Mahapanchayat in Purola

पुरोला में महापंचायत की तो दर्ज होगा मुकदमा, धारा 144 लगाने की तैयारी

72 0

उत्तरकाशी। पुराेला में बीती 28 मई को नाबालिग किशोरी को भगा ले जाने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। इसको लेकर देवभूमि का माहौल गरमाता जा रहा है। इसको लेकर जहां भाजपा अल्पसंख्यक के अलग-अलग विभागों के प्रमुखों ने मुख्यमंत्री धामी (CM Dhami) से मुलाकात कर उन्हें पत्र देकर अपनी चिंता से अवगत कराया वहीं मुख्यमंत्री ने इसको लेकर जिला प्रशासन और पुलिस को सख्त निर्देश दिए हैं। इस बाबत पुलिस अधीक्षक ने कहा कि अगर महापंचायत (Mahapanchayat) की गई तो मुकदमा दर्ज किया जाएगा। धारा 144 लगाने की भी पूरी तैयारी कर ली गई है।

राज्य बनने से लेकर मौजूदा 23 साल के इतिहास में यह पहला मौका है जब सांप्रदायिकता की आग की तपिश उत्तरकाशी का पुरोला महसूस कर रहा है। ऐसे में राज्य को जहां अमन और शांति की फिजाओं में नफरत के जहर घुलने का डर सता रहा है तो वहीं राज्य सरकार भी मौजूदा सूरत हाल से चिंतित नजर आ रही है, लिहाजा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी (CM Dhami)  भी इसमें कोई ढील देने के मूड में नहीं है। उन्होंने असामाजिक तत्वों और विवादित लोगों पर सख्त कार्रवाई के निर्देश दे दिए हैं। भाजपा अल्पसंख्यक के अलग-अलग विभागों के प्रमुखों ने मुख्यमंत्री धामी से मुलाकात कर अपनी चिंता से अवगत कराया है।

पुरोला : महापंचायत की तो दर्ज होगा मुकदमा, धारा 144 लगाने की तैयारी..

गौरतलब है कि ग्रामीणों की चेतावनी के बाद धरना-प्रदर्शन और लोगों के आक्रोश देखते हुए पुरोला मुख्य बाजार से मुस्लिम समुदाय के 12 दुकानदार रातों रात अपनी दुकानें छोड़कर भाग चुके हैं। आगामी 15 जून को महापंचायत (Mahapanchayat) का ऐलान करने के बाद इसकी अगुवाई को लेकर जहां प्रधान संगठन पुरोला बैकफुट पर आ गया है वहीं अब ब्लॉक प्रधान संगठन के अध्यक्ष अंकित रावत ने आज मंगलवार को एसडीएम को दिए ज्ञापन में कहा कि प्रधान संगठन महापंचायत (Mahapanchayat) को लेकर किसी प्रकार की अगुवाई नहीं करेगा।

मुख्यमंत्री धामी से मिले जीओसी लेफ्टिनेंट जनरल सुब्रमणि

प्रधान संगठन पुरोला के 15 जून को महापंचायत (Mahapanchayat) की अगुवाई के ऐलान करने के बाद से प्रदेश में माहौल गरमा गया था, लेकिन अब जिला प्रशासन ने महापंचायत करने की अनुमति देने से इनकार कर दिया है। एसपी अर्पण यदुवंशी ने कहा कि अगर आवश्यकता पड़ी तो धारा 144 लागू की जायेगी। इसकी पूरी तैयारी कर ली गई है। ब्लॉक प्रधान संगठन के अध्यक्ष ने कहा कि क्षेत्रीय हित में वह जनता के साथ हैं। साथ ही महापंचायत में अगर कोई कानून का उल्लंघन होता है तो उसमें उनकी कोई जिम्मेदारी नहीं रहेगी। प्रधान संगठन का अभद्रता करने वालों से भी कोई नाता नहीं रहेगा। कानून का उल्लंघन करने वाले की स्वयं की जिम्मेदारी होगी।

महापंचायत की तो मुकदमा दर्ज होगा : एसपी

विश्व हिन्दू परिषद ने पुरोला में महापंचायत (Mahapanchayat) की सूचना ज्ञापन के माध्यम से प्रशासन को दी है। जिला मुख्यालय में भी विश्व हिन्दू परिषद के नेताओं के आने की संभावना है। इसको लेकर पुलिस और प्रशासन ने कमर कस ली है। एसपी अर्पण यदुवंशी ने कहा कि महापंचायत को लेकर किसी भी संगठन को अनुमति नहीं दी जायेगी। यदि आवश्यकता हुई तो धारा 144 लागू की जाएगी।

Related Post

सेवानिवृत्त महिला स्वास्थ्य कर्मी की घर में हत्या

कानपुर में दिनदहाड़े सेवानिवृत्त महिला स्वास्थ्य कर्मी की घर में हत्या

Posted by - December 1, 2019 0
कानपुर। कल्याणपुर थाना क्षेत्र में रविवार को दिनदहाड़े सेवानिवृत्त महिला स्वास्थ्य कर्मी की हत्या हो गई है। इससे इलाके में…
Chandrashekhar Upadhyay

हाईकोर्ट की सीढ़ियों पर हिन्दी की पहली ‘पदचाप’ का दिन है 12 अक्टूबर

Posted by - October 12, 2023 0
देहारादून। 12 अक्टूबर, 2004 को   देश के सबसे कम आयु के एडीशनल एडवोकेट जनरल चन्द्रशेखर पण्डित भुवनेश्वर दयाल उपाध्याय…