कैप्टन अमरिंदर ने नई पार्टी बनाने का किया ऐलान, कहा- जल्द बताएंगे नाम

90 0

चंडीगढ़। पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बुधवार को बड़ा ऐलान कर दिया है। अमरिंदर सिंह ने कहा कि वह एक नई पार्टी बनाने जा रहे हैं लेकिन उसका नाम अभी तक तय नहीं हो पाया है। जल्द ही उसका नाम बताया जाएगा। पंजाब के पूर्व सीएम  ने कहा कि हमारे वकील चुनाव आयोग के साथ इस पर काम कर रहे हैं। जैसे ही नाम तय हो जाएगा हम आपको बता देंगे। प्रेस कॉन्फ्रेंस में अमरिंदर सिंह ने सबसे पहले अपने कार्यकाल में हुए कामों की जानकारी दी।

जो वादे किए वे पूरे किए- कैप्टन

चंडीगढ़ में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में पूर्व सीएम ने कहा कि उन्होंने जो वादे किए वे पूरे किए। बीएसएफ के अधिकार क्षेत्र बढ़ाने के फैसले को सही ठहराते हुए कैप्टन ने कहा कि पंजाब की सुरक्षा उनके लिए सबसे अहम है। पंजाब ने आतंकवाद देखा है। हालांकि, अभी अमरिंदर सिंह ने यह साफ नहीं किया है कि वह पंजाब चुनाव 2022 में बीजेपी या किसी और दल संग गठबंधन करेंगे या नहीं।

पंजाब की सुरक्षा मेरे लिए काफी अहम

उन्होंने कहा कि पंजाब की सुरक्षा को लेकर किसी तरह का कोई समझौता नहीं किया जाएगा। अमरिंदर सिंह ने कहा कि पंजाब को बहुत कुछ सहना पड़ा है। मैंने एक सैनिक की तरह काम किया है और हमेशा योद्धा की तरह लड़ाई लड़ी है। पंजाब की सुरक्षा मेरे लिए काफी अहम है। अमरिंदर सिंह ने आगे कहा कि मैं इस बात का पूरा हिसाब किताब दूंगा कि कितना खर्च किया है।  उन्होंने कहा कि पंजाब पुलिस फर्स्ट क्लास फोर्स है।

अमरिंदर सिंह ने कहा कि मार्च तक इस पर काम पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि खड़गे कमेटी ने हमें बुलाया था, लेकिन मैंने उनसे कहा कि किसी तरह की कोई समस्या नहीं है। इसके साथ ही, उन्हें 18 प्वाइंट्स दिखाए, जिन पर काम हुआ है। कई जिलों और स्कीमों पर हुए खर्च का उन्हें ब्यौरा दिया।

नवजोत सिंह सिद्धू पर हमला

अमरिंदर सिंह ने नवजोत सिंह सिद्धू को भी घेरा। वह बोले कि मेरे समर्थकों को लोग धमका रहे हैं। हम वहां से चुनाव लड़ेंगे जहां से सिद्धू खड़े होंगे। अमरिंदर ने दावा किया कि सिद्धू के प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद कांग्रेस की लोकप्रियता 25 फीसदी घटी है।

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कैप्टन अमरिंदर सिंह से नवजोत सिद्धू के उन पर किए ट्वीट के बारे में सवाल किया गया। इस पर कैप्टन ने कहा कि वह कुछ नहीं जानते। वह बहुत ज्यादा बोलते हैं, उसके पास दिमाग नहीं है। मैंने इस पर कभी अमित शाह या ढींढसा से बात नहीं की, लेकिन मैं करूंगा। मैं कांग्रेस, शिअद और आप से लड़ने के लिए मजबूत होना चाहता हूं। मैं उनसे बात करूंगा, हम इन्हें हराने के लिए संयुक्त मोर्चा बनाएंगे।

बता दें कि कैप्टन के करीबी सांसद जसबीर सिंह डिंपा ने ट्वीट किया था, जिसमें उन्होंने संकेत दिए थे कि कैप्टन की नई पार्टी के नाम में कांग्रेस का नाम शामिल होगा। जिस प्रकार ममता बनर्जी ने तृणमूल कांग्रेस और शरद पवार ने नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी बनाई है, उसी प्रकार से कैप्टन भी अपनी पार्टी के नाम में कांग्रेस शब्द को शामिल करेंगे। बताया जा रहा है कि नई पार्टी के गठन के मौके पर 10 से अधिक कांग्रेस के विधायक भी कैप्टन के साथ मंच साझा करेंगे, जिसमें उनकी पत्नी सांसद परनीत कौर भी शामिल हो सकती हैं।

इससे पहले पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने एक ट्वीट किया कि अब पटियाला और अन्य स्थानों पर मेरे समर्थकों को धमकाने और परेशान करने का सहारा लिया जा रहा है। मैं अपने विरोधियों से कहना चाहता हूं कि वे मुझे इतने निचले स्तर के राजनीतिक खेल से नहीं हरा सकते। इस तरह के कदमों से न तो वोट जीत पाएंगे और न ही लोगों का दिल। उन्होंने कहा है कि वह इस तरह की हरकतों से नहीं डरते।

Related Post

इन महिलाओं ने अपने क्षेत्र में कमाया नाम, स्त्री पुरूष के भेद को मिटाने में की कड़ी मेहनत

Posted by - July 6, 2019 0
लखनऊ डेस्क। इतिहास उन महिलाओं से भरा है जिन्होंने अपने अधिकार के लिए स्त्री पुरूष के भेद को मिटाने में…