि संकट के समय शासक कैसा होना चाहिए। कोरोना के दौरान आपने देखा होगा।

Related Post

संतानों को ऋषियों जैसे बनाना चाहते हैं तो संपर्क करें- रामदेव ने जारी किया विज्ञापन तो हो गए ट्रोल

Posted by - June 19, 2021 0
दरअसल बाबा रामदेव ने शुक्रवार को ब्रह्मचर्य वाला विज्ञापन जारी करते हुए लिखा कि जो युवक युवतियां आजीवन ब्रह्मचारी रहकर…
निर्भया की मां

निर्भया की मां आशा देवी फैसले से खुश, बोलीं- महिलाओं को सशक्त बनाने का फैसला

Posted by - January 7, 2020 0
नई दिल्ली। निर्भया की मां आशा देवी ने पटियाला हाउस कोर्ट ने चारों दोषियों के खिलाफ ‘डेथ वारंट’ जारी करने…
भारत में कोरोना

कोरोना प्रभावित देशों सूची में पांचवें पायदान पर भारत, 24 घंटों में 9971 नये मामले

Posted by - June 7, 2020 0
नई दिल्ली। कोरोना संक्रमण के मामलों में दिन प्रतिदिन वृद्धि हो रही है। इससे भारत पिछले 48 घंटाें में विश्व…