Dwarkadhish temple

विख्यात द्वारकाधीश मन्दिर के दर्शन के समय में हुआ बदलाव

81 0

उत्तर प्रदेश सरकार ने कोविड-19 के तहत जारी गाइड लाइन में छूट देने के साथ ही भारत विख्यात द्वारकाधीश मन्दिर (Dwarkadhish temple) में दर्शन का समय बदल दिया और कल 23 अगस्त से श्रद्धालु आठो झांकियों के दर्शन कर सकेंगे।

द्वारकाधीश मन्दिर के पट एक दिन में आठ बार खुलते हैं । इन्हें झांकी कहा जाता है। मन्दिर आनेवाले श्रद्धालु इन्ही झांकियों के समय के अनुसार मन्दिर पहुंचते है तथा ठाकुर जी के दर्शन कर स्वयं को धन्य करते हैं।

मन्दिर के जन संपर्क एवं विधि अधिकारी राकेश तिवारी ने बताया कि प्रदेश सरकार ने दिन का लाकडाउन पूरी तरह समाप्त करने के कारण मन्दिर के गोस्वामी ब्रजेश कुमार की अनुमति से दर्शन के पुराने समय को फिर से चालू कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि झांकियों का समय श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए बढ़ाया गया है लेकिन मन्दिर में प्रवेश में कोरोना नियम उसी प्रकार लागू होंगे तथा बिना मास्क पहने श्रद्धालु को मन्दिर में प्रवेश नहीं मिलेगा तथा प्रत्येक श्रद्धालु को सामाजिक दूरी बनाए रखना आवश्यक होगा।

उन्होंने बताया कि प्रातःकालीन सत्र में पहली झांकी मंगला की सुबह साढ़े छह से सात बजे तक होगी। इसके बाद 7 बजकर 40 मिनट से 7 बजकर 55 मिनट तक श्रंगार, 8 बजकर 25 मिनट से 8 बजकर 40 मिनट तक ग्वाल एवं 10 बजे से 11 बजे तक राजभोग के दर्शन होंगे। सायंकालीन सत्र में 4 बजे से 4 बजकर 20 मिनट तक उत्थापन के दर्शन होंगे। इसके बाद 4 बजकर 45 मिनट से 5 बजकर 5 मिनट तक भोग, 5 बजकर 20 मिनट से 5 बजकर 40 मिनट तक संध्या आरती तथा साढ़े 6 बजे से 7 बजे तक शयन के दर्शन होंगे।

Related Post