Corona cases

संक्रमित का शव लेकर घूमते रहे परिजन और 11 घंटे घर में भी रखा

380 0

कानपुर । जिले के चकेरी गांधीग्राम में रविवार को कोरोना संक्रमित की मौत (carelessness in corona cases in kanpur) के बाद 11 घंटे तक शव उसके घर पर ही रखा रहा। सूचना के बाद भी स्वास्थ्य विभाग की टीम नहीं पहुंची। परिजनों ने साढ़े पांच हजार रुपये में निजी एंबुलेंस बुलवाई। तब सिद्धनाथ घाट पर कोरोना प्रोटोकॉल के तहत अंतिम संस्कार किया गया।

गांधीग्राम निवासी युवक (36) गाजियाबाद में एक प्राइवेट कंपनी में काम करता था। परिजनों के अनुसार चार अप्रैल को वह घर आया था। तेज बुखार आने पर छह अप्रैल को प्राइवेट लैब से जांच कराई। रविवार सुबह रिपोर्ट पॉजिटिव आई। सुबह नौ बजे उसे निजी अस्पताल लेकर पहुंचे।

यहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसके बाद परिजन शव लेकर घर आए और मौत की सूचना स्वास्थ्य विभाग को दी। सुबह से लेकर शाम तक स्वास्थ्य विभाग की टीम नहीं पहुंची। परिजन के अंदर शव रखकर खुद बाहर बैठे रहे। पार्षद पति मनोज यादव ने बताया कि रात करीब आठ बजे प्राइवेट एंबुलेंस बुलवाकर शव ले जाया गया।

Related Post

अखिलेश बोले- 400 सीट जीतेंगे, भाजपा नेता ने पूछा 3 क्यों छोड़ दिए

Posted by - August 6, 2021 0
उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर सभी राजनीतिक दल सक्रिय हो गए हैं, राजनीतिक पार्टियों ने यूपी की सियासी सरगर्मी…