cm yogi

सीएम योगी ने दृष्टिबाधित बच्चों में स्पेशल टैबलेट का किया वितरण

42 0

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने कहा कि सस्ती लोकप्रियता की विभाजनकारी राजनीति ने आमजन को विकास से वंचित किया था। समाज को जाति, मत, मजहब, क्षेत्र और भाषा के खांचों में बांटकर विकास संभव नहीं है। विकास समग्रता में होना चाहिए क्योंकि विकास का कोई विकल्प नहीं होता। गोरखपुर के हुए तीव्रतम विकास को रेखांकित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि अब आप सब कह सकते हैं कि मुस्कुराइए कि आप गोरखपुर में हैं।

सीएम योगी रविवार शाम गोरखपुरवासियों को 955 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं की सौगात देने के बाद जनसभा को संबोधित कर रहे थे। रामगढ़ताल क्षेत्र स्थित महंत दिग्विजयनाथ पार्क में आयोजित समारोह के दौरान मुख्यमंत्री ने गोरखपुर विकास प्राधिकरण (जीडीए) की 933 करोड़ तथा लोक निर्माण विभाग व ग्रामीण अभियंत्रण विभाग की 22 करोड़ रुपये की विभिन्न परियोजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया। इस अवसर पर उन्होंने समग्र विकास की परिकल्पना के साकार उदाहरण स्वरूप प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों लोकार्पित बाबा विश्वनाथ धाम परियोजना का उल्लेख किया। कहा कि आप सबने काशी में बाबा विश्वनाथ धाम का लोकार्पण देखा होगा। वहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शिव की पूजा तो की ही, धाम को बनाने में अपना श्रम समर्पित करने वाले श्रमिकों की भी उपासना की, उनका सम्मान किया। इसके पहले भी प्रधानमंत्री ने प्रयागराज के महाकुम्भ में मां गंगा की धारा में डूबकी लगाने के साथ स्वच्छताकर्मियों का पाद प्रक्षालन (पांव पखारना) किया। पहली बार किसी प्रधानमंत्री ने ऐसा प्रेरणादायी कार्य किया। सीएम योगी ने कहा कि हमें भी समाज के हर तबके के साथ ऐसे कार्यक्रमों से जुड़ना होगा।

Gorakhpur News in hindi today। gift to people of gorakhpur। housing scheme  Projects। launched and Foundation stone। Ramgarhtal area। GDA housing  scheme। CM Yogi ka bayan। taja khabar aaj ki uttar pradesh

विकास परियोजनाओं के शिलान्यास-लोकार्पण समारोह के दौरान मुख्यमंत्री सीएम योगी ने विनोदी मुद्रा में कहा कि रविकिशन (सांसद) यहां हुए विकास के कारण ही फिल्मों की शूटिंग कर पा रहे हैं।  सात दिसंबर को पीएम मोदी के हाथों लोकार्पित खाद कारखाना व एम्स का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि अब इस खाद कारखाना से किसानों को भरपूर, सस्ते में और घर में ही खाद उपलब्ध होगी। साथ ही इससे बड़े पैमाने पर रोजगार सृजन भी होगा। एम्स जैसाबेहतरीन चिकित्सा का केंद्र मिल जाने से इंसेफेलाइटिस सदा के लिए समाप्त हो जाएगा। मुख्यमंत्री ने शीघ्र ही रामगढताल क्षेत्र में विश्व स्तरीय वाटर स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स और नगर निगम के नए सदन भवन का लोकार्पण किये जाने की भी जानकारी दी। साथ ही लोगों से अपील की कि नागरिक विकास कार्यक्रमों में भरपूर योगदान दें।

इस अवसर पर सांसद रविकिशन शुक्ल, महापौर सीताराम जायसवाल, विधायकगण डा. राधामोहन दास अग्रवाल, बिपिन सिंह, महेंद्रपाल सिंह, संत प्रसाद, श्रीमती संगीता यादव, शीतल पांडेय, जीडीए बोर्ड के सदस्य राधेश्याम श्रीवास्तव, दुर्गेश बजाज, पवन त्रिपाठी, भाजपा जिलाध्यक्ष युधिष्ठिर सिंह, महानगर अध्यक्ष राजेश गुप्ता, जिलाधिकारी विजय किरन आनंद, जीडीए उपाध्यक्ष प्रेमरंजन सिंह समेत कई अधिकारी आदि मौजूद रहे।

 

इन परियोजनाओं सीएम ने किया शिलान्यास

– ग्रीनवुड अपार्टमेंट-358.36 करोड़ रुपये

– गोरक्ष एन्क्लेव- 50.30 करोड़ रुपये

– राप्ती ग्रीन्स- 40.61 करोड़ रुपये

– नगर क्षेत्र के 12 स्कूल -62 लाख रुपये

– 32 गांवों में सड़क, नाली- 103.58 करोड़ रुपये

 

इन परियोजनाओं का किया लोकार्पण

– लेक व्यू आवास योजना – 85.52 करोड़ रुपये

– लोहिया एन्क्लेव प्रथम चरण – 140.66 करोड़ रुपये

– लोहिया एन्क्लेव द्वितीय चरण – 72.10 करोड़ रुपये

– अवस्थापना निधि के काम – 18 करोड़ रुपये

– 22 अन्य कार्य – 22 करोड़ रुपये

दृष्टिबाधित बच्चों में स्पेशल टैबलेट का किया वितरण

महंत दिग्विजयनाथ पार्क में आयोजित लोकार्पण एवं शिलान्यास कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दिव्यांग बच्चों को स्पेशल टैबलेट व अन्य उपकरण भी वितरित किए। गोरखपुर मंडल के 414 दृष्टिबाधित बच्चों को अनुकूलित टेबलेट प्रदान किया गया। साथ ही 100 दिव्यांगों को मोटराइज्ड ट्राइसाइकिल, 212 बच्चों को स्पेशल व्हील चेयर, 264 मानसिक मंदित बच्चों को एमआर किट, 316 बच्चों को श्रवण यंत्र, 55 को ब्रेल किट तथा 116 को मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के तहत लैपटॉप का भी वितरण किया गया। इन सभी योजनाओं के पांच से दस लाभार्थियोंं को सीएम योगी ने मंच पर अपने हाथों से टैबलेट, लैपटाप, श्रवण यंत्र, ब्रेल किट, एमआर किट प्रदान किए। इस दौरान उन्होंने बच्चों से उनकी शिक्षा के बारे में बेहद आत्मीयता से पूछा और उन्हें खूब आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया।

Related Post

up budget 2021

UP Budget 2021 : राज्य कर्मचारियों के महंगाई भत्ते (DA) को बढा सकती है योगी सरकार, जुलाई से DA मिलने की संभावना

Posted by - February 21, 2021 0
लखनऊ। कोरोना काल  में फ्रीज हुए राज्य कर्मचारियों के महंगाई भत्ते (DA) योगी सरकार जुलाई 2021 से बहाल कर सकती…
corona cases in india

यूपी में कोरोना के 103 नये मामले, तीन और की मौत लखनऊ में 17 मिले संक्रमित,

Posted by - February 14, 2021 0
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में अब सोमवार के साथ ही मंगलवार को भी फ्रंट लाइन वर्कर्स का वैक्सीनशन होगा। अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने रविवार को बताया कि अब तक 8.9 लाख स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंट लाइन कर्मियों को कोविड वैक्सीनेशन लगाने का काम किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य कर्मियों के बाद फ्रंट लाइन कर्मियों को टीके लगाये जा रहे हैं। इसी क्रम में 15 और 16 फरवरी को वैक्सीन के लिए चिन्हित लोगों को दो दिन पहले ही सूचित करने के निर्देश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा दिये गये हैं, जिससे कि संबंधित कर्मी समय से पहुंचकर वैक्सीन की डोज लगवा सके। इसी बीच प्रदेश में रविवार को कोरोना के 103 नये मामले सामने आये हैं, जबकि तीन और की मौत हो गयी है। इसी तरह राजधानी लखनऊ में भी 17 और पीड़ित मिले हैं और एक मरीज की मौत हो गयी है। मौजूदा समय में प्रदेश में संक्रमण अब स्थिति लगभग पूरी तरह से नियंत्रण में है। जहां एक तरफ रोज होने वाली मौतों की संख्या में भरी कमी हुई है, वहीँ दूसरी तरफ एक्टिव केसेस का नंबर भी कम हो रहा है। वैसे प्रदेश में अब तक कुल 6,02,190 संक्रमित मिल चुके हैं। इसके साथ ही मरने वालों का आंकड़ा भी अब बढ़ कर 8,702 हो गया है। रविवार को मरने वालों में लखनऊ के अलावा मेरठ और लखीमपुर खीरी के 1-1 मरीज शामिल हैं। अपर मुख्य सचिव ने लोक भवन में प्रेस प्रतिनिधियों को बात करते हुए बताया कि प्रदेश में कोविड से रिकवरी का प्रतिशत अब 98 फीसदी से ज्यादा हो गया है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में 156 और अब तक 5,90,448 लोग कोविड-19 से ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। प्रदेश में सर्विलांस टीम के माध्यम से 1,85,179 क्षेत्रों में 5,11,270 टीम दिवस के माध्यम से 3,14,57,411 घरों के 15,27,66,050 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में शनिवार को एक दिन में कुल 1,21,440 सैम्पल की जांच की गयी। प्रदेश में अब तक कुल 2,95,61,480 सैम्पल की जांच की गयी है। सहगल ने बताया कि प्रदेश में सर्विलांस का नया प्रयोग कर हर परिवार तक पहुंच कर उनका हालचाल लेते हुए कोविड संक्रमण की जानकारी ली जा रही है। उन्होंने बताया कि अब तक 2.95 करोड़ से ज्यादा कोविड के टेस्ट और 15.27 करोड़ से ज्यादा व्यक्तियों से संपर्क कर कोविड संक्रमण की जानकारी ली गयी है। प्रदेश में कोरोना का संक्रमण कम हुआ है। मुख्यमंत्री के निर्देशन में प्रदेश सरकार के कोविड संक्रमण के प्रभावी नियंत्रण की कार्ययोजना कारगर सिद्ध हो रही है। प्रदेश में सर्विलांस, कांट्रैक्ट कांटेक्ट व एग्रेसिव टेस्टिंग से कोविड नियंत्रण में सफलता मिली है।
दिल्ली हिंसा

दिल्ली हिंसा मामला SC पहुंचा, वजाहत हबीबुल्लाह ने प्राथमिकी दर्ज कराने की मांग

Posted by - February 25, 2020 0
नई दिल्ली। दिल्ली में नागरिकता कानून CAA को लेकर हिंसक प्रदर्शन चल रहा है। इसके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराने की…